पीरियड्स महिलाओं के लाइफ का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं और यह एक नेचुरल प्रोसेस है। हर लड़की इस प्रोसेस के लिए सैनिटरी पैड का इस्‍तेमाल करती है। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि सैनिटरी पैड को खरीदना ही काफी नहीं होता है। इसे खरीदते हुए हमें बहुत सारी बातों का ख्‍याल रखना होता है, जैसे क्‍या ये पैड हेल्‍दी हैं? क्या ये कम्फर्टेबल है? क्या ये हाइजीनिक है? अगर इनमें से किसी सभी बात का जवाब ना हो तो आपको अपनी चॉइस पर एक बार फिर से विचार करना चाहिए। तो आइए जानते है कि पैड खरीदते समय महिलाओं को किन बातों का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए।

Read more: Sanitary Pads और इन चीजों को अक्‍सर कर देती हैं फ्लश तो बचें

सिंथेटिक पैड्स के इस्‍तेमाल से बचें

पैड खरीदते समय सबसे पहले इस बात का ध्यान कि वह इको-फ्रैंडली हों। हमेशा उन सैनेटरी पैड्स का इस्तेमाल करें जिन्हें आसानी से डिस्पोज किया जा सके। जो पैड्स डिस्पोज नहीं हो पाते वो आपके साथ-साथ वातावरण को भी नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा सिंथेटिक पैड्स को इस्‍तेमाल करने से बचना चाहिए। इसके बजाय बायोड्रिग्रेडेबल पैड्स का इस्तेमाल करें। यह आपके साथ-साथ वातावरण के लिए भी सेफ हैं।

santiary pad health inside

क्वालिटी का रखें ध्यान

पैड की क्वालिटी का खास ध्यान रखें। कई बार कम पैसों के चलते महिलाएं कोई भी सैनेटरी पैड्स खरीद लेती हैं। अगर आप भी ऐसा करती हैं तो सावधान हो जाए क्योंकि पैड की क्वालिटी को हल्के में न लें। बहुत सारी कंपनी दावा करती हैं कि उनके द्वारा बनाए गये सैनेटरी पैड नेचुरल है, लेकिन ऐसा होता नहीं है। कई कंपनी इसके उपर की शीट के लिए बस नेचुरल इस्तेमाल करते हैं। इसलिए पैड खरीदते समय ध्यान दें कि नैपकिन कॉर्न स्टॉर्च से बनें हो।

हाइजीन का रखें ध्यान 

कुछ महिलाएं एक ही पैड को काफी लंबे समय तक इस्तेमाल करती हैं। ये खतरनाक हो सकता है, क्योंकि कुछ पैड्स सिर्फ वन टाइम यूज के लिए बनाए जाते हैं। अगर आप उसे ज्यादा टाइम तक इस्तेमाल करती हैं तो बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने कि सम्भावना वहां ज्यादा रहती है।

santiary pad health inside

Read more: नैपकिन पर 12% टैक्स से राहत पाने के लिए महिलाएं कर रहीं सरकार से अपील

अपने हिसाब से सही साइज चुनें

ब्रांड आपको सभी तरह के साइज देता है। लेकिन महिलाएं कभी भी अपने लिए सही साइज के सैनिटरी पैड का चुनाव नहीं करती हैं। जी हां पीरियड्स में हर महिला की ब्लीडिंग का फ्लो अलग होता है। कई महिलाओं को हैवी फ्लो का सामना करती हैं। इस दौरान ब्‍लड सोखने के लिए सैनेटरी पैड का इस्तेमाल किया जाता है और यह अलग-अलग साइज में आता है।
अगली बार आप भी पैड खरीदने से पहले इस बातों का खयाल रखें।

Recommended Video