डेंगू और मलेरिया की बीमारी तेजी से देश भर में बढ़ रही है। दोनों ही बीमारियों में मरीज की हालत इतनी ज्यादा खराब हो जाती है कि पूरा शरीर ही कमजोर पड़ जाता है। डेंगू और मलेरिया ऐसे संक्रमण हैं, जिनमें भूख-प्यास  सब मिट जाती है। शरीर की इम्यूनिटी इतनी वीक हो जाती है कि एक-एक जोड़ और हड्डी में दर्द होने लगता है, इस पर से तेज बुखार और लगातार उल्टी होने से बची कुची एलर्जी भी खत्म हो जाती है। 

ऐसे में इन बीमारियों से रिकवर होने के लिए बहुत जरूरी है कि आप डाइट में अच्छी और ऐसी चीजों को शामिल करें, जो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही आपकी भूख-प्यास कम लगने की समस्या में सुधार करे और शरीर के दर्द एवं थकान को कम करे। 

फेमस सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर एक पोस्ट के जरिए बताया है कि डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारी से उबरने के लिए किन चीजों को अपने आहार में जरूर शामिल करना चाहिए और इसके फायदे क्या होंगे। 

इसे जरूर पढ़ें- मानसून में डेंगू से निपटने के लिए ये नेचुरल उपाय अपनाएं, रहेंगे रोगमुक्त

remedies  to  recover  from  dengue

 गुलकंद 

रोज सुबह उठने के तुरंत बाद खाली पेट गुलकंद जरूर खाएं। यदि आप इसे सुबह खाली पेट नहीं खा सकते हैं तो आपको अपनी मील्‍स के बीच में इसे शामिल करना चाहिए। आपको बता दें कि गुलकंद गुलाब की पंखुड़ियों का मुरब्बा होता है। यह मुहं के स्‍वाद को तो अच्‍छा करता ही है, साथ ही सेहत से जुड़े इसके विभिन्‍न फायदे हैं। रुजुता अपनी पोस्‍ट में बताती हैं, '1 छोटा चम्‍मच गुलकंद खाने से अपको पेट में गैस बनने की समस्‍या में राहत मिलेगी। यदि आपको बहुत अधिक थकान महसूस हो रही है, तो वह भी इसे खाने से दूर हो जाएगी।' बाजार में आपको गुलकंद आसानी से मिल जाएगा, मगर आप यदि घर पर इसे बनाना चाहती हैं तो गुलकंद की रेसिपी (गुलकंद के फायदे जानें) पढ़ें- 

सामग्री 

  • 250 ग्राम गुलाब की पंखुड़ियां
  • 250 ग्राम चीनी 
  • 1 छोटा चम्‍मच इलायची 
  • 1/2 छोटा चम्‍मच सौंफ 

विधि 

  • गुलाब की पंखुड़ियां पानी से साफ करें और उन्‍हें सुखा लें। 
  • फिर गुलाब की पंखुड़ियों को एक बड़े बर्तन में डालें और उसमें चीनी मिक्‍स करें। 
  • अब आपको पिसी हुई इलायची और सौंफ इस मिश्रण में डालनी है। 
  • इसके बाद इस मिश्रण को एक कॉटन के कपड़े से ढक कर 10 दिनों तक धूप दिखाएं। 
  • आपको हर दिन इस मिश्रण को थोड़ा सा हिलाना होगा। 
  • जब गुलाब की पंखुड़ियां पूरी तरह से गल जाएं, तो समझ जाएं कि गुलकंद तैयार हो चुका है। 

दूध में इन चीजों को मिक्स करके पीएं 

डेंगू और मलेरिया की बीमारी से उबरने के लिए आपको रोजाना दूध पीना चाहिए, मगर दूध में कुछ सामग्री भी मिलानी चाहिए, जो शरीर में मौजूद इंफ्लामेशन को दूर करेगी। 

सामग्री 

  • 1 ग्‍लास दूध 
  • 1 ग्‍लास पानी 
  • 1 चुटकी हल्दी 
  • 2-3 थ्रेड केसर 
  • 1 चुटकी नटमेग पाउडर 

विधि 

इन सभी सामग्रियों को मिक्‍स करें और उबाल लें। उबालने के बाद यदि आप दूध को मीठा करना चाहते हैं, तो थोड़ा सा गुड़ मिला लें। आप इसे ठंडा या गर्म कैसे भी पी सकते हैं। 

राइस कांजी 

यह चावल का सूप जैसा नजर आता है। इसमें अगर आप काला नमक, हींग और घी मिक्स करके पीते हैं, तो शरीर हाइड्रेट रहता है और शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी नहीं होती है। इतना ही नहीं, अगर आपको डेंगू और मलेरिया की वजह से भूख लगना बंद हो गई है, तो चावल की कांजी पीने से उसमें भी सुधार नजर आएगा। 

rujuta diwekar  remedies  to  recover  from  dengue  and  malaria

खूब पानी पीएं 

इन दोनों ही बीमारियों के दौरान शरीर में पानी की कमी हो जाती है क्योंकि मरीज को बराबर उल्टियां होती रहती हैं। ऐसे में पानी की उचित मात्रा शरीर में पहुंचना जरूरी हो जाता है। मगर आपको इस अवस्था में तेजी से पानी गटकने की जगह धीरे-धीरे सिप करते हुए पानी पीना चाहिए, साथ ही आपको अपनी यूरिन भी चेक करते रहना चाहिए कि कहीं उसका रंग तो नहीं बदल गया है।  

सुप्त बद्धकोणासन 

अगर आपको शरीर में किसी भी प्रकार का दर्द महसूस हो रहा है, तो उसमें राहत पाने के लिए आप सुप्त बद्धकोणासन कर सकते हैं। इसे करने की विधि इस प्रकार है- 

  • सबसे पहले सीधे लेट जाएं। 
  • अब आपको अपने दोनों पैर के पंजों को आपस में जोड़ना है। 
  • इसके साथ ही अपने दोनों हाथों को 180 डिग्री के एंगल पर सीधा कर लें। 
  • 1 मिनट तक इस आसन में रहें फिर पैर और हाथ दोनों को सीधा कर लें। 
  • ऐसा कम से कम 5 बार करें। 

Recommended Video

नोट- एक्सपर्ट द्वारा दी गई टिप्‍स आपको इन बीमारियों से रिकवर होने में बेशक मदद करेंगी, मगर आपको अपने डॉक्टर से एक बार परामर्श जरूर करना चाहिए। 

यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।  

 

Image Credit: Freepik

Story Source: Rujuta Diwekar/ Instagram