दोस्त हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा होते हैं। दोस्तों के साथ हम अपने लाइफ एक्सपीरियंस शेयर करते हैं, हंसी-मजाक करते हैं और बहुत से खुशनुमा पल बिताते हैं। वक्त जरूरत में सबसे पहले दोस्त ही काम आते हैं। अच्छे दोस्तों के साथ एक बेहतरीन सपोर्ट सिस्टम डेवलप होता है, दोस्तों के साथ होने से कॉन्फिडेंस मजबूत होता है। यही नहीं दोस्तों के साथ हर तरह की नेगेटिविटी और परेशानियां धुंधली पड़ जाती हैं और जिंदगी खुशनुमा नजर आती है। लेकिन अगर दोस्त ही दुश्मन बन जाए तो उससे खतरनाक कुछ भी नहीं होता। अगर किसी वजह से दोस्त नाराज हो जाए और अंदर ही अंदर आपके लिए मुश्किलें खड़ी करने लगे तो उससे निपटना बहुत ज्यादा मुश्किल होता है। दोस्त के दुश्मन बन जाने का अहसास बहुत देर से होता है और दोस्त से दूर होना भी बहुत तकलीफदेह होता है। लेकिन खुद को मजबूत रखने के लिए और पछतावे से बचने के लिए दोस्तों की शक्ल में मौजूद दुश्मनों से बचना बहुत जरूरी है। इन संकेतों से पहचानें कि आपका दोस्त रियलिटी में क्या आपकी दोस्ती के काबिल है और कहीं वह आपके खिलाफ षडयंत्र तो नहीं रच रहा-

दोस्त है मतलबी

how to handle friendship inside

अगर आपका दोस्त (मेल या फीमेल) हमेशा अपनी ही बातें करता रहे, अपने ही गुणगान में लगा रहे, अपनी चॉइसेस और अपनी प्रिफरेंस की ही बात करता रहे, जिसमें आप कहीं नहीं हैं तो आप समझ लीजिए कि इस दोस्ती में आपको तकलीफ ही होगी, क्योंकि ऐसा दोस्त आपकी फीलिंग्स की परवाह नहीं करेगा और ना ही आपकी दोस्ती को अहमियत देगा।  

इसे जरूर पढ़ें: रिलेशनशिप में ऐसा व्यवहार बर्दाश्त ना करें

नीचा दिखाने की कोशिश

क्या छोटी-छोटी चीजों में आपका दोस्त आपकी कमिया निकालने की कोशिश करता है, क्या वह बात-बात पर आपका मजाक बनाता है या आप पर तंज कसता है। अगर ऐसा है तो इस व्यवहार को आपको गंभीरता से लेने की जरूरत है, क्योंकि आपके लिए आपकी सेल्फ रेसपेक्ट बहुत जरूरी है। रिश्तों में अगर बराबरी ना हो तो उनमें बहुत जल्दी कड़वाहट आ जाती है, जिसका खामियाजा आपको भुगतना पड़ सकता है। अगर आपका दोस्त कभी आपसे सार्थक बातचीत नहीं करता तो इस बारे में आपको जरूर सोचना चाहिए। 

इसे जरूर पढ़ें: पति तनाव और डिप्रेशन में हैं तो इन बातों का खयाल रखने से मजबूत रहेगी रिलेशनशिप

आपकी कामयाबी से जलता है आपका दोस्त

how to handle toxic female friend inside

क्या दोस्त मन ही मन आपकी कामयाबी से जलता है और इसी वजह से आपको कंट्रोल करने की कोशिश करता है? यारी दोस्ती में कंट्रोल करने वाला बिहेवियर पहचानना बेहद मुश्किल होता है क्योंकि ऐसी बातें बहुत दोस्ताना तरीके से कहीं जाती हैं, जिनमें किसी तरह का शक करने की गुंजाइश नहीं होती। अगर आपके दोस्त के मन में कुछ और चल रहा है और आपको इसका छोटा सा संकेत भी मिलता है तो आपको इस बारे में और ध्यान देने की जरूरत है। अगर जॉब में तरक्की मिलने या रिलेशनशिप अच्छी होने पर आपके दोस्त को आपसे प्रॉब्लम है तो आपको उसके हावभाव से यह समझते देर नहीं लगेगी। ऐसी स्थिति में आपको उनकी बॉडी लैंग्वेज को बढ़ने का प्रयास करना चाहिए। 

आपको शर्मसार करने में उन्हें मजा आता है

क्या आपके दोस्त मजाक-मजाक में आपकी बेइज्जती करते हैं, ऐसी बातें कह देते हैं, जिससे आपको तकलीफ होती है तो आपको संभल जाना चाहिए। ऐसा दोस्त मजाक की आड़ में आपको शर्मसार करने की कोशिश करता है या फिर परेशान करता है। इस तरह के व्यवहार को जरूरत से ज्यादा बर्दाश्त करने पर आपका कॉन्फिडेंस कम हो सकता है और आपके भीतर नेगेटिविटी और झुंझलाहट आ सकती है। इससे आपकी ग्रोथ पर असर पड़ सकता है। ऐसे में जितनी जल्दी हो ऐसे दोस्त से अपना पीछा छुड़ाना बेहतर है। 

इमोशनली ब्लैकमेल करते हैं ऐसे दोस्त

ऐसे दोस्तों की एक और निशानी ये होती है कि वे हर वक्त अपनी बात मनवाना चाहते हैं और अगर आप काम उनके कहे अनुसार ना करें तो वे पैनिक करने लगते हैं। ऐसे दोस्त अक्सर अपनी बात मनवाने के लिए इमोशनल ब्लैकमेलिंग का सहारा लेते हैं। आपका भावनाएं भड़का कर वे अपना उल्लू सीधा करना चाहते हैं। उन्हें आपकी फीलिंग से ज्यादा अपना ईगो प्यारा होता है और हर हाल में वे अपनी खुशी चाहते हैं। 

ऐसे दोस्तों का साथ होने से बेहतर है अकेले होना। अगर आप ऐसे दोस्तों की संगत में हैं, तो आपको उन्हें जल्द से जल्द अपनी जिंदगी से बाहर कर देना चाहिए क्योंकि तभी आप सही मायने में तरक्की हासिल कर सकते हैं और खुश रह सकते हैं।