वो जमाने लद गए, जब कपल्स फैमिली प्लानिंग को लेकर कुछ भी नहीं सोचते थे। बच्चे तो भगवान की देन है, सिर्फ इस सोच के कारण ही एक ही कपल्स सात-आठ यहां तक कि दस-बारह बच्चे भी पैदा करते थे। लेकिन आज के समय में सोच बदल चुकी है। बढ़ती महंगाई और जागरूकता ने कपल्स को फैमिली प्लानिंग का महत्व समझाया है। आज के समय में कपल्स पैरेंट्स बनने की खुशी चाहते हैं लेकिन सही समय पर। जब वे दोनों ही शारीरिक, मानसिक और फाइनेंशियली इसके लिए तैयार हों। हालांकि यह केवल तभी संभव है, जब दोनों पार्टनर खुलकर इस मुद्दे पर चर्चा करें और अपने विचार आपस में साझा करें। पर अब सवाल यह उठता है कि कपल्स को इस विषय पर कब बात करनी चाहिए। यह यकीनन एक बहुत बड़ा मुद्दा है, इसलिए इस विषय में बात करने का लाभ तभी होगा, जब आप दोनों एक-दूसरे के पक्ष को सही तरह से सुनें और समझने की कोशिश करें। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कि कपल्स को फैमिली प्लानिंग को लेकर कब बात करनी चाहिए-

शादी से पहले

 happy relationship tips inside

वैसे तो फैमिली प्लानिंग के बारे में बात करने का सही समय शादी से पहले ही माना जाता है, क्योंकि इससे आप दोनों को यह समझने में मदद मिलती हैं कि आप दोनों अपनी मैरिड लाइफ को किस तरह से देखते हैं। हालांकि कुछ लड़कियां पहली मीटिंग में इस विषय पर बात करने से झिझकती हैं। उन्हें लगता है कि ना जाने सामने वाला व्यक्ति उनके बारे में क्या सोचने लग जाए। यकीनन सीधे-सीधे फैमिली प्लानिंग को लेकर बात करना थोड़ा अटपटा लग सकता है। ऐसे में आप सवाल घुमाकर भी पूछ सकती हैं। मसलन, बच्चों के बारे में आपका क्या विचार है। आप उनके जवाब से काफी कुछ समझ जाएंगी। उदाहरण के तौर पर, अगर वह कहते हैं कि अभी वह अपने करियर की शुरूआत में हैं या फिर वह शादी के बाद कुछ वक्त तक अपनी मैरिड लाइफ को इंजॉय करना चाहते हैं तो इसका अर्थ है कि वह दो-तीन साल तक बच्चे नहीं चाहते।

इसे जरूर पढ़ें: खुद को खोए बिना भी आप बन सकती हैं एक अच्छी पार्टनर, जानिए कैसे

शादी के बाद

 happy relationship tips inside

हो सकता है कि आप झिझक या शर्म के कारण पार्टनर से फैमिली प्लानिंग को लेकर चर्चा ना कर पाई हों, लेकिन शादी के बाद जितना जल्दी हो सके, इस विषय पर पार्टनर से जरूर बात करें। हनीमून पर इस बारे में बात करना काफी अच्छा रहेगा। क्योंकि यह वह वक्त होता है, जब दोनों ही पार्टनर एक-दूसरे को समझने की कोशिश कर रहे होते हैं और इसलिए इस दौरान वह अधिकतर मुद्दों पर बात कर सकते हैं। ऐसे में आपके लिए फैमिली प्लानिंग पर बात करना आसान होगा।

इसे जरूर पढ़ें: Relationship Tips: ये 5 बातें पार्टनर के दिल में आपके लिए फिर से प्यार जगा देंगी

Recommended Video

बदलावों के बारे में करें बात

 happy relationship tips inside

हो सकता है कि आपका पार्टनर जल्द से जल्द पापा बनना चाहता हो, लेकिन आप इसके लिए तैयार ना हों। ऐसे में आप सिरे से उसे नकारने की जगह आप दोनों की लाइफ में आने वाले बदलावों के बारे में बात करें। मसलन, प्रेगनेंसी के बाद आप काफी समय तक जॉब नहीं कर पाएंगी और आप शायद पार्टनर को उतना समय ना दे पाएं, क्योंकि नवजात को आपकी अधिक जरूरत होगी। इसके अलावा, बेबी होने के बाद खर्चे तो बढ़ेंगे ही, साथ ही कुछ वक्त तक आप दोनों बतौर कपल्स बाहर घूमने नहीं जा पाएंगे। उनसे यह जरूर पूछें कि क्या वह अभी इन सभी बदलावों के लिए मानसिक और फाइनेंशियली रूप से तैयार है। ऐसे में फैमिली प्लानिंग को लेकर व्यापक रूप से चर्चा करना बेहद आवश्यक है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik