दिवाली पूजा के समय कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए। इन बातों का ध्यान रखने से भगवान गणेश और मां लक्ष्मी प्रसन्न हो जाते हैं। दिवाली फेस्टिवल का जश्न छोटी दिवाली से शुरू होकर भैया दूज पर खत्म होता है। हालांकि, दिवाली दो ही दिन की होती है लेकिन दिवाली के बाद भी भैया दूज तक जश्न का माहौल बना रहता है। 

दिवाली वाले दिन सभी लोग अपने घर में मां लक्ष्मी के आगमन की तैयारियां करते हैं। इस दिन भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है। इस साल 7 नवंबर को दिवाली है और इस दिन भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा करने के लिए कौन सा सही समय रहेगा, इस बारे में जाने-माने पंडित अमित का कहना है कि इस दिन शाम 6 बजे से लेकर 7 बजकर 45 मिनट तक पूजा करने का सही समय है। साथ ही अमित पंडित ने भी ये भी बताया कि किस समय पर दिवाली पूजा नहीं करनी है और कौन सा समय सबसे ज्यादा सही है। तो चलिए जानते हैं कि दिवाली पूजा करते टाइम किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। 

भगवन गणेश की इस प्रतिमा की करें पूजा 

दिवाली वाले दिन भगवान गणेश की ऐसी प्रतिमा की पूजा करनी चाहिए जिसमें उनकी सूंड बाएं तरफ हो। ऐसी प्रतिमा की पूजा दिवाली वाले दिन करने से भगवन गणेश प्रसन्न होते हैं। 

diwali puja muhurat puja vidhi

भगवान गणेश को चढ़ानी चाहिए ये चीजें 

दिवाली की पूजा करते टाइम भगवान गणेश को बेसन के लड्डू का भोग लगाना चाहिए। साथ ही गणेश जी को पीले वस्त्र चढ़ाने चाहिए। 

diwali puja muhurat puja vidhi

मां लक्ष्मी को चढ़ानी चाहिए ये चीजें 

अगर आप इस दिवाली मां लक्ष्मी को प्रसन्न करना चाहती हैं तो आपको उन्हें लाल वस्त्र चढ़ाने चाहिए। अमित पंडित का कहना है कि मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए उन्हें कमल के गट्टे की माला और कमल का फूल जरूर चढ़ाना चाहिए। मां लक्ष्मी को दिवाली वाले दिन खीर का भोग लगाना चाहिए। 

Read more: दिवाली को यादगार मनाने के लिए इन 4 जगहों की रौनक जरूर देखें

दिवाली पूजा में इन चीजों को जरूर करें शामिल 

दिवाली पूजा के लिए रोली, चावल, चंदन, घी, मेवे, खील, बताशे, धूप, कपूर, घी या तेल से भरे हुए दीपक, कलावा, नारियल, पान-सुपारी, लौंग, इलायची, गंगाजल, फल, फूल, मिठाई, दूब, चौकी, कलश, फूलों की माला, शंख, लक्ष्मी-गणेश की मूर्ति, थाली, चांदी का सिक्का और दिए समान जरूर रखें। 

diwali puja muhurat puja vidhi

भगवान गणेश और मां लक्ष्मी को एक साथ चढ़ाए ये चीजें 

दिवाली वाले दिन भगवान गणेश और मां लक्ष्मी को खुश करने के लिए उन्हें 21 हरि घास (दुर्वा घास) जरूर चढ़ानी चाहिए। साथ ही धनिया और गुड़ भी चढ़ाना चाहिए। 

Read more: 7 ऐसे लक्ष्मी गणेश मंदिर जहां जाकर पूजा करने से आपको मिलेगा धन

घर में इन जगहों पर जलाने चाहिए दीये 

अमित पंडित ने बताया कि दिवाली वाले दिन घरों में देशी घी के दिये जलाने चाहिए। अगर देशी घी नहीं है तो आप सरसो के तेल के दीये भी जला सकती हैं। सबसे शुभ दीये जलाना देशी घी और तिल के तेल में उपयोगी माना हाता है। 

diwali puja muhurat puja vidhi

इन जगहों पर जलाने चाहिए दीये 

दिवाले वाले दिन घर के हर हिस्से में दीये जलाने चाहिए। जैसे एक दीया मंदिर में, एक तुलसी के पौधे के पास, घर के सभी कमरों में देशी घी या तिल के तेल के दीये जलाने चाहिए। घर के वॉशरूम और घर में कहीं पर भी बनी नाली के पास सरसो के तेल का दीया जलाना चाहिए। 

Read more: बनारस घूमने का है मन तो ये साल खत्म होने से पहले जरूर घूम आएं, जानिए वजह

पत्नी को अपने पति के इस ओर बैठकर करनी चाहिए पूजा 

दिवाली वाले दिन शादीशुदा एक महिला को अपने पति के दाहिनी ओर बैठकर भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। 

16 श्रृंगार करने चाहिए दिवाली वाले दिन 

घर की महिला को दिवाली पूजा करने से पहले 16 श्रृंगार करने चाहिए। इस बारे में अमित पंडित का कहना है कि दिवाली वाले दिन हम मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं इसलिए बहुत जरूरी है कि घर की महिलाएं भी अच्छे से तैयार होकर अपने पति के साथ मां लक्ष्मी की पूजा करें। 

diwali puja muhurat puja vidhi

दिवाली वाले दिन ये नहीं है सही समय 

दिवाली वाले दिन दोपहर 2 बजकर 38 मिनट से 4 बजकर 10 मिनट तक राहु काल है इस समय दिवाली की पूजा नहीं करनी चाहिए। 

दिवाली वाले दिन शुभ मुहूर्त 

दिवाली वाले दिन शाम 6 बजे से 7 बजकर 45 मिनट तक शुभ मुहूर्त हैं और शाम 7 बजकर 9 मिनट से लेकर शाम 7 बजकर 45 मिनट तक बहुत सही शुभ मुहूर्त है जिस समय भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा करने से विशेष लाभ प्राप्त होंगे। 

Recommended Video