• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

गर्मियों में नीम के फूल का शरबत और ये स्‍पेशल रायता जरूर बनाएं, जानें रेसिपी

आज हम आपको गर्मियों की 2 स्‍पेशल रेसिपीज के बारे में बता रहे हैं जो सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने अपने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से शेयर की...
author-profile
Published -22 Apr 2022, 17:35 ISTUpdated -24 Apr 2022, 09:18 IST
Next
Article
neem flower sherbet and summer special raita

सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर अपने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से फैन्‍स के साथ फिटनेस, हेल्‍थ और डाइट से जुड़े टिप्‍स शेयर करती रहती हैं। उन्‍होंने एक नई सीरीज 'रेसिपी ऑफ इंडिया' की शुरुआत की है जिसमें वह अलग-अलग जगह की रेसिपीज से हमें रूबरू कराती हैं। रुजुता के अनुसार, इस सीरीज में प्रत्येक एपिसोड, किसी एक अलग जगह के देसी नुस्खा के बारे में बात करेगा जो 'पूरे भारत में, दुनिया भर में अपनाने लायक है।'  

आज हम आपको गर्मियों की 2 ऐसी रेसिपीज के बारे में बता रहे हैं जो रुजुता ने अपनी इस सीरिज के माध्‍यम से फैन्‍स के साथ शेयर की है। हमें उम्‍मीद है कि यह दोनों रेसिपीज आपको बेहद पसंद आएगी। आइए इसे बनाने के तरीके और फायदों के बारे में आर्टिकल के माध्‍यम से विस्‍तार में जानें।       

हिमालयन स्‍टाइल रायता 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar)

अपनी 'रेसिपी ऑफ इंडिया' सीरीज की पहली कड़ी में, दिवेकर ने पहाड़ी राज्य उत्तराखंड के हिमालयन स्‍टाइल के रायते के बारे में बात की। रायता गर्मियों की एक फेमस डिश है जिसे लगभग हर घर में बनाया जाता है। यह हल्का और फ्रेश होता है और आपके पैलेट को साफ करने का एक शानदार तरीका हैं। आप उन्हें विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों के साथ खा सकती हैं।

रुजुता दिवेकर ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें दिखाया गया है कि गर्मियों के लिए हिमालयन स्टाइल का एक अनोखा रायता कैसे बनाया जाता है। यह रायता जाखिया नामक स्‍पेशल सामग्री का इस्‍तेमाल करके बनाया जाता है, जो हेल्‍दी होने के साथ-साथ टेस्‍टी भी होता है।

रायते की रेसिपी शेयर करते हुए उन्‍होंने कैप्‍शन में लिखा, 'भोजन और लोग किसी भी जर्नी के दो अभिन्न अंग हैं। यह रायता उत्तराखंड के रूपिन-सुपिन क्षेत्र से ताल्‍लुक रखता है। मैंने इसे पहली बार तेज गर्मी की एक दोपहर में ट्रेक पर खाया था। इसे लोकल ककड़ी और पहाड़ी जड़ी-बूटी जाखिया को दही में मिलाकर बनाया जाता है। यह सिंपल लेकिन कुरकुरा और टेस्‍टी रायता रोटी-सब्जी या दाल खिचड़ी या पुलाव के साथ खाया जा सकता है।'  

रायते की विधि

  • थोडा़ सा दही लें और उसे फेंट लें ताकि वह सेमी सॉलिड हो जाए। 
  • फिर इसमें थोड़ा सा सरसों का तेल लेकर फेंटे हुए दही में डाल दें। 
  • इसके बाद खीरे को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें या कद्दूकस कर लें और मिश्रण में मिला दें। 
  • जखिया को पीसकर पेस्ट बना लें, कढाई में थोड़ा सा तेल (सरसों का असली स्वाद चाहते हैं) गरम करें। 
  • फिर जाखिया पेस्ट, हरी मिर्च के कुछ टुकड़े और नमक डालें। 
  • आंच धीमी रखें ताकि तड़का जले नहीं। 
  • फेंटे हुए दही के मिश्रण में तड़का डालें, आपका रायता तैयार है।

