• ENG | தமிழ்
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

अपनी बैक को रखना है पेन-फ्री, तो इन आदतों से आज ही कर लें किनारा

अगर आप कमर दर्द की समस्या से निजात पाना चाहती हैं तो ऐसे में आपको कुछ आदतों से आज ही छुटकारा पा लेना चाहिए।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -28 Sep 2022, 18:00 ISTUpdated -28 Sep 2022, 18:46 IST
Next
Article
habits that cause back pain

आज के समय में व्यक्ति कई तरह के दर्द से परेशान रहता है। इन्हीं में से एक है कमर का दर्द। चाहे पुरूष हो या महिलाएं, अधिकतर लोगों को इस दर्द से दो-चार होना पड़ता है। कभी-कभी यह दर्द इतना अधिक बढ़ जाता है कि व्यक्ति के उठना-बैठना यहां तक कि हिलना-डुलना भी काफी मुश्किल हो जाता है। इस स्थिति में व्यक्ति पेन किलर्स या कई तरह की दवाइयों का सेवन करता है। इससे उसे राहत तो मिल जाती है, लेकिन कुछ वक्त बाद ही दर्द फिर से शुरू हो जाता है।

इसलिए, दर्द को खत्म करने के लिए पहले आपको उन आदतों पर गौर करने की जरूरत है, जो कमर दर्द की वजह बनती हैं। जी हां, हम सभी में कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जिन्हें कमर के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं माना जाता है और इसलिए हर किसी को इससे जल्द से जल्द दूर कर देना चाहिए। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको ऐसी ही कुछ आदतों के बारे में बता रहे हैं- 

गलत जूते पहनना

avoid this types of shoes

पैरों को प्रोटेक्ट करने के लिए हम सभी फुटवियर पहनते हैं। कुछ लोग स्टाइलिश दिखने के चक्कर में तरह-तरह के फुटवियर को पहनते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि अगर आप एक इंच से अधिक हील्स को पहनती हैं तो यह आपकी पीठ में दबाव पैदा कर सकती है। जिसके कारण आपको गर्दन से लेकर पीठ के निचले हिस्से तक कहीं भी दर्द हो सकता है। इसके अलावा, अगर आप एकदम सपाट फुटवियर को पहनते हैं तो यह भी आपके लिए अच्छा नहीं है।  

बैड पॉश्चर में बैठने की आदत

कुछ लोग घंटों बैठकर काम करते हैं या फिर अपने स्मार्टफोन को घंटों देख रहे होते हैं और इस दौरान उनका बॉडी पॉश्चर सही नहीं होता है। बैठने, खड़े होने या सोते समय बैड पॉश्चर के कारण अक्सर पीठ दर्द होता है क्योंकि स्पाइन की शेप बदल जाती है। 

स्मोकिंग करने की आदत

habits of smoking

स्मोकिंग केवल कैंसर के रिस्क को ही नहीं बढ़ाता है, बल्कि यह आपकी कमर को भी नुकसान पहुंचाता है। दरअसल, धूम्रपान को रीढ़ और ऊतक अधरू पतन में योगदानकर्ता के रूप में पहचाना गया है। निकोटीन रीढ़ की हड्डी की डिस्क में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों के परिवहन को रोकता है। जिससे डिजेनरेटिव डिस्क डिसीज विकसित हो सकता है और व्यक्ति को क्रॉनिक दर्द की शिकायत हो सकती है। 

इसे भी पढ़े-बार-बार हो रहा है गर्दन, पीठ या कमर में दर्द तो ये आयुर्वेदिक टिप्स करेंगे मदद

व्यायाम ना करने की आदत

ऐसे कई लोग होते हैं, जो नियमित रूप से व्यायाम नहीं करते हैं। उनके पास हमेशा ही यह एक्सक्यूज होता है कि उन्हें एक्सरसाइज करने का समय नहीं मिलता है। लेकिन नियमित रूप से व्यायाम ना करने से व्यक्ति की पीठ की मांसपेशियां और लिगामेंट कमजोर हो जाएंगे। जिससे उसे कमर दर्द की शिकायत हो सकती है।

सोने से जुड़ी हैबिट्स

sleeping habits

आपके सोने का तरीका भी आपकी पीठ पर असर डालता है। पीठ के बल सोना वास्तव में पीठ के लिए हानिकारक होता है। अगर आपको पहले से ही कमर के निचले हिस्से में दर्द है, तो यह पोजिशन आपकी परेशानी बढ़ा सकती है। इसके अलावा, यह अवश्य सुनिश्चित करें कि आपके पास एक फर्म गद्दा है। यह आपको सपोर्ट प्रदान करे और आपकी पीठ के आकार में खुद को ढाल सके।

इसे भी पढ़े-पीठ दर्द से परेशान है तो घर पर करें ये 3 स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज

बाहर का खाना खाने की आदत

habits of junk food

कुछ लोगों को यह आदत होती है कि वह अक्सर बाहर से खाना ऑर्डर करते हैं। लेकिन बाहर के खाने या फिर जंक फूड का अधिक सेवनकरना उनके स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक होता है। पर्याप्त पोषण ना लेने से रीढ़ और पीठ के टिश्यू को भी आवश्यक पोषण नहीं मिल पाता है। जिससे व्यक्ति को बैक से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।  

तो अब आप भी इन आदतों से किनारा कर लें और कमर दर्द की समस्या को काफी हद तक मैनेज करें।

Recommended Video

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

  

Image Credit- freepik

 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।