• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Hema Pant
  • Editorial

पुदीना के पौधे की देखभाल करने का तरीका जानें

पुदीना का पौधा बेहद गुणकारी होता है। इसलिए इसका इस्तेमाल दवाई बनाने से लेकर खाने का स्वाद बढ़ाने तक के लिए किया जाता है। 
Published -08 Apr 2022, 12:28 ISTUpdated -08 Apr 2022, 14:06 IST
author-profile
  • Hema Pant
  • Editorial
  • Published -08 Apr 2022, 12:28 ISTUpdated -08 Apr 2022, 14:06 IST
Next
Article
tips to take care of mint plant

पुदीना को ताजगी और मसालेदार सुंगध के लिए जाना जाता है। इसी कारण से पुदीना का इस्तेमाल ज्यादातर चटनी, ड्रिंक या फिर खाने की गार्निशिंग के लिए किया जाता है। बता दें कि लंबे तने ऊपर की ओर बढ़ते हैं और ऊपर की ओर ही फूलते हैं। पुदीना के पौधे की जड़ें वहीं बनती हैं, जहां तना मिट्टी को छूता है, जिससे पुदीने का पौधा फैल सकता है। 

क्या आपने भी अपने घर में पुदीना का पौधा उगाया है? लेकिन समस्या यह है कि पौधा जल्दी खराब या मुरझा जाता है? तो इसका मतलब है कि आप पुदीने के पौधे की सही तरीके से देखभाल नहीं कर रही हैं। आपको बता दें कि एक अच्छे पौधे के लिए कई सारी चीजें जरूरी होती हैं, जिसमें पानी, तापमान और रोशनी शामिल है। इसलिए आपको इन सभी चीजों का ध्यान रखना चाहिए। आज इस आर्टिकल में हम आपको पुदीना के पौधे की देखभाल करने का सही तरीका बताएंगे। 

बीज से उगाएं पुदीना का पौधा

tips to grow mint plants

क्या आप जानती हैं कि आप बीज से भी पुदीना का पौधा उगा सकती हैं? लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि पुदीने के पौधे के कुछ प्रकार को बीज से उगाया नहीं जा सकता है। आप ऑनलाइन या मार्केट जाकर भी पुदीना के बीज खरीद सकती हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि बीज ज्यादा महंगे भी नहीं होते हैं। चलिए जानते हैं बीज से पौधा उगाने का तरीका।

इस तरह उगाएं पौधा

  • सबसे पहले पुदीना के बीज को गमले की मिट्टी में हल्के से कवर कर दें।
  • जब तक बीज अंकुरित नहीं होता है, तब तक मिट्टी का नम होना जरूरी है।
  • इस प्रक्रिया में करीब 10 से 15 दिन लगते हैं। 
  • बीज से उगाए जाने वाले पौधे दो महीने के भीतर ही उगने लगते हैं। 

रोशनी का खास ध्यान रखें

sun rays for mint plant

पुदीना के पौधे की देखभाल के लिए सबसे ज्यादा जरूरी धूप होती है। लेकिन अगर पौधे को सही मात्रा में धूप न मिले या फिर ज्यादा मिले तो इससे पौधा खराब भी हो सकता है। पुदीना के पौधे को उगने के लिए फुल सन चाहिए होता है। लेकिन आपको पुदीने के पौधे को दिन के समय में धूप में नहीं रखना चाहिए। इससे पौधा खराब हो सकता है। पुदीना को कभी भी छाया में न रखें। इससे पुदीना के पत्ते कम सुंगधित होते हैं। 

कैसी मिट्टी का करें उपयोग?

mint plant caring tips

हालांकि, आप पुदीना के पौधे के लिए किसी भी प्रकार की मिट्टी का इस्तेमाल कर सकती हैं। लेकिन अगर आप चाहती हैं कि पुदीना का पौधा कभी खराब न हो तो इसके लिए आपको स्लाइट एसिडिक से लेकर न्यूट्रल पीएच वाली ही मिट्टी का उपयोग करना चाहिए। इसके अलावा एक अच्छे पौधे को उगाने के लिए सॉइल ड्रेनेज होना बेहद जरूरी है। (मनी प्लांट केयरिंग टिप्स)

इसे भी पढ़ें: सिर्फ कटिंग से घर पर उगा सकते हैं पुदीना, जानिए कैसे

पानी देने का सही तरीका

mint plant growing tips

पुदीना के पौधे के लिए हमेशा नम मिट्टी का ही उपयोग करना चाहिए। गीली मिट्टी पौधे को खराब कर सकती है। अगर पौधे के एक इंच नीचे मिट्टी सूखी होती है तो आपको पौधे में थोड़ा सा पानी डालना चाहिए। अगर पुदीना का पत्ता मुरझाने लगता है तो इसका मतलब है कि पौधे को अधिक नमी की जरूरत है। आपको हमेशा पुदीने के पौधे को सुबह शाम पानी देना चाहिए। इससे जब दिन में तापमान बढ़ने लगेगा तो पौधे में नमी बनी रहेगी। (एलोवेरा का पौधा लगाने का तरीका)

इसे भी पढ़ें: बीजों के अलावा पत्तों से भी उगा सकते हैं यह पौधे, जानिए

तापमान कैसा हो?

क्या आप जानते हैं कि पुदीना के पौधे के कई प्रकार होते हैं। इसलिए यह पौधे की प्रजाति पर निर्भर करता है कि उसे कैसा तापमान चाहिए। लेकिन ज्यादातर पुदीना के पौधे अनुकूल होते हैं। उदाहरण के लिए पुदीना (मेंथा पिपेरिटा) बहुत ठंडा होता है, जिसके कारण यह ठंडे तापमान को झेल सकता है। पुदीने के पौधे कम नमी में खराब हो सकते हैं। यदि आप अपने पुदीने को घर के अंदर उगा रही हैं, तो पर्याप्त मात्रा में पानी डालें। पौधे को कंकड़ और  पानी से भरी कंटेनर पर सेट करें। शुष्क सर्दियों के दौरान यह विशेष रूप से आवश्यक है। (तुलसी का पौधा लगाने का तरीका)

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़े रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।

Image Credit: Shutterstock & Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।