जब किसी से प्यार होता है तो दुनिया बहुत खूबसूरत लगने लगती है। एक-दूसरे की केयर, मस्ती भरे खुशनुमा पल, लॉन्ग ड्राइव, खूबसूरत जगहों की सैर, ये सभी अहसास पार्टनर के साथ रिश्तों को और भी ज्यादा मजबूत बना देते हैं। जब पार्टनर के साथ अंडरस्टेंडिंग बेहतर हो जाती है तो रिश्तों के बीच के फासले मिट जाते है। ऐसे समय में बहुत सी महिलाएं अपने सोशल मीडिया के पासवर्ड्स भी अपने पार्टनर के साथ साझा कर लेती हैं। हालांकि यह चीज रिलेशनशिप में बहुत कॉमन है, लेकिन अगर ऐसा करते हुए महिलाओं को थोड़ी सजगता जरूर रखनी चाहिए। 

रिश्ते में बढ़ता है विश्वास

things to take care while giving access your partner to social media inside

जब आप अपने पार्टनर से निजी जानकारियां शेयर करती हैं तो यह दर्शाता है कि आप उनके लिए कितनी ज्यादा डेडिकेटेड हैं और उनकी यकीन रखती हैं। इस कदम से आप अपने पार्टनर का भरोसा जीत सकती हैं। यह चीज आपके रिलेशनशिप में पारदर्शिता लाती है, जो किसी भी रिलेशनशिप को आगे बढ़ाने के लिए बेहद जरूरी माना जाता है। रिलेशनशिप में इस तरह की छोटी-छोटी चीजों की अहमियत बहुत ज्यादा होती है और यह आपके रिश्ते को लंबे दौर में काफी मजबूती देती है। 

इसे जरूर पढ़ें: जेनेलिया-रितेश के रिश्‍ते की ये 5 अनोखी बातें आपकी शादीशुदा जिंदगी को खुशहाल बना देंगी

सोशल मीडिया एक्सेस देते हुए कुछ बातों का रखें ध्यान

अगर आप नेटफ्लिक्स या हॉट स्टार जैसे ऐप्स के पासवर्ड्स साझा करते हैं तो आज के समय में यह चीज बहुत सामान्य हो चुकी है। इससे आपकी निजता में किसी तरह का दखल नहीं होगा, लेकिन अगर आप अपने फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम आदि पर अपने पार्टनर को जाने की इजाजत देती हैं, उसके साथ अपने पासवर्ड्स शेयर करती हैं तो इस दौरान आपको कुछ चीजों अहम बातों का खयाल रखना बहुत जरूरी है। आपको यह जरूर सोचना चाहिए कि क्या आप दोनों अपने रिश्ते में मैच्योर हो चुके हैं कि एक-दूसरे की फीलिंग्स को समझ सकें।

अगर आप किसी दोस्त के साथ कोई तस्वीर शेयर करें तो मुमकिन है कि उससे आपके पार्टनर को जेलसी फील हो या फिर आपके मेल फ्रेंड्स की किसी टिप्पणी से वे नाराज हो जाएं। ये भी मुमकिन है कि प्राइवेट मैसेज पर वे आपके पार्टनर से जुड़ी कोई ऐसी राय दे दें, जो आपके पार्टनर को ना अच्छी लगे। इन चीजों की जानकारी मिलने पर नेचुरली आपके पार्टनर को बुरा लग सकता है। साथ ही इससे कई तरह की गलत-फहमियां भी हो सकती हैं, जिससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

इसे जरूर पढ़ें: लाइफ पार्टनर को खुश रखना जरूरी है, जानिए इसके पीछे की सबसे अहम वजह

संवेदनशील जानकारियां देने से पहले हो जाएं सावधान

आमतौर पर किसी व्यक्ति से मिलते-जुलते हुए अगर वह अच्छा लगने लगता है तो धीरे-धीरे एक रिश्ता जुड़ने लगता है, लेकिन विश्वास धीरे-धीरे विकसित होता है। किसी व्यक्ति को जानने और समझने में कई बरस लग जाते हैं। कोई व्यक्ति अपने मन में क्या सोच रहा है, इस बारे में आप सिर्फ अंदाजा ही लगा सकती हैं। इसीलिए अगर आप अपने से जुड़ी कोई भी कॉन्फिडेंशियल या सेंसिटिव इन्फॉर्मेशन शेयर करने जा रही हैं तो इससे पहले आपको सोचने की जरूरत है कि आपको ऐसा करना चाहिए या नहीं। ऐसा इसलिए क्योंकि कई बार पार्टनर सामने से खुद को जिस तरह से पेश करते हैं, वैसे असलियत में नहीं होते। धोखा मिलने पर कई बार महिलाएं बुरी तरह टूट जाती हैं। गलत व्यक्ति के हाथ में सोशल मीडिया के निजी अकाउंट्स की जानकारी हो तो महिलाओं की प्राइवेसी को गंभीर खतरा पैदा हो सकता है। निजी सूचनाओं तक पहुंच और तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ जैसी घटनाएं अक्सर ही सुनने को मिलती हैं, जिससे महिलाओं को सतर्क रहने की जरूरत है। 

इन चीजों को देखते हुए अगर आप अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स की जानकारी अपने पार्टनर से साझा ना करें तो यह आपके लिए ज्यादा बेहतर होगा। लंबी कोर्टशिप या फिर शादी के बाद अगर आपकी अंडरस्टैंडिंग बहुत अच्छी हो चुकी हैं तो आप इस बारे में जरूर सोचें, लेकिन सोशल मीडिया अकाउंट्स की निजी जानकारी साझा करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपको हमेशा सजग रहने की जरूरत होगी।