कपूर खानदान की बहू गीता बाली ने कम उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। फेमस एक्ट्रेस रह चुकीं गीता बाली की 21 जनवरी को पुण्यतिथि होती है। गीता बाली एक्टर शम्मी कपूर की पत्नी थीं। महज 35 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया था। 

तो चलिए गीता बाली की जिंदगी से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें जानते हैं। 

geeta bali death anniversary

गीता बाली और शम्मी कपूर लव स्टोरी 

गीता बाली और शम्मी कपूर की लव स्टोरी फिल्म ‘रंगीला रतन’ की मेकिंग के वक्त साल 1955 में शुरू हुई थी लेकिन पृथ्वीराज कपूर बेटे के इस फैसले से खुश नहीं थे। दरअसल उस वक्त तक कपूर खानदान के सदस्य किसी एक्ट्रेस से शादी नहीं करते थे। 

Read more: देवदास फिल्म करने से पहले एक बच्ची की मां बन चुकी थीं ये हीरोइन

शम्मी कपूर ने गीता बाली से लव मैरिज की थी लेकिन उनके पिता पृथ्वीराज कपूर और गीता बाली के परिजन इस शादी के खिलाफ थे। इस वजह से दोनों ने चुपचाप मंदिर में फेरे ले लिए थे। 

geeta bali death anniversary

शम्मी ने लिपस्टिक से गीता की मांग भरी थी। शादी के बाद शम्मी गीता बाली को सीधे घर ले गए और फिर दोनों के परिवार वालों ने इस शादी पर सहमति दे दी। शादी को अभी 10 साल ही हुए थे कि गीता को चेचक की बीमारी हो गई।

geeta bali death anniversary

शम्मी और गीता के यहां दो बच्चे एक बेटा आदित्य राज कपूर और एक बेटी कंचन का जन्म हुआ। बेटी के जन्म के 4 साल बाद ही गीता बाली चल बसी थीं। गीता की मौत के बाद  शम्मी कपूर पूरी तरह से टूट चुके थे। बेटे आदित्य राज कपूर ने हिंदी सिनेमा में कदम रखा लेकिन वो सफल नहीं हो सकें। वहीं बेटी की शादी डायरेक्टर मनमोहन देसाई के बेटे केतन देसाई से हुई। 

geeta bali death anniversary

गीता बाली की मौत के बाद 

गीता बाली की मौत के बाद शम्मी कपूर फिल्मी दुनिया में ही बिजी हो गए। 'ब्रह्मचारी' फिल्म के समय उन्हें मुमताज से प्यार हो गया। दरअसल ऐसा कहा जाता है कि मुमताज ने शम्मी को बताया था कि वो उन्हें कितना पसंद करती हैं उसके बाद धीरे-धीरे शम्मी को भी उनसे प्यार हो गया। 

Read more: प्रियंका गांधी के बारे में ये 5 बातें नहीं जानती होंगी आप

एक दिन शम्मी ने मुमताज के सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया। साथ ही यह भी कह दिया कि शादी के बाद वह फिल्मों में काम नहीं करेंगी बल्कि घर पर रहकर उनके बच्चों की देखभाल करेंगी। मुमताज ने इस बात से मना कर दिया इसके बाद शम्मी ने एक आम लड़की नीला देवी से शादी की। 

गीता बाली फिल्मी करियर 

गीता बाली ने अपना फिल्मी करियर चाइल्ड एक्ट्रेस के तौर पर 12 साल की उम्र में शुरू किया था। गीता बाली की डेब्यू फिल्म 'बदनामी' थी जो 1946 में रिलीज हुई थी। 1950 तक गीता हिंदी में एक स्टार के रूप में अपनी पहचान बना चुकी थीं। 

गीता बाली ने अपने जेठ राज कपूर के साथ फिल्म 'बावरे नैन' में भी काम किया था। उस समय में कपूर खानदान की बहू फिल्मों में काम नहीं किया करती थी लेकिन गीता बाली ने शादी के बाद भी फिल्मों में काम किया था। 

गीता बाली की आखिरी फिल्म 'जबसे तुमको देखा है' थी जो 1963 में रिलीज हुई थी। गीता बाली ने लगभग 70 फिल्में की थी। 

Recommended Video