Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    सहजन के पत्ते नहीं हैं बेकार, इन तरीकों से करें कुकिंग में इस्‍तेमाल

    आपने यकीनन मोरिंगा के कई फायदों के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या पत्तों का इस्तेमाल कुकिंग में किया है? अगर नहीं तो आइए जानते हैं। 
    author-profile
    Updated at - 2022-12-15,12:36 IST
    Next
    Article
    different uses of moringa leaves in cooking

    मोरिंगा एक तरह का पौधा है जिसका इस्तेमाल सदियों से होता चला आ रहा है। धनिया और मेथी की तरह इसका इस्तेमाल भी खाने में किया जाता है, बल्कि औषधि के रूप में भी इसे बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इसके लिए हम कह सकते हैं कि पौधा एक लेकिन फायदे अनेक।

    सहजन की सब्जी खाने में बेहद स्वादिष्ट होती है और इसमें मौजूद विटामिन-सी, आयरन, फाइबर, कैल्शियम, फास्फोरस, और मिनरल्स जैसे तत्व सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। सहजन के अलावा इसकी पत्तियों में भी सेहत का खजाना छिपा हुआ है। 

    मगर कई लोगों को सहजन के पत्तों का स्वाद अच्छा नहीं लगता है। ऐसे में हम सहजन के पत्ते कुकिंग में कई तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं। बस इसी के चलते हमने सोचा क्यों न कुछ रेसिपीज आपके साथ साझा की जाए, जिसे आप अपने आहार में आसानी से शामिल कर सकती हैं। 

    सहजन से बनाएं चाय

    Moringa tea

    मोरिंगा की पत्तियों के पाउडर से चाय बनाई जा सकती है, लेकिन अगर आपके पास ताजी पत्तियां हैं, तो पाउडर की जगह उनका उपयोग करें। आपको कुछ नहीं करना है बस पत्तों को निकालकर साफ करना है और नीचे बताए गए स्टेप्स से इस्तेमाल करना है। (कश्मीरी गुलाबी चाय बनाने का तरीका)

    सामग्री

    • 6 से 7- मोरिंगा की पत्तियां 
    • 1 इंच- दालचीनी का टुकड़ा 
    • 1/2 इंच- अदरक (बारीक कटी हुई) 
    • 1 चम्मच- पिसा हुआ गुड़
    • 1/2 चम्मच- नींबू का रस 
    • 1 कप- पानी 

    विधि 

    • चाय बनाने के लिए सबसे पहले एक प्लेट में साफ किए हुए पत्ते, दालचीनी का टुकड़ा, अदरक, निकालकर काट लें। 
    • अब गैस पर हल्की आंच पर पैन रखें और 1 कप पानी, पत्ते, दालचीनी का टुकड़ा, कटी हुई अदरक डालकर 5 मिनट तक पकने दें।  
    • जब पानी में उबाल आने लगे तो पिसा हुआ गुड़ डालना है और 2 मिनट तक पकाना है।  
    • अब मोरिंगा की चाय को एक कप में डालें और ऊपर से आधा नींबू निचोड़ लें, लेकिन गरमागरम चाय में आपको नहीं डालना है।  
    • बस आपकी मोरिंगा की चाय तैयार है, जिसे आप सर्व कर सकती हैं।  

    सहजन के पराठे

    सर्दियों में चाय के साथ पराठे खाने का बेस्ट ऑप्शन है। आपने यकीनन मेथी या बेसन के पराठे खाए होंगे, लेकिन इस बार मोरिंगा के पराठे बनाकर अपने परिवार को सर्व करें। बता दें कि  इसके लिए पत्तों को साबुत गेहूं के आटे और मसाले के साथ गूंथकर बनाया जाता है। बस आपको इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा। 

    सामग्री 

    How to make moringa paratha

    • 1 गुच्छा- सहजन के पत्ते 
    • 3 कप- पानी 
    • 1 इंच- अदरक 
    • 1- हरी मिर्च
    • 2 कप- गेहूं का आटा 
    • 1 चम्मच- अजवाइन
    • स्वादानुसार- नमक
    • 2 चम्मच- तेल 
    • आवश्यकतानुसार- पानी
    • तेल या घी

    विधि 

    • सबसे पहले आप आटे में नमक डालकर आटे को अच्छी तरह से गूंथ लें और लगभग 5 से 7 मिनट के लिए अलग रख दें।
    • अब एक अलग बर्तन में सहजन के पत्ते, हरी मिर्च, अजवाइन आदि सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिक्स कर लें। (हरी मिर्च की सब्जी बनाने का तरीका)
    • इसके बाद आप गूंथे हुए आटे की लोई बनाकर पतला-पतला बेल लें और हल्की आंच पर तवा गर्म करें।
    • अब तवे पर 1 चम्मच तेल डालकर गर्म कर लें और पराठा डालकर दोनों तरफ से सेंक लें।
    • बस आपका सहजन का पराठा तैयार है, जिसे आप अपनी पसंदीदा चटनी और सॉस, दही आदि के साथ इसे सर्व करें।

    पाउडर बनाकर कर सकती हैं इस्तेमाल

    How to make moringa powder

    • पाउडर बनाने के लिए सबसे पहले आपको मोरिंगा का पत्तों को उसके डंठल से अलग करना होगा।
    • इसके बाद इन पत्तियों को 2 से 3 बार पानी से अच्छे से साफ करके धो लें।
    • अब इन पत्तियों को एक टोकरी में डालें और ऊपर से किसी रुमाल या चुन्नी से ढक कर धूप में सूखने को रख दें। 
    • अगर धूप नहीं है तो आप पंखे के नीचे भी पत्तों को सुखा सकती हैं। 
    • जब यह सूख जाएं तो उसमें से बचे कुचे डंठल निकाल लें और मिक्सी में पीस लें।
    • अब इसे एक एयर टाइट कंटेनर में रख दें और रोजाना इस्तेमाल करें।

    इन बातों का रखें ध्यान 

    • मोरिंगा की पत्तियों के साथ खाना बनाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।
    • धूल से छुटकारा पाने के लिए पत्तियों को भरपूर पानी में अच्छी तरह धो लें और बेकार तनों को हटा दें।
    • मोरिंगा के पत्तों में ऐसे गुण होते हैं जो पाचन और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्वास्थ्य में सहायता करते हैं, पत्ते स्वयं पचाने में कुछ कठिन होते हैं। 
    • इसलिए आप उन्हें ठीक से पकाएं, खासकर छोटे बच्चों के लिए खाना बनाते समय।

    इसके अलावा आप सहजन के पत्तों की चटनी भी बना सकती हैं। हमें उम्मीद है यह लेख आपको पसंद आएगा। अगर आपको कोई और रेसिपी मालूम है तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएंं।  

    यह लेख पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। इसी तरह आगे भी ऐसी ही रेसिपीज जानने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

    Image Credit- (@Freepik) 

     

     

     

     

      

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।