ऐसी कौन सी पहली चीजें हैं जो हर डॉक्टर लगभग हर बार चेक करता है? वह हमारी चेस्‍ट पर स्टेथोस्कोप लगाकर हार्ट बीट को चेक करता है कि वह ठीक है या नहीं, फिर वह बीमारी के आधार पर हमारी जीभ, नाखूनों और आंखों को चेक करता है। जिस तरह एक हेल्‍दी हार्ट रेट, नाखून और आंखें अच्छी हेल्‍थ के संकेत हैं, उसी तरह जीभ पर सफेद परत जमा होने से खाने का स्वाद तो खराब लगता ही है साथ ही हम शरीर के अंदर होने वाली समस्‍याओं के बारे में पता लगा सकते हैं। 

मसूड़ों की बीमारियों, दांतों की समस्याओं और बदबू से दूर रहने के लिए नियमित रूप से अपनी जीभ को साफ करना चाहिए। जी हां खाने के स्वाद का एहसास करवाने वाली जीभ को रोजाना साफ रखना हाइज़ीन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसलिए आज हम आपको जीभ पर जमी सफेद परत से छुटकारा पाने के 8 तरीके बता रहे हैं। 

लहसुन

garlic for white tongue inside

आप सोच रही होंगी कि मैं मजाक कर रही हूं, है ना? मुझे पता है कि मुंह से दुर्गंध आने का कारण लहसुन बताया जाता है। लेकिन यह समय है कि हम उन सदियों पुरानी मानसिकता को तोड़ दें और इस तथ्य को स्वीकार करें कि कच्चा लहसुन खाना खराब बैक्टीरिया को मारने का एक शानदार तरीका होता है। यह जीभ को साफ करनेमें भी मदद करता है।

इसे जरूर पढ़ें:ओरल हाईजीन के लिए रोज करें टंग स्क्रैपिंग, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे

जड़ी-बूटियों और नमक का इस्‍तेमाल करें

जड़ी-बूटियों और नमक से बने डिसइन्फेक्टेंट माउथ वाश का उपयोग करें। जड़ी-बूटियों को औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है और विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए सालों से इसका उपयोग किया जा रहा है। कैमोमाइल और मिंट जैसे जड़ी बूटियों का उपयोग जीभ को डिटॉक्सिफाई करने के लिए किया जा सकता है। कैमोमाइल, मिंट और ओक छाल का एक बड़ा चम्‍मच उबालें। एक बार जब यह ठंडा हो जाए तो समुद्री नमक का एक बड़ा चम्‍मच मिलाएं और इसे माउथवॉश के रूप में इस्‍तेमाल करें। यह माउथवॉश नेचुरल, असरदार और बनाने में आसान है।

एलोवेरा जैल

aloe vera for white tongue inside

एलोवेरा जैल एंटी-इंफ्लेमेटरी और सूदिंग गुणों से भरपूर होता है। इसे इस्‍तेमाल करने के लिए एलोवेरा से सिर्फ एक बड़ा चम्मच रस निकालें, इसे अपने मुंह में रखें और थोड़ी देर के लिए इसे घुमाएं। यह एक्‍सरसाइज मसूड़ों में और जीभ पर जमा बैक्‍टीरिया को मार देगी। सुनिश्चित करें कि आप 1 गिलास गर्म पानी के साथ अपना मुंह कुल्ला करें और इस दिनचर्या को एक दिन में कई बार दोहराएं।

टूथब्रश और स्क्रब

जीभ को साफ करने के लिए ब्रश बहुत अच्छी तरह से काम करता है। बेस से दाएं सिरे तक जीभ को धीरे से ब्रश करके, कोई भी जीभ को अच्छी तरह से साफ कर सकता है। इसके लिए आप रेगुलर ब्रश का उपयोग कर सकती हैं या एक विशेष ब्रश का उपयोग भी कर सकती हैं।

नमक

salt for white tongueinside

जीभ की सफाई के लिए नमक सबसे अच्छी चीजों में से एक है। दानेदार नमक की बनावट जीभ पर जमा गंदगी और डेड सेल्‍स को आसानी से हटा सकती है। जीभ पर कुछ नमक रगड़ना और टूथब्रश का उपयोग करके ब्रश करना सबसे अच्छा होता है। इसके बाद पानी से कुल्ला करना चाहिए और इस दिनचर्या को दिन में कम से कम दो बार दोहराना चाहिए।

Recommended Video

 

स्‍मोकिंग से बचें

सिगरेट पीने से जीभ के टिशू को नुकसान हो सकता है। नुकसान ऐसा होता है जिससे डेड सेल्‍स जमा होने लगते हैं और बैक्टीरिया को पनपने के लिए उपयुक्त वातावरण मिल जाता है, जिससे उन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है जो दुर्भाग्य से किसी की जीभ तक सीमित नहीं रह सकती हैं। स्‍मोकिंग रोमांचकारी हो सकता है, लेकिन यह निश्चित रूप से आपको मार रहा है, इसलिए इस तरफ ध्‍यान दें।

हल्दी

turmeric for white tongue inside

हल्दी एक मसाले से बहुत अधिक होती है। यह एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होती है। अच्‍छा रिजल्‍ट पाने के लिए हल्दी से भरपूर एक चम्मच में लगभग आधा नींबू निचोड़ें और पेस्ट बनाएं। लगभग 2-3 मिनट के लिए अपनी जीभ पर इस पेस्ट को धीरे से रगड़ें और फिर गर्म पानी से अच्छी तरह से कुल्ला करें। हल्दी का उपयोग मुंह में किसी भी एंटीबायोटिक प्रोडक्‍ट्स का उपयोग करने से कहीं बेहतर है।

इसे जरूर पढ़ें:काली जुबान बदकिस्मती नहीं, बल्कि बीमारी का संकेत है

ओरल हाइजीन

बैक्टीरिया को दूर रखने के लिए अच्छी ओरल हाइजीन को बनाए रखना सबसे अच्छा तरीका है। ब्रश करना, फ्लॉस करना और जीभ साफ करना आवश्यक होता है। इसके अलावा हर भोजन के बाद कुल्ला करने की आदत बनाएं।

सामान्य हल्के गुलाबी रंग के अलावा जीभ का अन्‍य कोई रंग अच्छा संकेत नहीं है। जीभ पर जमी परत सिर्फ देखने में ही बुरी नहीं लगती है बल्कि यह अंतर्निहित हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स का भी संकेत हो सकती हैंं। अगर आपकी जीभ पर भी सफेद परत है तो आप अपनी ओरल हेल्‍थ को बनाए रखें और जीभ को डिटॉक्सीफाई करने के लिए ऊपर बताए गए किसी भी तरीके को अपनाएं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com