भारत का हर युवा किसी ना किसी कॉम्पिटीशन की तैयारी कर रहा है। कहीं कोई बड़ी डिग्री पाने की तैयारी में है, तो कहीं कोई सरकारी नौकरी की परीक्षाओं को निकालने की कोशिश में लगा हुआ है। युवाओं के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा इन कठिन परीक्षाओं की तैयारी में बीत जाता है, सालों मेहनत के बाद जाकर कहीं कोई युवा अपने सपने को पूरा करता है। 

आज के आर्टिकल में हम आपको भारत में होने वाली सबसे मुश्किल परीक्षाओं के बारे में बताएंगे, जिसके लिए बच्चे घर बार छोड़कर मीलों दूर किसी और शहर पढ़ने निकल जाते हैं। कई बच्चे इसमें सफल होते हैं, तो कई इन परीक्षाओं में असफल रह जाते हैं। असफलता और सफलता जीवन का पहलू हैं पर हां इन परीक्षाओं में बैठने का फैसला ही आपके हौसले को दोगुना कर देता है।

यूपिएससी-

upsc exams

देश में लाखों लोग IPS,IAS और IPS बनने का सपना देखते हैं, जिसके लिए उन्हें UPSC के कठिन एग्जाम से गुजरना पड़ता है। यह भारत के सबसे कठिन एग्जाम में से एक है, हर साल इस परीक्षा के रिजल्ट का इंतजार बड़ी बेसब्री से किया जाता है। UPSC का फुल फॉर्म यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन है, यह परीक्षा भारत सरकार द्वारा हर साल देश भर में कराई जाती है।

आकंडे के अनुसार हर साल 10 लाख से ज्यादा लोग इस परीक्षा में बैठते है, माना जाता है कि इसमें सिलेक्ट होने के चांसेज मात्र -0.1% ही होते हैं। इस परीक्षा में 2 राउंड रिटर्न और 1 राउंड इंटरव्यू का होता है, जिसे क्वालिफाई करना कई लोगों का सपना होता है।

कैट -

cat exams

CAT का फुल फॉर्म होता है कॉमन एडमिशन टेस्ट, लाखों बच्चे यह एक्जाम IIM पाने के लिए करते हैं। इस एग्जाम को पास करने वाले स्टूडेंट्स को भारत के टॉप मैनेजमेंट कॉलेजों में एडमिशन लेने का मौका मिलाता है। इस एक्जाम को पास करने के बाद बहुत पैकेज मिलने के चांसेज होते हैं, इसके साथ ही बड़ी-बड़ी कंपनियों के साथ काम करने का मौका मिलता है।

CAT एक्जाम के तहत कई दूसरे मैनेजमेंट के कॉलेज में भी एडमिशन मिलता है, मगर अच्छे कॉलेज के लिए आपको इस टेस्ट में बढ़िया पर्सेंटाइल जाने पड़ते हैं। इस परीक्षा में भी लाखों लोग अपनी करियर को बनाने का सपना लेकर जाते हैं।

आई-आई-टी, जेईई एक्जाम-

jee exam

हर इंजीनियरिंग स्टुडेंट का यह सपना होता है कि वो IIT में जाकर पढ़े। IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी है, यह एक्जाम साइंस के छात्रों के लिए होता है। इस एक्जाम में भी दो राउंड्स होते हैं मेंन्स और एडवांस, दोनों में अच्छे नंबर लाने के बाद आप भारत के सबसे फेमस इंजीनियरिंग कॉलेज में जाकर पढ़ सकते हैं। इस परीक्षा में भी लाखों लोग बैठते हैं जिनमें मात्र 0.71% लोगों का सिलेक्शन हो पाता है।

इसे भी पढ़ें- बार-बार बिगड़ जाता है घर का बजट तो ना करें पैसों से जुड़ी ये 7 गलतियां

क्लैट-

clat exam

CLAT का फुल फॉर्म कॉमल लॉ एडमीशन टेस्ट होता है। कानून और न्याय में दिलचस्पी रखने वाले छात्र इस कोर्स के लिए टेस्ट देते हैं, जिसे क्वालिफाई करने के बाद आप देश के सबसे बेहरीन लॉ कॉलेज में पढ़ सकते हैं। इस परीक्षा में करीब 50,000 लोग पेपर देने बैठते हैं पर कॉलेज की सीट कम होने के कारण यह परीक्षा बहुत मुश्किल हो जाती है। यह एग्जाम 2 घंटे का होता है, जिसमें गणित, अंग्रेजी, रीजनिंग और न्याय से जुड़े सवाल भर-भर कर पूछे जाते हैं। 

इसे भी पढ़ें- फेसबुक पर आपको कौन देख रहा है, ऐसे करें मालूम

चार्टेड अकाउंटेट-

charted accountent

चार्टेड अकाउंटेंट बनना हर कॉमर्स के स्टूडेंट का शुरुआती सपना होता है। कॉमर्स लेते ही हर बच्चा चार्टेड अकाउंटेंट बनने के लिए प्लान करता है, पर यह एग्जाम इतना मुश्किल होता है कि इसे बहुत कम लोग ही क्वालिफाई कर पाते हैं। इस परीक्षा में आपको 7 विषयों के पेपर क्वालिफाई करने होते हैं, जिसमें सभी स्टूडेंस को सालों लग जाते हैं।

Recommended Video

एनडीए-

nda exams

एनडीए का फुल फॉर्म नेशनल डिफेंस अकादमी होता है। यह आर्म्ड फोर्स के सबसे मुश्किल एग्जाम में से एक है, इस परीक्षा में आप 12वीं पास करने के बाद बैठ सकते हैं। इस परीक्षा में कई राउंड्स होते हैं, जिसमें सबसे मुश्किल फिजिकल फिटनेस राउंड होता है। ज्यादातर परीक्षार्थी इस राउंड में ही बाहर कर दिए जाते हैं। आखिर में बहुत कम बच्चों को ही इस परीक्षा के तहत चुना जाता है, परीक्षा के बाद कई साल ट्रेनिंग होती है और फिर परीक्षार्थियों को आर्मी के बड़े-बड़े पदों पर काम करने का मौका मिलता है।

तो यह था हमारा आज का आर्टिकल, आप इनमें से किसी परीक्षा में बैठे हैं तो अपना अनुभव हमें कमेंट बॉक्स में बताएं। साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

image credit - gsstatic.com, verywellmin.com and other google searches