क्या एक रिश्ते में होने या फिर शादीशुदा होने के बावजूद आपको अक्सर अकेला या आइसोलेटेड लगता है। यहां तक कि पार्टनर के साथ झगड़ा करते हुए भी आपको उनके साथ होने का अहसास नहीं होता। क्या आपको ऐसा लगने लगा है कि आपके पार्टनर को किसी बात की परवाह नहीं है। अगर इन बातों का जवाब हां है तो इसका अर्थ है कि आपका पार्टनर आपको इमोशनली धोखा दे रहा है। फिजिकली चीटिंग की तरह भले ही इमोशनल धोखा आपको नजर ना आए, लेकिन यह वास्तव में फिजिकली चीटिंग से ज्यादा तकलीफ देता है। इमोशनल चीटिंग के लिए कोई निश्चित परिभाषा नहीं है और ना ही इसके लिए शराब या किसी गलत निर्णय को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है।

यहां सबसे खास बात यह है कि अधिकतर महिलाओं को यह पता ही नहीं चलता कि उनका पार्टनर उन्हें इमोशनली धोखा दे रहा है। याद रखें कि कोई भी रिलेशन तभी कामयाब होता है, जब दोनों पार्टनर एक-दूसरे से सिर्फ फिजिकली ही नहीं, बल्कि इमोशनली भी कनेक्टेड हों। तभी वह एक-दूसरे की खुशी, सक्सेस उनके दुख, व परेशानियों को महसूस कर सकते हैं। लेकिन अगर आपके पार्टनर का आपके प्रति भावनात्मक जुड़ाव नहीं है तो उस रिश्ते का वास्तव में कोई महत्व ही नहीं है। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही संकेतों के बारे में बता रहे हैं, जो यह बताते हैं कि आपका पार्टनर आपको इमोशनली धोखा दे रहा है-

इसे भी पढ़ें: रिलेशनशिप को रखना है मजबूत तो अपने पार्टनर को इन स्थितियों में बिल्कुल मैसेज ना करें

आपको फोन से दूर रखना

partner is emotionally cheating inside

अगर आपका पार्टनर अपने फोन का उपयोग करते हुए आपको अपने आसपास नहीं चाहते हैं या फिर अगर आप उस समय उनके आसपास जाते हैं और वह आपसे नाराज हो जाते हैं तो यह एक संकेत है, जिसे आपको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। इतना ही नहीं, अगर उन्होंने एकदम से टेक्सटिंग और सोशल मीडिया का यूज करना काफी अधिक कर दिया हो या फिर अब वह लिविंग रूम की जगह बाथरूम में उसे यूज करना पसंद करने लगे हैं तो यह बताता है कि वह कुछ ना कुछ आपसे छिपा रहे हैं।

स्वभाव में बदलाव

realy partner is emotionally cheating inside

अगर आपके पार्टनर के स्वभाव में अब बदलाव आने लगा है। मसलन, अब वह आपकी पहले की तरह केयर नहीं करते। उन्हें इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपने खाना खाया या नहीं। या फिर वह दिन में एक बार भी आपको कॉल या मैसेज करना जरूरी नहीं समझते। बाहर घूमने की बात पर वह बहाना बनाते हैं या फिर डिनर डेट पर जाने पर भी वह हरवक्त अपने फोन से ही चिपके रहते हैं तो यह सभी संकेत बताते हैं कि वह आपके साथ भावनात्मक रूप से उस तरह से जुड़े हुए नहीं है, जिस तरह आप उनसे कनेक्टेड हैं। हो सकता है कि धीरे-धीरे आपको ऐसा भी लगने लगे कि यह तो वह इंसान है ही नहीं, जिससे आपने कभी प्यार किया था।

Recommended Video

चीजें शेयर ना करना

partner is emotionally cheating tips inside

जब एक रिलेशन में दो लोग एक-दूसरे से इमोशनली कनेक्टेड होते हैं तो वह अपने दिन की अच्छी-बुरी बात अपने पार्टनर से शेयर करना पसंद करते हैं। हमेशा ही व्यक्ति को ऐसा पार्टनर चाहिए होता है, जिससे वह अपने मन की बातें कह सकें। लेकिन अगर आपका पार्टनर अब आपसे अपनी बातें व चीजें शेयर करना पसंद नहीं करता या फिर अगर आप उनसे पूछती हैं कि उनका दिन कैसा था और वह कहते हैं कि ठीक था तो यह भी एक अलार्म है। हर दिन इसी तरह का रिप्लाई आने का मतलब है कि अब वह इस रिलेशन में इमोशनली अनअवेलेबल हैं या फिर यूं कहें कि वह आपको इमोशनली चीट कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: Relationship Tips: ऐसे निभाएंगी अपना रिश्ता तो रिलेशनशिप हमेशा रहेगी मजबूत


सिर्फ दोस्तों के साथ हैंगआउट करना

partner is emotionally cheating inside

अगर आपका पार्टनर अब सिर्फ अपने दोस्तों या फिर अन्य को-वर्कर्स के साथ ही हैंगआउट करना पसंद करते हैं और आपको कभी भी अपने साथ ले जाना पसंद नहीं करते तो यह भी इमोशनली चीटिंग का एक संकेत है। हर रिलेशन में यकीनन दोनों पार्टनर्स की अपनी अलग हॉबीज हो सकती हैं और हो सकता है कि कुछ समय वह सिर्फ अपने लिए और अपने दोस्तों के साथ चाहते हों। लेकिन अगर पार्टनर कभी भी आपके साथ वक्त बिताने में रूचि नहीं दिखाता तो यह एक खतरे की घंटी है। (पार्टनर आपकी लाइफ को करने लगे कंट्रोल तो करें यह काम)

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@freepik)