• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

अर्थराइटिस की है समस्या तो भूल से भी ना करें यह गलतियां

अगर आप अर्थराइटिस से पीड़ित हैं तो आपको कुछ गलतियों को करने से बचना चाहिए। अन्यथा आपकी स्थिति बद से बदतर होती चली जाएगी।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -11 Aug 2022, 08:00 ISTUpdated -10 Aug 2022, 20:06 IST
Next
Article
advice for things to avoid in arthritis

अर्थराइटिस ज्वाइंट्स से जुड़ी एक समस्या है। कुछ समय पहले तक जहां बढ़ती उम्र में हड्डियां कमजोर होने पर लोगों को अर्थराइटिस या गठिया की समस्या होती थी, वहीं अब कम उम्र में भी लोग इस समस्या से पीड़ित होने लगे हैं। यूं तो गठिया कई प्रकार के होते हैं, जिनमें सबसे आम ऑस्टियोआर्थराइटिस है।

यह जोड़ों को बनाने वाले किसी भी जोड़ को प्रभावित कर सकता है। आमतौर पर, यह समस्या होने पर व्यक्ति को मूवमेंट में परेशानी का सामना करना पड़ता है। साथ ही, इससे उनके हाथों, कंधों और घुटनों में भी सूजन और दर्द रहता है।  

आमतौर पर, लोग गठिया में दर्द व सूजन को मैनेज करने के लिए दवाइयों व अन्य कई तरीकों का सहारा लेते हैं। लेकिन कभी-कभी आपकी कुछ गलतियां आपकी इस दर्द की समस्या को और भी अधिक बढ़ा सकती हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी ही मिसटेक्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें अर्थराइटिस के मरीजों को दोहराने से बचना चाहिए-

ना करें रनिंग

dont run

गठिया के मरीज एक्सरसाइज कर सकते हैं, लेकिन उन्हें सही व्यायाम का चयन करना आना चाहिए। मसलन, अर्थराइटिस रोगियों को दौड़ने और जॉगिंग जैसी एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए। यह घुटने के जोड़ पर सीधा प्रभाव पैदा करता है जिससे और नुकसान हो सकता है और दर्द बढ़ सकता है। इसी तरह, आपको एरोबिक्स, जंपिंग और स्किपिंग से बचना चाहिए। इतना ही नहीं, आपको हैवी वेट लिफ्टिंग को भी अवॉयड करना चाहिए, क्योंकि इससे सीधे जोड़ों पर दबाव पड़ता है।

इसे जरूर पढ़ें- जोडों का दर्द करता है परेशान तो ये उपाय हैं रामबाण, जल्‍द मिलती है राहत

इन खेलों से बनाएं दूरी

games

खेल ना केवल मनोरंजन का साधन है, बल्कि इससे व्यक्ति खुद को फिट व एक्टिव रखने की कोशिश करता है। हालांकि, अर्थराइटिस के मरीजों को खेलों का चयन भी बेहद सोच-समझकर करना चाहिए। आपको टेनिस, बास्केटबॉल, वॉलीबॉल आदि को खेलने से बचना चाहिए। ऐसे खेल, जिनमें अचानक मूवमेंट या दिशा में बदलाव हो, करने से ज्वॉइंट्स पर विपरीत असर पड़ सकता है।  

Recommended Video

बॉडी पॉश्चर पर दें अतिरिक्त ध्यान

बहुत कम लोग होते हैं, जो उठते-बैठते समय अपने बॉडी पॉश्चर पर ध्यान देते हैं। हालांकि, अर्थराइटिस के मरीजों को हमेशा ही सही पॉश्चर में बैठना चाहिए। गलत पॉश्चर से जोड़ों में दर्द हो सकता है। खासतौर से, पैरों को क्रॉस करके बैठना या बैठना घुटने के जोड़ों के लिए बहुत हानिकारक होता है। इसके अलावा, खराब फिटिंग वाले फुटवियर या हाई हील्स भी अर्थराइटिस के मरीजों के दर्द व सूजन की समस्या को बढ़ा सकते हैं।(बॉडी पॉश्चर ठीक करने की एक्सरसाइज)

सीढ़ियों का ना करें इस्तेमाल

dont use stairs

अर्थराइटिस के मरीजों के लिए सीढ़ियों का बहुत अधिक इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। दरअसल, जब आप सीढ़ियों पर चलते हैं तो इसका सीधा असर घुटने के जोड़ पर पड़ता है। इसलिए, जब भी उपलब्ध हो एक लिफ्ट का उपयोग करें। सीढ़ियों के अलावा आपको असमान सतहों पर चलना और माउंटेन ट्रेकिंग से भी बचना चाहिए, क्योंकि इससे भी जोड़ों पर असमान दबाव पड़ता है।

हॉट कंप्रेस को कहें नो

कुछ लोग दर्द होने पर हॉट कंप्रेस का सहारा लेते हैं या फिर हॉट योगा करना पसंद करते हैं। लेकिन अर्थराइटिस के मरीजों के लिए हॉट कंप्रेस से अधिक कोल्ड कंप्रेस बेहतर ऑप्शन माना गया है। दरअसल, गर्मी सूजन को बढ़ाती है और आपके दर्द को भी बढ़ा सकती हैं। हॉट कंप्रेस गठिया के लक्षणोंको बद से बदतर बना सकता है।

इसे जरूर पढ़ें- इन 5 संकेतों से जानें आपको ऑर्थराइटिस है या नहीं, दर्द को न करें नजरअंदाज


तो अब आप भी इन छोटी-छोटी गलतियों को ना दोहराएं और अर्थराइटिस होने पर भी अपने दर्द को आसानी से मैनेज करें। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- freepik

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।