कोई भी रिश्ता सिर्फ और सिर्फ प्यार के भरोसे नहीं चलता, उसके लिए कई तरह के sacrifice करने पड़ते हैं। एक रिश्ते में आने के बाद आप वैसे नहीं रह सकते, जैसा कि आप हमेशा से रहते आए हैं। दरअसल, आपको अपने पार्टनर की खुशी के लिए व रिश्ते को हमेशा प्यार भरा बनाए रखने के लिए खुद में कुछ बदलाव करने होते हैं। हो सकता है कि आपको देर रात तक इंटरनेट या फोन पर रहने की आदत हो, लेकिन आपके पार्टनर को सुबह काम पर जाना हो या फिर रात में आपके साथ क्वालिटी टाइम बिताना चाहता हो, तो ऐसे में आपको उसकी भावनाओं का सम्मान करते हुए खुद में बदलावा करना चाहिए। हालांकि हर कोई ऐसा नहीं सोचता। कुछ लोग रिलेशनशिप में खुशी तो ढूंढते हैं, लेकिन खुद में कोई भी बदलाव करना उन्हें पसंद नहीं होता। वह किसी के लिए भी खुद को बदलना नहीं चाहते। इस स्थिति में उनके पार्टनर को काफी तकलीफ होती है। हो सकता है कि आपका पार्टनर भी कुछ ऐसा ही हो। लेकिन आपको परेशान होने की जगह कुछ आसान टिप्स को अपनाना चाहिए-

समझें यह बात

 relationship problems inside

अक्सर समस्या तब भी उत्पन्न होती है, जब एक पार्टनर दूसरे को पूरी तरह अपनी स्थिति में ढालने की कोशिश करता है। लेकिन आपको एक बात याद रखनी होगी कि किसी व्यक्ति के लिए रातोंरात बदलना संभव नहीं है। इसमें बहुत समय लगता है। साथ ही आप उस व्यक्ति को पूरी तरह से बदल नहीं सकते हैं। इसलिए अगर आपने अपने सपनों में जीवनसाथी को लेकर एक छवि बनाई है और आप अपने पार्टनर को उसमें फिट करने की कोशिश करते हैं तो इससे समस्या केवल बढ़ेगी ही। 

इसे जरूर पढ़ें: अगर एंगर है आपके रिलेशन की कड़वाहट की वजह तो अपनाएं ये टिप्स

खुद को बदलने का प्रयास करें

 relationship problems inside

जब आप सामने वाले से बदलने की उम्मीद करते हैं तो यह बेहद जरूरी है कि पहले वह बदलाव आप खुद में लेकर आएं। इसलिए, अपनी सीमाओं को जानें और खुद को पहचानें। अपने आप से पूछें कि कब तक आप शांत रह पाएंगे, अगर कुछ भी नहीं बदलता है। जरूरत पड़ने पर आप थेरेपी या काउंसलिंग की मदद ले सकते हैं।

झगड़े नहीं

 relationship problems inside

ऐसा अधिकतर कपल्स के बीच देखने को मिलता है। जब एक पार्टनर खुद को बदलने के लिए मना करता है तो ऐसे में दूसरा पार्टनर गुस्सा हो जाता है। हो सकता है कि आपके बीच लड़ाई भी हो जाए। लेकिन ऐसा करने से बचें। समस्याओं के प्रति अपनी प्रतिक्रिया बदलने की कोशिश करें। मात्र आपके रिएक्शन से भी चीजें काफी हद तक बदल सकती हैं। साथ ही किसी बहस शामिल होने के बजाय, अपने साथी को समझें, ताकि वे स्थिति की गंभीरता को जान सकें और बदलने की कोशिश करें।

इसे जरूर पढ़ें: खुद को खोए बिना भी आप बन सकती हैं एक अच्छी पार्टनर, जानिए कैसे

Recommended Video

सही हो समय

 relationship problems inside ()

जब भी आप अपने पार्टनर से किसी मुद्दे पर बात करते हैं, तो यह जरूरी है कि समय भी सही हो। मसलन, ऐसा समय चुनें, जब पार्टनर थका हुआ या बैड मूड में ना हो। इस तरह की स्थिति में पार्टनर की आपकी बात सुनने में कोई रूचि नहीं होगी। यह बताएं कि समस्या रिश्ते को कैसे प्रभावित कर रही है। हालांकि इस दौरान व्याख्यान न दें और केवल विषय पर केंद्रित रहें। अगर आपका पार्टनर सच में आपसे प्रेम करता होगा, तो वह आपकी समस्या को समझने की कोशिश करेगा। हो सकता है कि वह खुद में कुछ बदलावों की शुरूआत भी करे।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik