60 के दशक के कई ऐसे अभिनेता और अभिनेत्री हैं, जिनकी अदायगी के चर्चे आज भी लोग करना पसंद करते हैं। उन दिनों शम्मी कपूर, दिलीप कुमार, और राजेंद्र कुमार जैसे एक्टर्स की फ़िल्में देखने के लिए दर्शकों की लाइन लगा करती थी। बात करें राजेंद्र कुमार की तो वह उन अभिनेताओं में से एक थे, जिन्होंने चार दशक के लंबे करियर में कई सुपरहिट फ़िल्में दीं। उनके करियर में एक ऐसा भी समय आया था जब उनकी 6 से 7 फ़िल्में एक ही समय पर सिनेमाघरों में लगी रहती थीं।

उनके स्टारडम को देखने के बाद कई अभिनेत्री उनके साथ काम करने की इच्छा रखती थीं। हिंदी सिनेमा में राजेंद्र कुमार ने फ़िल्म ‘पतंगा’ से शुरूआत की थी, लेकिन बतौर हीरो पहली बार वह 'वचन' में नज़र आए थे। इस फ़िल्म में राजेंद्र कुमार के अलावा गीता बाली भी मुख्य भूमिका में थीं। इस फ़िल्म के बाद राजेंद्र कुमार और गीता बाली ने कभी साथ में काम नहीं किया।

फ़िल्म ‘वचन’ में भाई-बहन बने थे राजेंद्र कुमार और गीता बाली

geeta bali

हिंदी सिनेमा में गीता बाली एक शानदार एक्ट्रेस मानी जाती हैं। अपने करियर में उन्होंने एक से बढ़कर एक फ़िल्में दी हैं, और असल ज़िंदगी में उन्होंने शम्मी कपूर से शादी की थी। फ़िल्म ‘वचन’ करने से पहले उन्होंने कई फ़िल्में की हुई थीं। हालांकि इस फ़िल्म में उनके अभिनय को लोगों ने ख़ूब पसंद किया था। यही नहीं इस फ़िल्म के लिए उन्हें फ़िल्मफ़ेयर बेस्ट एक्ट्रेस के लिए नॉमिनेट भी किया गया था। फ़िल्म में वह राजेंद्र कुमार की बड़ी बहन बनी थीं। इस फ़िल्म में राजेंद्र कुमार ने इतने दिल से अपना किरदार निभाया था, कि वह मन ही मन गीता को अपनी बहन मानने लगे थे। वहीं 'वचन' के बाद गीता बाली एक्ट्रेस के साथ-साथ निर्माता भी बन गई थीं। ऐसे में वह अपनी एक फ़िल्म के लिए राजेंद्र कुमार को अपने अपोज़िट लेना चाहती थीं, लेकिन एक्टर ने उनके ऑफ़र को ठुकरा दिया। राजेंद्र कुमार ने बताया कि वह उन्हें दिल से बहन मानते हैं, ऐसे में वह उनके साथ पर्दे पर रोमांस नहीं कर सकते।

इसे भी पढ़ें: 2020 की Most Desirable Women बनीं रिया चक्रवर्ती, सोशल मीडिया पर लोगों ने किए ऐसे कमेंट्स

दोस्त के लिए नरगिस से भिड़ गए थे राजेंद्र कुमार

nargis and rajendra kumar

राजेंद्र कुमार अपनी दोस्ती के लिए नरगिस से भिड़ गए थे। दरअसल मामला फ़िल्म ‘दिल एक मंदिर’ से जुड़ा हुआ है। यह फ़िल्म साल 1963 में निर्देशक सीवी श्रीधर ने डायरेक्ट की थी। इस फ़िल्म के लिए उन्होंने राजेंद्र कुमार और राज कुमार को कास्ट किया था। राजेंद्र कुमार उन दिनों सुपरहिट एक्टर माने जाते थे, ऐसे में राज कुमार के लिए उन्होंने ने ही सिफ़ारिश की थी। हालांकि जब इस फ़िल्म के बारे में नरगिस को जानकारी हुई थी तो उन्होंने राज कुमार की जगह सुनील दत्त को कास्ट करने की बात कही। सीवी श्रीधर औऱ नरगिस काफ़ी अच्छे दोस्त थे और ऐसे में उन्होंने इसके लिए दोस्ती का हवाला दिया, लेकिन इस बारे में जब राजेंद्र कुमार को पता चला तो उन्होंने साफ-साफ कह दिया कि अगर वह इस फ़िल्म से राज कुमार को निकालते हैं। तो वो भी ये फ़िल्म नहीं करेंगे। अब इसकी जनकारी जब नगरिस को हुई तो दोनों के बीच अनबन शुरू हो गई। यही नहीं इस फ़िल्म से राजकुमार को हटाए जाने वाली बात पर राजेंद्र कुमार ने उन्हें ख़ूब बातें भी सुनाईं।

इसे भी पढ़ें: See Pics: इस तरह अपने घर को सजा कर रखती हैं अंकिता लोखंडे

Recommended Video

राजेंद्र कुमार और सुनील दत्त

rajendra kumar actor

उस समय भले ही नगरिस और राजेंद्र कुमार के रिश्ते में दरार आ गई हो, लेकिन कुछ सालों बाद दोनों की फ़ैमिली के बीच रिश्ता समान्य हो गया था। दरअसल नगरिस की बड़ी बेटी नम्रता दत्त की शादी राजेंद्र कुमार के बेटे कुमार गौरव से हुई है। यही नहीं कुमार गौरव और संजय दत्त दोनों काफ़ी अच्छे दोस्त भी हैं, और कई फ़िल्मों में साथ काम भी कर चुके हैं।

 

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।