कपल के बीच आपसी अंडरस्टैडिंग होना बेहद जरूरी है, लेकिन अगर वह अंडरस्टैडिंग मिसअंडरस्टैडिंग में बदल जाए तो रिश्ता टूटने में देर नहीं लगती। गलतफहमी का बीच शक का एक ऐसा पौधे को जन्म देता है, जिससे सामने वाले व्यक्ति की हर बात गलत ही नजर आती है। ऐसे में रिश्ते से प्यार और खुशहाली कहीं खो जाती है। इसलिए तो यह कहा जाता है कि कपल के बीच गलतफहमी के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए और अगर किसी वजह से आपके बीच गलतफहमी हो भी जाती है तो यह जरूरी है कि आप उसे जितना जल्द हो सके, सुलझा लें।

हालांकि कई बार व्यक्ति का अपना अहम् ही उनके रिश्ते के बीच आ जाता है और इसलिए दोनों में से कोई भी व्यक्ति आगे आकर उस गलतफहमी को दूर करने की कोशिश नहीं करता। ऐसे में रिश्ते में मनमुटाव, झगड़े और प्रॉब्लम बढ़ते ही जाते हैं। कई बार तो इसके कारण रिश्ता टूट ही जाता है। हालांकि अगर आप चाहती हैं कि एक छोटी सी गलतफहमी के कारण आपका रिश्ता ना टूटे तो ऐसे में आप इन आसान टिप्स को अपनाकर गलतफहमियों को दूर कर सकती हैं-

अनुमानों पर करें विचार

avoid misunderstaning in relatonships

रिश्ते में गलतफहमी का एक सबसे बड़ा कारण है पूर्वानुमान। दरअसल, जब दो व्यक्ति एक रिश्ते में होते हैं तो दोनों का ही चीजों को देखने का नजरिया अलग होता है और यही कारण है कि जब आप किसी बात को किसी संदर्भ में कहती हैं तो सामने वाला व्यक्ति उसे कुछ और समझ लेता है, जिससे गलतफहमियां पैदा होती है। इसलिए अगर आपने किसी बात का कोई निष्कर्ष निकाला है तो पहले अनुमानों पर भी विचार करें।

इसे जरूर पढ़ें- Vastu Tips: सास-बहू का रिश्ता बनेगा प्यारा, अगर करेंगी ये 7 वास्तु उपाय

ईगो को रखें दूर

avoid misunderstaning in relatonships

अगर आप सच में चाहती हैं कि आपके बीच गलतफहमियां पैदा ना हो तो इसके लिए आपको ईगो को दूर रखना होगा। अगर आपको ऐसा लगता है कि आपके बीच की गलतफहमी के कारण आपका आपसी प्यार कम हो रहा है तो ऐसे में अपने अहम् को बीच में ना लाएं और खुद की पहल करते हुए बातचीत के जरिए गलतफहमी को दूर करने की कोशिश करें

इसे जरूर पढ़ें- जानिए रिलेशनशिप से पहले फ्रेंडशिप क्यों है जरूरी

सुनें दूसरे की बात

avoid misunderstaning in relatonships

गलतफहमी दूर करने का सबसे आसान और प्रभावी तरीका है कि आप अपने पार्टनर की बात बेहद धैर्यपूर्वक सुनें। अक्सर ऐसा होता है कि हम सिर्फ अपनी बात सुनना चाहते हैं और दूसरे की बात सुनने में कोई रूचि नहीं होती। जिससे कारण दोनों पार्टनर्स में से कोई भी एक-दूसरे का पक्ष नहीं समझ पाता और रिश्ते में गलतफहमी पैदा होती है।

Recommended Video

इसलिए सबसे पहले अपने पार्टनर की बात सुनें। इससे आपको उनकी बात समझने में आसानी होगी और फिर आप अपना पक्ष उन्हें समझाएं। सिर्फ एक इसी स्टेप से ही आप अपने रिश्ते को किसी भी गलतफहमी से सिक्योर कर सकती हैं।

तीसरे की ना हो एंट्री 

avoid misunderstaning in relatonships

अपने रिश्ते के बीच की प्रॉब्लम या गलतफहमी को दूर करने के लिए आप भूल से भी यह गलती ना करें। अक्सर ऐसा होता है कि जब कपल्स के बीच गलतफहमी पैदा होती है तो ऐसे में वह प्रॉब्लम को सॉल्व करने के लिए फैमिली मेंबर्स, दोस्त या रिश्तेदार की मदद लेते हैं। उस समय भले ही रिश्ते में शांति हो जाए, लेकिन वास्तव में इससे समस्या और भी ज्यादा बढ़ जाती है। इसलिए कोशिश करें कि आप दोनों अपने बीच की गलतफहमी को आपस में ही सुलझाएं।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।