चकोतरा एक बड़ा एशियाई साइट्रस फल है जो स्वाद में खट्टा होने के साथ स्वाद से भी भरपूर होता है। यह नीम्बू की ही तरह बड़े आकार का खट्टा फल होता है जो कई पोषक तत्वों से भरपूर होने के साथ अपने बेहद खट्टे स्वाद की वजह से जाना जाता है। इसका छिलका नीम्बू से मोटा और हरे, पीले रंग का होता है। यह काफी बड़े आकार तक बढ़ता है। आइए नई दिल्ली की जानी मानी डॉक्टर आकांक्षा अग्रवाल (BHMS) से जानें चकोतरा फल के सेहत से जुड़े कुछ फायदों के बारे में जिन्हें सुनकर आप भी इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करेंगी। 

पोषक तत्वों से भरपूर 

health benefits chakotra

चकोतरा में कई विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सिडेंट तत्व मौजूद होते हैं, जो इसे आपके आहार के लिए एक पोषक सामग्री के रूप में प्रस्तुत करते हैं। यह एक शक्तिशाली प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाला खट्टा फल है जो मुक्त कणों के हानिकारक यौगिकों से सेलुलर क्षति को रोकने में मदद करता है। चकोतरा पोटेशियम सहित अन्य विटामिन और खनिजों में भी समृद्ध है, जो द्रव संतुलन और रक्तचाप को विनियमित करने में मदद करता है।

वजन कम करता है

weight loss chakotra

एक रिसर्च के अनुसार चकोतरा वजन कम करने में मदद करता है। चकोतरा को अपनी डाइट में शामिल करने से काफी हद तक वजह नियंत्रित किया जा सकता है। इस खट्टे फल ऐसे  यौगिक होते हैं, जो इंसुलिन के स्तर को कम करते हैं और बदले में वजन घटाने को बढ़ावा देते हैं। चकोतरा को एक सक्रिय वसा बर्नर के रूप में पेश किया जाता है। 

हड्डियों को मजबूत बनाए 

healthy bones

एक रिसर्च के अनुसार इस फल को ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। उम्र बढ़ने के साथ कमजोर हड्डियों और हड्डियों के टूटने के खतरे को कम करता है। इसे डाइट में शामिल करके हड्डियों से संबंधित बीमारियों के खतरे को कम किया जा सकता है। 

Recommended Video

फाइबर से भरपूर 

एक चकोतरा में 6 ग्राम फाइबर सामग्री मौजूद होती है। अधिकांश लोगों को प्रति दिन कम से कम 25 ग्राम फाइबर प्राप्त करने का लक्ष्य रखना चाहिए, इसलिए यह फल उच्च फाइबर सामग्री के कारण आपकी आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करने का एक शानदार तरीका है। यह विशेष रूप से अघुलनशील फाइबर में समृद्ध है, जो आपके मल त्याग की प्रक्रिया को आसान बनाने और कब्ज को ठीक करने में मदद करता है।

दिल को स्वस्थ रखे 

healthy heart chakotra

चकोतरा खाने से इस्केमिक (रक्त का थक्का-संबंधी) स्ट्रोक और इंट्रासेरेब्रल स्ट्रोक का खतरा कम हो सकता है। एक रिसर्च में पाया गया कि जिन महिलाओं ने अधिक मात्रा में चकोतरा खाया, उनमें उन महिलाओं की तुलना में 19% कम जोखिम था, जिन्होंने कम से कम मात्रा में इसका सेवन किया था। इस प्रकार चकोतरा का सेवन दिल को स्वस्थ रखने में भी लाभकारी है जो ह्रदय सम्बन्धी समस्याओं से निजात दिलाता है।  

इसे जरूर पढ़ें:जानें फालसा के सेहत से जुड़े कुछ ऐसे फायदे जो आपने पहले नहीं सुने होंगे

इसके अलावा यह फल हड्डियों के घनत्व में सुधार, लंबे समय तक वजन के रखरखाव, बेहतर आंत और मस्तिष्क के स्वास्थ्य और कुछ पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद करता है। इसलिए इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करें, लेकिन स्वास्थ्य संबंधी कोई अन्य समस्या होने पर इसके सेवन से  पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:free pik