आज महिलाएं हर फील्ड में पुरुषों की बराबरी कर रही हैं। चाहे वह कोई भी फील्ड हो महिलाओं की भागीदारी धीरे-धीरे हर जगह बढ़ रही है। पहले आर्मी में महिलाओं का काम बहुत सीमित था लेकिन अब आर्मी में भी महिलाएं बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने लगी हैं। 

अभी तक आर्मी में महिलाएं आर्टिलरी और इन्फेंट्री यूनिट्स में काम करती थीं। लेकिन अब दुनिया में कई ऐसे देश हैं, जो महिलाओं को कॉम्बैट यूनिट्स में भी भरती करने लगे हैं। इसके अलावा कई और देश हैं, जहां युद्ध और आंतरिक हालातों के हिसाब से आर्मी में महिलाओं के काम डिसाइड किए गए हैं।

आज के आर्टिकल में हम आपको ऐसे देशों के बारे में बताएंगे जहां महिलाएं कॉम्बैट्स के तौर पर काम कर रही हैं। 

चीन- 

china army

चीन की आर्मी दुनिया की सबसे बड़ी आर्मी में से एक है। जिस कारण बीते सालों में चीन की सेना को बढ़ाकर पड़ोसी देशों से आक्रामक रवैया अपनाया है। जिसमें चीन ने बड़ी तेजी से महिलाओं को भर्ती करना शुरू किया है। चीन की आर्मी में महिलाओं की 5% भागीदारी देखने को मिलती है, जिसका मतलब यह है कि लगभग 53,000 से ज्यादा महिलाएं चीन की आर्मी में काम कर रही हैं। बीते समय में चीन की आर्मी में महिलाओं की मौजूदगी बड़ी तेजी से बढ़ती जा रही हैं। यहां महिलाएं युद्ध के लिए तैयार की जाती हैं, इसके अलावा टैंक और फाइटर प्लेन चलाने का काम भी करती हैं।

भारत -

indian army

भारत में इस समय 36,000 महिलाएं सेना में अपनी सर्विस दे रही हैं। जिनमें से कई महिलाएं ऐसी हैं जो कॉम्बैट सर्विस दे रही हैं। कुछ समय पहले ही थल सेना में भी महिलाओं के कॉम्बेट रोल पर काम करने का फैसला लिया गया है। जिसके बाद महिलाएं अब टैंक और प्लेन चलाने के साथ-साथ वार जोन पर भी अपॉइंट की जाएंगी। वायु सेना में महिलाएं काफी पहले से ही फाइटर पायलट के तौर पर काम करती आ रही हैं। आने वाले समय में आर्मी में महिलाओं के लिए और रास्ते भी खुल जाएंगे।

 इसे भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सेना की 39 महिला अफसरों को मिलेगा परमानेंट कमीशन,जानें पूरी खबर

अमेरिका -

american army

अमेरिका की आर्मी दुनिया कि सबसे ताकतवर आर्मी में से एक है। यहां की आर्मी में लगभग 4,76,000 सैनिक अभी अपनी सेवा दे रहें। जिनमें से 74,000 महिलाएं इस वक्त आर्मी में अपनी सेवा दे रही हैं। यहां कि महिलाएं 1775 से 1783 में पहले विश्व युद्ध के दौरान महिलाओं ने आर्मी में नॉन कॉम्बैट यूनिट्स में काम किया। इसके बाद दूसरे विश्व युद्ध के दौरान भी महिलाओं ने आर्मी में बढ़-चढ़कर अपनी सेवा दी।

इस दौरान कई महिलाओं को गिरफ्तार किया गया और कई महिलाओं की हत्या कर दी गई। आज अमेरिका की महिलाएं हर यूनिट में अपनी सेवाएं देती हैं। युद्ध मैदानों पर भी महिलाओं की तैनाती की जाती है।

नॉर्थ कोरिया - 

north korea

नॉर्थ कोरिया एक तानाशाह शासित देश है। यहां का तानाशाह समय-समय पर न्यूक्लियर टेस्ट किया करता है, इस वजह से लोग इस देश की गतिविधियों पर नजर रखा करते हैं। इस वजह से यहां का तानाशाह देश की सुरक्षा के लिए महिलाओं को भी शामिल करता है।

नॉर्थ कोरिया में 9,50,000 लोग आर्मी में शामिल हैं, जिसमें 3,80,000 से ज्यादा महिलाएं हैं। नॉर्थ कोरिया में कुल 40% महिलाएं भर्ती हैं। जो किसी भी महिला आर्मी की संख्या से बहुत ज्यादा है, इस देश में भी महिलाओं को कॉम्बेट सेक्टर में भेजा जाता है। जहां उन्हें टैंक, हथियार और फाइटर प्लेन चलाने का काम भी दिया जाता है। 

इसे भी पढ़ें- ये हैं भारत की सबसे मजबूत महिला पॉलिटिशियन

रूस -

rusian army

रूस में लगभग 10% महिलाएं आर्मी में सेवाएं दे रही हैं। जहां उन्हें अलग-अलग रोल के हिसाब से काम दिए गए हैं। रूस दुनिया का पहला ऐसा देश था जिसने अपने यहां की महिलाओं को कॉम्बैट के तौर पर भर्ती करना शुरू किया। जिसके बाद ही अन्य देशों ने महिलाओं को भी आर्मी में कॉम्बैट में जाने का मौका मिला। पहले विश्व युद्ध के दौरान महिलाओं ने केवल स्वास्थ्य सर्विस दी थी। युद्ध के बाद ही रूस ने महिलाओं को कॉम्बैट में शामिल करना शुरू किया।

Recommended Video

पाकिस्तान -

park army

हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान भी लगातार अपनी आर्मी को बढ़ाने के प्रयास कर रहा है। हालांकि अभी पाकिस्तान में महिलाओं का रोल अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है, पर इसके बावजूद भी यह उन इस्लामिक देशों में से एक है जहां महिलाओं को आर्मी में भर्ती होने की आजादी है।

यहां की थल सेना में महिलाओं को कॉम्बैट के तौर पर काम करने की आजादी नहीं है, पर महिलाएं वायु सेना में बतौर फाइटर कॉम्बैट के तौर पर काम कर सकती हैं। पाकिस्तान में अभी लगभग 4000 महिलाएं काम कर रही हैं। जिनमें से ज्यादातर महिलाएं नर्स या स्टाफ के तौर पर अपनी सर्विस देती हैं।

तो ये हैं वो देश जहां महिलाएं आर्मी में एक्टिवली काम कर रही हैं। आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।

Image Credit -wikipedia and google searches, rte image