• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

वेजाइना की बदबू, डिस्चार्ज और अन्य समस्याओं के लिए बेस्ट होंगे ये फूड्स

वेजाइनल इन्फेक्शन, वेजाइनल ड्राइनेस, वेजाइनल इचिंग जैसी बहुत सारी समस्याएं होती हैं जो काफी हद तक डाइट के जरिए कंट्रोल की जा सकती हैं।   
author-profile
Published -13 Apr 2022, 18:09 ISTUpdated -13 Apr 2022, 18:21 IST
Next
Article
how to take care of vaginal health

वेजाइना हमारे शरीर के सबसे जरूरी अंगों में से एक है और इसकी हेल्थ अगर सही न हो तो कई सारी समस्याएं हो सकती हैं। वेजाइनल हेल्थ आपके शरीर की पूरी हेल्थ के लिए जरूरी होती है और वेजाइनल इशूज के कारण सेक्शुअल डिजायर, फर्टिलिटी, ऑर्गेज्म पर असर पड़ता है और यूटीआई, कमजोरी, सिस्ट आदि कई समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए ये जरूरी है कि आप अपनी वेजाइनल हेल्थ का ख्याल बहुत अच्छे से रखें। 

वेजाइनल हेल्थ बनाए रखने के लिए न सिर्फ अच्छी हाइजीन जरूरी है बल्कि ये भी बहुत जरूरी है कि आप अपनी डाइट में सही फूड्स शामिल करें। अगर आपकी डाइट परफेक्ट नहीं होगी तो इसका असर भी वेजाइना पर दिखेगा। 

ये जानने के लिए हमने दिल्ली स्थित प्राइम आईवीएफ में डिपार्टमेंट ऑफ इनफर्टिलिटी और आईवीएफ की डायरेक्टर डॉक्टर निशी सिंह से बात की। डॉक्टर निशी ने बताया कि वेजाइना खुद को प्रोटेक्ट करने में परफेक्ट होती है, लेकिन अच्छी हाइजीन के साथ सेल्फ केयर भी बहुत जरूरी है। वेजाइना का पीएच बैलेंस बनाए रखने के लिए फूड भी काफी असर करता है और गुड बैक्टीरिया बढ़े इसके लिए कई तरह से फूड्स आपके काम में आ सकते हैं। 

तो कौन से फूड्स आपकी वेजाइनल हेल्थ को प्रमोट करने के लिए अच्छे हैं? इसकी लिस्ट डॉक्टर निशी ने हमें बताई है। 

diet for vaginal health

इसे जरूर पढ़ें- अगर वेजाइना से हो रहा है इस तरह का डिस्चार्ज तो रहें सावधान 

प्रोबायोटिक्स

प्रोबायोटिक्स एक ब्लेसिंग की तरह होते हैं जो आपकी समस्या को काफी कम कर सकते हैं। ये न सिर्फ आंतों को बेहतर बनाते हैं बल्कि ये आपकी वेजाइनल हेल्थ के लिए भी अच्छे होते हैं। वेजाइनल पीएच लेवल को बेहतर करने के लिए और शरीर में गुड बैक्टीरिया को बढ़ाने के लिए प्रोबायोटिक्स काफी मददगार साबित होंगे। ये वेजाइनल यीस्ट इन्फेक्शन को रोक भी सकते हैं। प्रोबायोटिक्स और फर्मेंटेड फूड्स वैजिनाइटिस जैसी समस्या से भी बचा सकते हैं। ये डाइजेस्टिव और इम्यूनिटी सिस्टम की हेल्थ को सही रखने में मदद करते हैं। 

क्रैनबेरीज

100 प्रतिशत क्रैनबेरी जूस या फिर क्रैनबेरी खाना दोनों ही आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है। अगर किसी को यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन की समस्या होती है तो अपनी डाइट में क्रेनबेरी शामिल करिए। हालांकि, अगर आप जूस ट्राई करती हैं तो सिर्फ क्रेनबेरी जूस ही पिएं, बाजार में मिलने वाला शुगर और प्रिजर्वेटिव्स वाला जूस सही नहीं होगा। क्रैनबेरी एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती हैं और इसमें इन्फेक्शन से लड़ने की क्षमता पैदा करने वाला एसिडिक कम्पाउंड होता है। ये कम्पाउंड उस बैक्टीरिया से लड़ने में सक्षम होता है जो ब्लैडर की दीवार पर मौजूद होता है। ये विटामिन-सी से भरपूर होती हैं और इनमें इम्यूनिटी को बूस्ट करने की क्षमता होती है। 

diet cranberries and vaginal health

प्लांट फैटी एसिड्स

ओमेगा-3 फैटी एसिड आपकी डाइट में होना चाहिए जो न सिर्फ ब्लड सर्कुलेशन और ब्लड फ्लो को बेहतर करता है बल्कि ये आपकी सेक्स ड्राइव को बेहतर कर सकता है। ये प्लांट बेस्ड होना चाहिए और जो अनसैचुरेटेड फैट्स आप अपनी डाइट में शामिल करते हैं उससे वेजाइनल ड्राइनेस कम हो सकती है और पोस्ट मेनोपॉज महिलाओं के लिए भी ये अच्छा होता है। मेंस्ट्रुअल क्रैम्प्स की समस्या अगर आपको होती है तो एनिमल बेस्ड फैटी एसिड्स जैसे सैल्मन, अंडे आदि खाए जा सकते हैं। इसके अलावा, अलसी के बीज, अखरोट आदि मददगार साबित हो सकते हैं। 

लहसुन

लहसुन खाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है और ये आपके बायोलॉजिकल फ्रेमवर्क को बेहतर बनाता है। खासतौर पर ये आपकी वेजाइना में गुड बैक्टीरिया को बढ़ा सकता है और साथ ही साथ एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल प्रॉपर्टीज के कारण ये एक तरह से प्रीबायोटिक फूड भी माना जा सकता है। ये आपकी वेजाइना के पीएच लेवल को बेहतर बनाता है। इसलिए ये जरूरी है कि आप अपनी डाइट में लहसुन को जरूर एड करें।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- Myths And Facts: सच नहीं हैं वेजाइना से जुड़ी ये 5 बातें  

soya and vaginal health

सोया 

फाइटोएस्ट्रोजेन (phytoestrogens) एक तरह का कम्पाउंड होता है जो आपके शरीर में एस्ट्रोजन की तरह ही एक्टिंग करता है। ऐसे में प्लांट बेस्ड फाइटोएस्ट्रोजेन का एक अच्छा सोर्स है सोया। सोयाबीन को आप अपनी डाइट में अलग-अलग तरह से शामिल कर सकते हैं। ये स्किन और ब्लड वेसल्स की हेल्थ को बेहतर बनाता है। मेनोपॉज के बाद वेजाइनल हेल्थ को बरकरार रखने के लिए भी सोया अच्छा होता है। इसे अपनी डाइट में रेगुलर तौर पर शामिल करने से सेक्शुअल लाइफ भी बेहतर हो सकती है।  

ऐसे में ये सारी चीज़ें आप अपनी डाइट में शामिल करें। हालांकि, ये हो सकता है कि आपकी डाइट में किसी खास तरह की चीज़ सूट न करे। इसलिए ये जरूरी है कि आप अपनी डाइट में थोड़ा सा बदलाव करने के लिए डॉक्टर की सलाह जरूर लें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।