हमारे आस-पास इतनी नेचुरल चीज़ें होती हैं जिन्हें अगर सही ढंग से इस्तेमाल किया जाए तो वो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छी साबित हो सकती हैं। हरी सब्जियां, फल, पौधों की पत्तियां, भाजी आदि का सही उपयोग तो हम सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानती हैं कि गार्डन में मौजूद फूलों से भी हमें बहुत फायदा मिल सकता है? जी हां गार्डन में मौजूद फूल भी कई गुणों से भरपूर होते हैं। अगर आप सोच रहे हैं कि गुलाब, गेंदे, गुड़हल जैसे फूलों को किस तरह से अपनी डाइट में शामिल किया जाए तो आज हम आपके लिए लेकर आए हैं इसी बारे में जानकारी। 

डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिस्ट स्वाति बथवाल ने हरजिंदगी के साथ एक खास लाइव सेशन में ये जानकारी शेयर की। उन्होंने गार्डन से जुड़े फूलों की चर्चा की। तो चलिए जानते हैं कि कौन से फूलों से आपको स्वास्थ्यवर्धक फायदे मिल सकते हैं। 

swati bathwal and flowers

1. गुलाब-

गुलाब का फूल भी हमारे लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। स्वाति जी के हिसाब से गुलकंद हमारे पेट को ठंडा करता है और ऐसी महिलाएं जिन्हें मॉर्निंग सिकनेस होती है उनके लिए फायदेमंद। यही नहीं गुलाब का फूल पीसीओएस, घबराहट, नॉशिया, चक्कर आना, मॉर्निंग सिकनेस जैसे लक्षणों में भी गुलाब का फूल मददगार हो सकता है। ऐसे लक्षणों के लिए आप गुलकंद ले सकते हैं। 

अगर आपको पास गुलकंद नहीं है तो आप गुलाब के फूल की पत्तियों को पीसकर दूध में मिलाकर इसका सेवन भी कर सकते हैं। ये आपके लिए काफी आरामदायक साबित होगा।  

rose flower benefits

इसे जरूर पढ़ें- स्‍वाद के साथ सेहत का खजाना है मूंगफली, वेट लॉस में करती है मदद 

Recommended Video

2. गेंदा-

दूसरा फूल जिसके बारे में स्वाति जी ने अपने सेशन में बताया वो है गेंदे का फूल। गेंदे के फूल का पानी हमारे लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकता है। वो महिलाएं जिनको मेंस्ट्रुएशन में दिक्कत होती है उनके लिए ये बहुत फायदेमंद होता है। 

अगर स्किन की बात करें तो ये आंखों के नीचे की सूजन को कम करता है और साथ ही साथ स्किन सेल्स को रिजेनरेट भी करता है। गेंदे के फूल से बने फेस पैक काफी मददगार साबित हो सकते हैं। 

marigold flower

3. कैमोमाइल-

कैमोमाइल का फूल अधिकर हर्बल टी की तरह लिया जाता है। ग्रीन टी के फॉर्म में इसका इस्तेमाल काफी अच्छी तरह से किया जाता है। नींद को नियंत्रित करने के लिए भी ये मददगार हो सकता है और साथ ही साथ रोजमर्रा के स्ट्रेस को भी दूर कर सकता है। इसके अलावा, कैमोमाइल का फूल पीरियड्स के दौरान होने वाली ऐंठन के लिए भी मददगार साबित हो सकता है। 

इसे गर्म पानी के साथ भी पिया जा सकता है। अपने हिसाब से तापमान रखें अगर आपको बहुत गर्म सूट नहीं करता है तो उसका टेम्प्रेचर थोड़ा कम रखें। अगर आपको कैमोमाइल नहीं मिलता है तो आप उसकी जगह जैस्मिन (चमेली) का फूल ले सकती हैं।

chamomile flower

4. गुड़हल- 

गुड़हल का फूल ब्लडप्रेशर आदि के लिए बहुत अच्छा साबित हो सकता है। अगर आपको लगता है कि आप बहुत दिनों तक उसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे तो आप उसे सनड्राई कर उसका पाउडर भी बना सकते हैं। 1 गुड़हल के फूल को गर्म पानी में उबाल दीजिए और सुबह और शाम उसी गर्म पानी को पीजिए ये ब्लड प्रेशर के लिए बहुत अच्छा साबित हो सकता है।  

अगर किसी को बालों के झड़ने की समस्या है तो गुड़हल के फूल का पेस्ट बनाकर अपने स्कैल्प पर लगाएं और ये बालों की इस समस्या का हल हो सकता है।  

hibuscus flower

इसे जरूर पढ़ें- हेल्दी बॉडी, स्किन और बालों के लिए पिएं ये 6 तरह के Infused Water  

5. एलोवेरा-

स्वाति जी ने अपने सेशन में कहा कि वो जिस पांचवी चीज़ की बात कर रही हैं वो फूल नहीं बल्कि एलोवेरा है जिसे फूल और पत्ती दोनों में ही काउंट किया जा सकता है। फ्रेश एलोवेरा जेल अगर कोई स्टोर करने की कोशिश करता है तो वो एक हफ्ते में खराब हो जाता है। ऐसे में अगर हम कई महीने पुराना एलोवेरा जेल मार्केट से लेते हैं तो ये कितना नुकसानदेह होगा। ऐसे में ताज़ा एलोवेरा जेल ही लें।  

1/3 कप एलोवेरा जेल को अगर आप गुनगुने पानी में पीते हैं तो जिन लोगों के बाल झड़ रहे हैं वो भी ठीक हो जाएंगे। जिन महिलाओं को पीसीओएस की समस्या है उसमें भी ये काफी मददगार साबित हो सकता है। जिन्हें डायबिटीज और इंसुलिन की समस्या है वो भी इस नुस्खे को करें तो बहुत फायदा होगा।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।