शादी जीवन के अहम फैसलों में से एक है। शादी करने से पहले हमेशा इस बात की जांच कर लेनी चाहिए कि जिस इंसान के साथ आप अपनी पूरी जिंदगी बिताने वाली हैं वह स्वभाव में कैसा है? सही से पऱखने के बाद ही कोई फैसला लेना चाहिए। आमतौर पर ऐसा माना जाता है कि लव मैरिज में ज्यादा परेशानी आती है। इस सोच को अमेरिका के एक सर्वे के द्वारा बल मिला है कि 80 प्रतिशत लव मैरिज करने वाले कपल्स मानते हैं कि शादी के बाद उनके पार्टनर का व्यवहार बदल गया है।

इस लेख के जरिए हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देने वाले है जिससे आप यह पहचान कर सकती हैं कि आपका पार्टनर शादी के बाद बदल तो नहीं जाएगा। अगर उनमें भी यह 5 आदतें हैं तो शादी करने से पहले एक बार फैसले पर दोबारा विचार कर लें-  

1. रिश्ते और शादी को लेकर है कंफ्यूज

marriage decision  inside

कहते है कि प्यार करना जितना आसान होता है रिश्ता निभाना उतना ही मुश्किल होता है। कई बार दो लोग रिश्ते में तो बहुत जल्दी आ जाते हैं पर जब कमिटमेंट की बारी आती है तो कंफ्यूज होने लगते हैं। यह कंफ्यूजन आपके रिश्ते के लिए बिलकुल भी ठीक नहीं है। कभी-कभी लोग परिवार वालों के दबाव में शादी के लिए हां कर देते हैं पर बाद में दिल से रिश्ते को स्वीकार नहीं पाते। ऐसे में रिश्ता टूटने लगता है। आपको अपने पार्टनर के साथ बैठकर बात करनी चाहिए और उनकी राय जाननी चाहिए। शादी की बातों पर वह गुस्सा हो रहें है तो समझ लीजिए की यह रिश्ता आपके लिए ठीक नहीं है। यह संकेत है कि सामने वाला अपना भविष्य आपके साथ नहीं देख रहा है।

इसे जरूर पढ़ें: ब्रेकअप के बाद कर रही हैं शादी की प्लानिंग तो इन बातों का रखें ख्याल

2. रिश्ते में विश्वास की कमी होना

marriage decision  inside

किसी भी रिश्ते में सबसे अहम कड़ी विश्वास होता है। पार्टनर्स को एक दूसरे पर विश्वास होना ही चाहिए। प्यार में लोग एक दूसरे के लिए पजेसिव होते हैं पर अगर यही नेचर ज्यादा बढ़ जाए तो परेशानी का कारण बन सकता है। यह रिश्ते में शक और जलन पैदा कर देता है। कई बार लोग इतना शक करने लगते हैं कि एक दूसरे के सोशल मीडिया तक पर नज़र रखने लगते हैं। यह चीज़ें किसी भी रिश्ते को नुकसान पहुंचाती हैं और वह खोखला होने लगता है। ऐसे आपको इस बात पर विचार करने की जरूरत है कि आप इतना शक करने वाले व्यक्ति के साथ अपनी पूरी जिंदगी बिताना चाहती हैं या नहीं।    

3. सोच में बहुत अलग होना

marriage decision  inside

यह एक बहुत नार्मल सी बात है कि दो लोगों की सोच थोड़ी बहुत तो अलग ही होगी। कभी-कभी लव मैरिज में भाषा और रीति-रिवाज भी अलग-अलग होते हैं। लेकिन, अगर आप दोनों की सोच में बहुत बड़ा अंतर है तो यह संकेत है कि आप दोनों बहुत अलग-अलग इंसान हैं। शादी का फैसला लेने से पहले आप इस बारे में दोबारा विचार कर लें नहीं तो बाद में रिश्ते में खटास आ सकती है। दो लोगों को साथ रहने के लिए एक-दूसरे के परिवार और प्रोफेशन को भी समझना पड़ता है। इसलिए आप आपने पार्टनर से सभी बातों पर डिस्कशन करें और तभी कोई फैसला लें।

इसे जरूर पढ़ें: पार्टनर से हैं दूर तो सच और झूठ की इस तरह करें पहचान 

4. दोस्त परिवार वालों से परेशानी होना

marriage decision  inside

किसी भी व्यक्ति को यह समझने की जरूरत होती है कि एक इंसान को अपना लेने से रिश्ते नहीं बनते। उस इंसान के साथ-साथ आपको उसके पूरे परिवार और दोस्तों को भी अपनाना पड़ता है। कभी-कभी पार्टनर्स को एक दूसरे के परिवार और दोस्तों से परेशानी होने लगती है। इस कारण दोनों के रिश्ते पर असर पड़ता है। अगर आपके पार्टनर चाहते हैं कि आप अपने परिवार और दोस्तों से कट ऑफ कर लें तो यह ठीक बात नहीं है। ऐसा होने पर बात करें और हल निकालें नहीं तो रिश्ते पर दोबारा विचार करें। यह छोटी-छोटी बातें आपकी आगे की जिंदगी पर असर डाल सकती हैं।

Recommended Video

5. बार-बार नाराज़ होना और ताना मारना

marriage decision  inside

आपके पार्टनर को यह आदत है कि वह छोटी-छोटी बातों पर नाराज़ हो जाते हैं और आपको ताना मारते हैं तो यह बात बिलकुल भी ठीक नहीं है। कई बार लोग पार्टनर के रंग रूप पर भी ताना कस देते हैं। यह संकेत है कि आपका पार्टनर आपकी इज्जत नहीं करता और शादी के बाद आप दोनों में तनाव पैदा हो सकता है। अगर आपके पार्टनर में भी यह आदत है तो शादी के फैसले से पहले विचार कर लें।  

इन टिप्स से आप आपने पार्टनर की ठीक से पहचान कर सकती हैं जिससे आपकी आगे की लाइफ ठीक और खुशहाल रहेगी। आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: Freepick.com