रायते में मौजूद सामग्री के फायदे

  • खीरा, गर्मी और मानसून में आसानी से मिलता है। यह शरीर को ठंडा करता है, मुंहासे, सूजन और कब्ज को दूर रखता है। जाखिया एक जंगली हिमालयी जड़ी-बूटी है, इसका इस्‍तेमाल व्यंजनों में क्रंच जोड़ने के लिए किया जाता है और इसके कई औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है।
  • खीरा एक ऐसी सब्जी है जिसे व्रत में खाया जाात है और जखिया तड़का आलू, अरबी, सूरन, कोलोकेशिया के पत्तों के साथ अच्छी तरह से मिलाया जाता है।
  • हिमालयन जाख्य या जाखिया, जिसे क्लियोम विस्कोसा के नाम से भी जाना जाता है, एक हिमालयी जड़ी बूटी है जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के हिमालयी व्यंजनों में किया जाता है। इसे डॉग सरसों या जंगली सरसों भी कहा जाता है।
  • यह छोटे, गहरे भूरे या काले बीज हैं। अधिकांश गढ़वाली लोग तड़के के लिए जीरा और सरसों के बजाय जखिया पसंद करते हैं क्योंकि इसकी तीखी-तीखी सुगंध और कुरकुरे स्वाद होता है। यह जीरे का अच्‍छा विकल्प है।

Recommended Video

नीम के फूल का शर्बत

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar)

रुजुता दिवेकर ने अपनी नई इंस्टाग्राम सीरीज- 'रेसिपी ऑफ इंडिया' के हिस्से के रूप में 'नीम के फूल के शर्बत' की दूसरी रेसिपी शेयर की है। इसके कैप्‍शन में लिखा, 'नीम के फूल का शर्बत' हैदराबाद का एक साधारण, लेकिन आकर्षक व्यंजन है। जबकि, हमने इम्‍यून सिस्‍टम को बढ़ाने के लिए पेट साफ करने वाले ड्रिंक और स्मूदी के बारे में बहुत कुछ सुना है, इस नीम के शर्बत का इस्तेमाल हमारी दादी-नानी न केवल हमारे पेट को साफ करने के लिए करती थीं, बल्कि हमारे सामान्य ज्ञान के लिए भी करती थीं।'

'यह शरबत प्रकृति का मौसमी उपहार है, क्योंकि नीम के फूल मार्च-अप्रैल में ही मिलते हैं। तो जब भी आप कर सकते हैं, इन फूलों का अच्छा उपयोग करें और अपने जीवन में आनंद जोड़ें।' 

सामग्री

  • 1 चम्मच नीम के फूल
  • छोटे टुकड़ों में कटा अदरक 
  • ताजा काली मिर्च 
  • कच्चा आम छोटे छोटे टुकड़ों में कटा हुआ

विधि

  • इसे बनाने का तरीका बहुत ही आसान है। 
  • गुड़ को पानी में डालें और 10 मिनट बाद बाकी सब कुछ डाल दें। 
दिवेकर के अनुसार, 'गुड़ गर्मी को मात देने और शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। यह शरीर को प्राकृतिक रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करता है। वास्तव में, लोग गर्मी के मौसम में मेहमानों को गुड़ का एक टुकड़ा पानी के साथ परोसते हैं।'

इसे जरूर पढ़ें: गर्मियों में खाना है कुछ हल्का तो बनाएं ये 3 डिशेज

आप भी गर्मियों की इन 2 स्‍पेशल रेसिपीज को घर पर बनाकर ट्राई कर सकती हैं। डाइट से जुड़ी ऐसी ही जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Article: Instagram (@Rujutadiwekar)

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।