• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

जानें क्यों और किसकी याद में जगजीत सिंह ने गाया था 'चिट्ठी न कोई संदेश' गाना

गजल सम्राट जगजीत सिंह ने हिंदी सिनेमा को कई सुपरहिट गजले दी हैं। उनकी हर एक गजल आज तक लोगों की जुबान पर है।
author-profile
  • Hema Pant
  • Editorial
Published -28 Apr 2022, 16:15 ISTUpdated -28 Apr 2022, 17:08 IST
Next
Article
jagjit singh song history chithi na koi sandesh

यूं तो फिल्म इंडस्ट्री में कई गायक हैं, लेकिन जो अपनी आवाज से सबको मंत्रमुग्ध कर दे वो बात जगजीत सिंह में थी। उनके द्वारा गाया गया हर एक गाना दिल को आज भी रूला देता है। चाहे वह 'होठों से छू लो तुम, तुमको देखा तो ख्याल आया, कागज की कश्ती, कोई फरियाद गाना हो', इन सभी गानों को आज भी लोग सुनना पसंद करते हैं। 

भले ही आज जगजीत सिंह हमारे बीच न हो। लेकिन आज भी उनके गाने लोगों के जेहन में जिंदा है। ऐसे ही आपने उनका एक और सबसे फेमस गाना 'चिट्ठी न कोई संदेश' तो जरूर सुना होगा। शायद  आप इस गाने को अपने एक्स बॉयफ्रेंड की याद या किसी अन्य के लिए सुनते होंगे? लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह गाना कैसे बना? क्यों इस गाने के हर बोल इतने अहम है कि वह दिल को रूला देते हैं? शायद नहीं तो आज हम आपको बताएंगे कि किसकी याद में जगजीत सिंह ने गाया था यह गाना। 

शुरुआती जीवन

 

जगजीत सिंह राजस्थान के रहने वाले हैं। हालांकि, उनका जन्म श्रीगंगानगर शहर में हुआ था। जगजीत सिंह के पिता सरकारी नौकरी करते थे। जगजीत सिंह को संगीत का ज्ञान विरासत में मिला है। हालांकि, जगजीत सिंह के पिता चाहते थे कि वह आईएएस की तैयारी करें। लेकिन जगजीत सिंह को गायक बनना था। इसलिए वह सपना पूरा करने मुबंई आए और अपनी सुरीली आवाज से सबका दिल जीत लिया। हालांकि, गजल सम्राट की उपाधि पाना उनके लिए आसान नहीं था। उन्होनें इसके लिए बेहद मेहनत की और कई बुरे दिनों का सामना भी किया। 

फिल्म 'दुश्मन' में गाया था चिट्ठी न कोई संदेश गाना

जगजीत सिंह ने यह गाना साल 1998 में आई फिल्म 'दुश्मन' में गाया था। इस फिल्म में आशुतोष राणा, काजोल और संजय दत्त जैसे दिग्गज कलाकारों ने अहम भूमिका निभाई है। न केवल इस फिल्म को बल्कि इस फिल्म के हर गाने को जनता द्वारा बेहद सराहा गया। खासौतर पर जगजीत सिंह द्वारा गया गाना चिट्ठी न कोई संदेश ने लोगों के दिल में अपनी खास जगह बनाई। लेकिन जगजीत सिंह ने यह गाना केवल फिल्म के लिए नहीं बल्कि अपने किसी खास यानी जिगर के टुकड़े के लिए गाया था। उन्होनें अपने किसी खास को याद कर यह गाना गाया था।

बेटे की याद में गाया था ये गाना

गजल सम्राट कहे जाने वाले जगजीत सिंह ने 'गजलों की रानी' चित्रा सिंह से साल 1969 में शादी रचाई थी। दोनों ही इस शादी से बेहद खुश थे और इस शादी से उनका एक बेटा भी था, जिसका नाम विवेक था। यह बात 1990 की जब जगजीत सिंह ने अपने बेटे की कार एक्सिडेंट में खो दिया था। जगजीत सिंह और उनकी पत्नी इस हादसे से अदंर तक हिल गए थे और खुद को संभालना बेहद मुश्किल हो गया था। इसी कारण दोनों ने संगीत की दुनिया से दूरी बना ली थी। लेकिन कुछ समय बाद जगजीत सिंह ने अपने आप को संभाला और फिर अपने बेटे की याद में चिट्ठी न कोई संदेश गाना गाया। (कपल डांस के लिए बेस्ट गाने)

इसे भी पढ़ें: लता मंगेशकर ने कभी नहीं सुने अपने मशहूर गाने, जानें क्‍यों

कई अवार्ड किए अपने नाम

जगजती सिंह ने अपनी प्रतिभा के दम पर कई अवार्ड अपने नाम किए हैं। साल 1998 में उन्हें साहित्य अकादमी अवार्ड से नवाजा जा चुका है। इसके बाद 2003 में भारत सरकार द्वारा उन्हें पद्म भूषण पुरस्कार मिला। भले ही आज जगजीत सिंह हमारे बीच न हों। लेकिन उनकी आवाज आज भी अमर है। (शर्मिला टैगोर की सबसे लोकप्रिय फिल्में)

इसे भी पढ़ें: वहीदा रहमान 81 साल की उम्र में करना चाहती हैं स्कूबा डाइविंग, ट्विंकल खन्ना ने याद दिलाई उम्र

गजलों को बनाया आम आदमी की पसंद

 गजल में आम आदमी की दिलचस्पी को बढ़ाने का श्रेय केवल जगजीत सिंह को जाता है। उन्होनें फिल्मों में गजलों को गाने की तरह गाया। जिसके कारण आम लोग गजलों को पसंद करने लगे। यही कारण है कि जगजीत सिंह को गजल सम्राट कहा जाता है। (हिंदी सिनेमा के बेस्ट गाने)

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़े रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।

Image Credit: Instagram-jagjitsinghofficial

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।