भारतीय लोगों को मसालेदार खाना बेहद पसंद है। यही वजह कि यहाँ अचार का सेवन खूब किया जाता है। ज्यातार लोग इसे घर में ही बनाते हैं ताकी अधिक समय तक स्टोर किया जा सके। क्योंकि मार्केट से लाए गए अचार को लंबे वक्त तक स्टोर नहीं किया जा सकता है। ऐसे में अचार खत्म हो जाने के बाद अगर आप भी उसके जूस को फेंक देती हैं तो ऐसा बिल्कुल न करें, क्योंकि इसका इस्तेमाल कई तरीके से किया जा सकता हैं। भोजन में स्वाद बढ़ाने के अलावा भी अचार के जूस के कई अन्य फायदे हैं। इसलिए इन्हें फेंकने के बजाय यहां बताए गए तरीकों से उसका इस्तेमाल कर सकती हैं।

विनेगर की तरह करें इस्तेमाल

vinegar replacement

कई पकवानों में हम विनेगर का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन आप चाहें तो इसकी जगह अचार के जूस का इस्तेमाल कर सकती हैं। फ्लेवर बढ़ाने के अलावा यह पकवानों के स्वाद को भी बढ़ा देगा। आप अचार के रस का उपयोग लगभग किसी भी रेसिपी में कर सकती हैं, जिसमें सिरका का इस्तेमाल किया जाता है।

अचार बनाने में करें उपयोग

pickle making

आप चाहें तो बचे हुए जूस में और अचार लगा सकती हैं। गाजर, मूली या फिर हरी मिर्च जैसी सब्जियों के अचार में अधिक मसालों की आवश्यकता नहीं होती है और इसे लोग खाना अधिक पसंद भी करते हैं। ऐसे आप अचार के जूस में इन सब्जियों और फलों को काटकर और स्वादानुसार नमक और अन्य चीजों को डालकर धूप में रख दीजिए। कुछ दिन बाद यह खाने योग्य हो जाएंगे।

मैरिनेड करने का काम

Marinade meat

हम कई चीजों को मैरिनेड कर के बनाते हैं, खास कर मीट। अगर आप मीट में अचार का फ्लेवर लाना चाहती हैं तो उसे जूस से मैरिनेड करें। चिकन या फिर मीट को मैरिनड करने के लिए यह एक बेस्ट तरीका है, इससे न सिर्फ स्वाद बढ़ जाएगा बल्कि खुशबू भी अच्छी आएगी। मैरिनेड करने के लिए अन्य मसालों के साथ अचार के जूस को भी शामिल करें और मीट, फिश या फिर चिकन को कुछ घंटों के लिए छोड़ दें।

इसे भी पढ़ें: बेहद काम के हैं नींबू के छिलके, इन 10 तरीकों से करें इस्तेमाल

हेल्दी ड्रिंक

healthy drink by pickle juice

कई बार ड्रिंक बनाने के लिए अचार के जूस का इस्तेमाल किया जाता है। मितली या फिर पेट खराब होने पर अचार के बचे हुए जूस की ड्रिंक बना कर आप पी सकती हैं। हालांकि हेल्दी ड्रिंक बनाने के लिए आप किसी भी अचार के जूस का इस्तेमाल नहीं कर सकती हैं। नींबू के अचार का जूस या फिर कम मसाले और ऑयल वाले जूस का ही इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके अलावा आप चाहें तो सीने में हो रही जलन, हिचकी रोकने या फिर पीरियड से पहले होने वाले मसल क्रैम्प से निजात पाने के लिए भी अचार के जूस की ड्रिंक बना कर पी सकती हैं। अचार के जूस से बना ये ड्रिंक हमने ट्राई किया है, अगर आप चाहें तो ट्राई कर सकती है, लेकिन आपको इससे कोई समस्याएं होती है तो ऐसा करने से बचें। दरअसल अचार के रस में सोडियम की मात्रा अधिक होती है, जो मांसपेशियों में हो रही ऐंठन को रोकने में मदद कर सकती है।

Recommended Video

साफ-सफाई का काम

pickle juice for cleaning

अचार के जूस में क्लीनिंग एजेंट भी होते हैं, जिसका इस्तेमाल आप तांबे के बर्तन को चमकाने के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं। आप चाहें तो इसे ग्रिल ग्रेट्स को साफ करने के लिए भी इस्तेमाल कर सकती हैं। अगर बर्तन जल गया तो उसमें अचार का जूस डालकर पानी से भर दें, इसके बाद इसे छुटाना आसान हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: ऑर्गेनिक तरीके से घर पर ही उगा सकती हैं सब्जियां, जानिए कैसे!

पेड़-पौधों के लिए करें इस्तेमाल

pickle juice for gardening

कई ऐसे पेड़ और पौधे हैं जो अम्लीय मिट्टी में पनपते हैं। मिट्टी में अम्लता को बढ़ाने में मदद करने के लिए इन पौधों के आसपास अचार का रस डाल सकती हैं। हालांकि जूस को सीधे पौधों पर डालने से बचें, क्योंकि इससे नुकसान हो सकता है। वहीं उन्हीं अचार के जूस का इस्तेमाल करें जिनमें अम्लीय बढ़ाने की क्षमता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।