दिल्ली में कोरोना महामारी की वजह से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। बेकाबू कोरोना महामारी पर लगाम लगाने के लिए दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन लगाने का फ़ैसला लिया है। आज रात 10 बजे से अगले सोमवार यानी 26 अप्रैल की सुबह तक दिल्ली में कम्प्लीट लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा। बता दें कि रविवार यानी 18 अप्रैल को कोरोना से पीड़ित लोगों की संख्या में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। वहीं शनिवार को कोरोना से पीड़ित 25,462 नए मामले सामने आए हैं। 

बता दें कि दिल्ली में लगातार हो रहे टेस्ट में हर तीसरा सैंपल पॉजिटिव आ रहा है। इससे पहले दिल्ली में वीकेंड लॉकडाउन लगाया गया था, लेकिन लोगों द्वारा सावधानी नहीं बरते जाने के बाद सरकार ने सख़्त फैसला लिया है। शनिवार को 25,462 कोरोना मामलों में अब तक 167 लोगों की मौत हो चुकी हैं। अस्पतालों में बेड के साथ-साथ अन्य संसाधनों की भी लगातार कमी हो रही है।

यहां रहेगी पूरी पाबंदी

areas of curfew in delhi

लॉकडाउन लगने के बाद कई जगहों पर पांबदी लगा दी गई है। लोगों को अब रेस्टोरेंट में बैठकर खाना खाने की अनुमति नहीं होगी, फिलहाल होम डिलीवरी की सुविधा भी नहीं होगी। रेस्टोरेंट  के अलावा जिम, स्पा, ऑडिटोरियम को पूरी तरह से बंद रखा जाएगा। वहीं अगर आप ट्रेन या फिर फ़्लाइट से सफर करने वाले हैं तो आपके पास कंफर्म टिकट होना अनिवार्य है, तभी आपको जाने की अनुमति दी जाएगी। वहीं किसी भी तरह की गैदरिंग यानी साभाओं (सामाजिक, धार्मिक या राजनीतिक) पर पूरी तरह से प्रतिबंध है। बिना किसी कारण के बाहर निकलने पर चलान लगेगा। 

इसे भी पढ़ें:  खूबसूरत एसेसरीज से लेकर ज्वैलरी आर्गेनाइजर बन सकते हैं बटन, जानिए

इन लोगों को मिलेगी छूट

curfew in delhi challan

जिन लोगों की शादी पहले तय हो चुकी है उन्हें दिल्ली सरकार अलग से पास उपलब्ध कराएगी। शादी में सिर्फ 50 लोगों को शामिल होने की अनुमति है। आवश्यक सेवाओं के अलावा प्राइवेट ऑफ़िस वर्क फ्रॉम होम करेंगे। वहीं गर्वमेंट ऑफ़िस सीमित लोगों के स्टाफ के साथ काम करेंगे। ''मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रवासी मज़दूरों से अपील की है वह घर वापस ना जाएं। सरकार उनकी देखभाल करेगी, यह एक छोटा सा लॉकडाउन है, जो सिर्फ़ 6 दिनों तक रहेगा। आपकी यात्रा में ये दिन बर्बाद हो जाएंगे ऐसे में यहीं रहें। सरकार आपका ख़्याल रखेगी और मैं यही हूं मेरा विश्वास कीजिए। अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि हमने यह फ़ैसला तब लिया है जब हमारे पास और कोई दूसरा ऑप्शन नहीं है। मुझे पता है कि लॉकडाउन से लोगों को उनके बिजनेस में काफ़ी नुकसान हो सकता है। ख़ासकर ग़रीब लोग और मज़दूर श्रमिकों के लिए।''

इसे भी पढ़ें: एक्ट्रेस समीरा रेड्डी कोरोना पॉजिटिव हो गई हैं, इन सेलेब्‍स ने भी झेला इसका कहर

मरीजों के लिए बढ़ाई जाएगी बेड 

delhi curfew

दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना मामलों की वजह से मरीजों के लिए बेड, ऑक्सीजन और अन्य तमाम चीज़ें ख़त्म हो रही हैं। कोरोना की यह लहर पिछले की तुलना में अधिक ख़तरनाक है, जिसकी वजह से लोग जल्दी चपेट में आ रहे हैं। वहीं मरीजों की संख्या को देखते हुए आने वाले दिनों में करीब 6000 बिस्तर बढ़ाए जाएंगे। दिल्ली सरकार ने इसमें आधे बेड्स को कोरोना पीड़ित लोगों के लिए आरक्षित करने के लिए अनुरोध किया है।

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।