अमूमन लोग हिचकी आने पर सोचते हैं कि उन्हें कोई याद कर रहा होगा। इसलिए हिचकी आते ही वह अपने प्रियजनों का नाम लेना शुरू करते हैं कई बार नाम की कतार इतनी लंबी होती है कि उन्हें मन में दोहराते-दोहराते ही हिचकी बंद हो जाती है। मगर, कई बार ऐसा भी होता है कि हिचकी बंद ही नहीं होती बल्कि लगतारा हाती रहती है और परेशानी का सबब बन जाती है। आपको बता दें कि हिचकी आने की मुख्य वजह डायाफ्राम मांसपेशी होती है। सांस लेने में इस मांसपेशी की मुख्य भूमिका होती है। हिचकी आने की एक वजह वोकल कॉर्ड भी होती है। अगर इन दोनों के कार्यों में कोई भी रुकावट आती है तो हिचकी आना शुरू हो जाती है। ऐसा होता है तो आप कुछ घरेलू उपायों को अपना कर हिचकी को रोक सकती हैं। चलिए इन घरेलू उपायों के बारे में हम आपको बताते हैं। 

 इसे जरूर पढ़ें: केवल 7 स्टेप्स में ‘मिल्क हेयर मास्क’ से करें बालों की स्ट्रेटनिंग

how to stop continuous hiccups

चीनी 

अगर आपको लगातार हिचकी आ रही है और पानी पीने से भी यह नहीं रुख रही है तो आपको तुरंत ही एक चम्मच चीनी खा लेनी चाहिए। आपको लगभगर 30 सैकेंड तक अपने मुंह में चीनी को रखना है और धीरे-धीरे चूसना है। इसके बाद आप धीरे से इसे निगल जाएं। अगर हिचकी तब भी बंद न हो तो आप एक और चम्मच चीनी को फांक सकती हैं। दरअसल चीनी मुंह में मिठास उत्पन्न्ा कर देती हैं और इससे हिचकी बंद हो जाती है। 

इसे जरूर पढ़ें: इंस्टेंट सन टैनिंग दूर करने के आसान घरेलू उपया

शहद 

अगर आप चीनी न खाना चाहें तो आप शहद से भी हिचकी रोक सकती हैं। आप एक चम्मच शहद को मुह में रख लें और धीरे-धीरे इसे अंदर लेती जाएं। दरअसल शहद में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। कई बार गले में संक्रमण के कारण भी हिचकी आने लगती हैं ऐसे में शहद का सेवन आपको हिचकी से राहत दिलाता है। 

how to stop hiccups instantly at home

नींबू 

अगर आपको बहुत देर से हिचकी आ रही है और आपको डायबिटीज भी है तो जाहिर है आप शहद और चीनी नहीं ले सकती है। इस लिए आपको नींबू का ¼ भाग और थोंड़ी सी चीनी लेकर नीबू को चूस लेना चाहिए। दरअसल नींबू में सीट्रस होता है। यह हिचकी को रोकने की क्षमता रखता है। यह उन नसों को उत्तेजित करना है जिनके कारण आपको हिचकी आ रही होती है। 

सेब का सिरका 

सेब का सिरका भी हिचकी को रोकने में फायदेमंद है। अगर आपको बहुत देर से हिचकी आ रही है तो आपको 1 चम्मच सिरका, 1 चम्मच मेपल सिरप और 1 ग्लास गर्म पानी को मिला कर धीरे-धीरे उसे पीना चाहिए। इसेस आपकी हिचकी तुरंत ही रुक जाएगी। दरअसल, सिरका गले के फेरिंग्क्स को उत्तेजित करता है इससे हिचकी आना बंद हो जाती है। 

काली मिर्च 

आप लगातार आ रही हिचकी को रोकने के लिए काली मिर्च को भी चुन सकती हैं। काली मिर्च रक्त संचार में सुधार करने का कार्य करती है। इससे आप अच्छे से सांस भी ले सकती हैं और आपकी वोकोल कॉर्ड भी ढंग से कार्य करती रहती है। इसलिए गले में रक्त संचार सही रहे इसलिए आपको पानी के साथ काली मिर्च फांक लेनी चहिए। इससे आपकी हिचकी रुक जाएगी।