• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

छोटे बच्चों में पेट की परेशानियों को दूर करने में मदद करेंगे यह आयुर्वेदिक उपाय

छोटे बच्चों को अक्सर कई तरह की पेट की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इससे निजात पाने के लिए एक्सपर्ट द्वारा बताए गए यह आयुर्वेदिक उपाय अपनाए जा सकत...
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -03 Jul 2022, 10:35 ISTUpdated -03 Jul 2022, 11:39 IST
Next
Article
health issue of stomach

छोटे बच्चे बड़ों की अपेक्षा अधिक नाजुक होते हैं और इसलिए उन्हें कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इन्हीं में से एक है पेट दर्द की समस्या। चूंकि कम उम्र में बच्चों के शरीर के ऑर्गन पूरी तरह से डेवलप नहीं होते हैं और ऐसे में अक्सर उनके पाचन तंत्र में समस्या पैदा होती है। जिससे उन्हें पेट में दर्द या पेट में मरोड़ के साथ मल त्याग में समस्या का सामना करना पड़ता है। 

expert dr rajni sushma quote on baby stomach problem

अमूमन देखने में आता है कि पेट में दर्द होने पर पैरेंट्स अक्सर बच्चे को दवाई देते हैं, जबकि अगर आप चाहें तो खुद घर पर ही किचन में मौजूद चीजों की मदद से बच्चे की इस समस्या को दूर कर सकते हैं। जी हां, आयुर्वेद में ऐसे कई उपाय बताए गए हैं, जो छोटे बच्चों में पेट दर्द की समस्या को दूर करने में कारगर साबित हो सकते हैं। तो चलिए आज इस लेख में बीएलके मैक्स हॉस्पिटल के आयुर्वेदिक मेडिसिन डिपार्टमेंट की सीनियर कंसल्टेंट प्रोफेसर डॉ. रजनी सुषमा आपको छोटे बच्चों में पेट दर्द के कुछ आयुर्वेदिक इलाज के बारे में बता रहे हैं-

दूध ना पचने के कारण पेट में दर्द

milk digestion

यदि बच्चा मां का दूध पीता है और वह दूध पचता नहीं है। जिसके कारण वह उल्टी कर देता है तो इसके दो कारण हो सकते हैं-

  • हो सकता है कि बच्चा ओवरफीडिंग(ओवरफीडिंग के नुकसान) कर रहा हो। जिससे बच्चे के मुंह व कई बार नाक से भी दूध बाहर आ जाता है। ऐसे में कंधे से लगाकर बच्चे को डकार दिलवाएं। आप बच्चे की कमर को ऊपर से नीचे की तरफ सहलाएं।
  • हो सकता है कि बच्चे को दूध पच नहीं रहा हो। ऐसे में दो फीड के बीच में करीबन आधे घंटे का गैप बढ़ा दें।

सौंफ पाउडर व अजवाइन का करें इस्तेमाल

sauf powder

अगर बच्चे के पेट में दर्द हो रहा है और वह लगातार रो रहा है तो ऐसे में सौंफ पाउडर व अजवाइन का इस्तेमालकिया जा सकता है। इसके लिए आधा चम्मच सौंफ पाउडर व एक चौथाई चम्मच अजवाइन को भूनकर बारीक पीस लें। इसमें एक चुटकी भुनी हींग और एक चुटकी काला नमक मिलाकर किसी बर्तन में रख लें। अब एक कप पानी में लगभग 70 ग्राम गुड़ व तैयार की गई सामग्री को डालकर व पकाकर किसी कांच के बर्तन में रख लें। आप इसे आयु के अनुसार बच्चे को दें। मसलन, एक से छह माह के बच्चे को पांच से पन्द्रह बूंद, सात माह से एक वर्ष के बच्चे को एक चौथाई से आधा चम्मच और एक से दो वर्ष के बच्चे को आधे से एक चम्मच मिश्रण दिन में दो बार दें।

Recommended Video

पान का रस

आधा चम्मच पान के रस में एक लौंग(लौंग खाने के फायदे) के चूर्ण को गुड़ के साथ मिक्स करें। इसे दिन में दो बार पानी या मां के दूध में मिक्स करके बच्चे को पिलाएं। इससे उसे पेट के दर्द में काफी राहत मिलेगी।

जायफल का करें इस्तेमाल

uses of jaifal

जायफल भी बच्चे को पेट के दर्द में राहत दिलाने में मददगार हो सकता है। इसके लिए जायफल को घिसकर पानी या मां के दूध में मिक्स करें। इसे 1/8 चम्मच दिन में दो बार पिलाया जा सकता है।

इसे जरूर पढ़ें- गर्मी में बच्चे को हो रही है पेट की परेशानी, अपनाएं एक्सपर्ट के ये उपाय

तो अब अगर आपका बच्चा भी पेट दर्द के कारण परेशान हो रहा है तो आप भी इन उपायों को अपनाकर देखें। यकीनन उसे काफी राहत मिलेगी। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit- freepik, pexels

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।