HBD: इंडियन बॉक्सर मैरी कॉम, जिसने हमेशा ऊंचा किया देश का सिर

By Gayatree Verma01 Mar 2018, 13:42 IST

आज मैरी कॉम को जन्मदिन है और खबर आ रही है कि उनका सलेक्शन कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए हो गया है। इनका यह सलेक्शन पहली बार ट्रेडिशनल ट्रायल के बिना हुआ है। कॉमनवेल्थ गेम्स की भारतीय बॉक्सिंग टीम में एमसी मैरी कॉम के साथ विकास कृष्ण को भी जगह मिली है। वहीं वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेडल जीतने वाले गौरव बिधुड़ी और शिवा थापा को जगह नहीं दी गई है। 

टीम में इन महिलाओं को किया गया है शामिल

 

  • मैरी कॉम (48 किग्रा)
  • लवलीला बोरगोहेन (60 किग्रा)
  • एल सरिता देवी (60 किग्रा) 

 

है मैरी कॉम का जन्मदिन

मैरी कॉम के जन्मदिन के दिन इस खबर का आना महज इत्तेफाक ही नहीं बल्कि मैरी कॉम की मेहनत भी है। क्योंकि मैरी कॉम ने यहां तक पहुंचने के लिए काफी मेहनत की है। और इस मेहनत का ही नतीजा है कि औज उनकी किसी पहचान की मोहताज नहीं है और उनका हर गेम के लिए सलेक्शन बिना ट्रायल के हो जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि पूरे देश को उन पर भरोसा है। 

मोहम्मद अली हैं प्रेरणास्रोत

मैरी कॉम के प्रेरणास्रोत मोहम्मद अली हैं। उन्होंने बचपन में टीवी पर मोहम्मद अली को मुक्केबाजी करते हुए देखा था जिसके बाद उन्होंने भी मुक्केबाज बनना तय किया। उस दिन से उन्होंने मुक्केबाज बनने के लिए मेहनत करना शुरू कर दिया।

लोगों ने उड़ाया था मजाक

जब मैरी कॉम ने बॉक्सिंग शुरू की थी तो लोगों ने उनका बहुत मजाक उड़ाया था। लेकिन फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी और बॉक्सिंग सीखती रहीं।

इतना ही नहीं उन्हें तो बॉक्सिंग संघों की राजनीति का भी शिकार होना पड़ा। इसके बाद भी आगे बढ़ते रहीं। मैरी कॉम भारत की अकेली ऐसी पहली महिला मुक्केबाद हैं जिन्होंने 6 विश्व चैंपियनशिप के हर मुकाबले में पदक हासिल किया है। 

Happy Birth Day Mary Kom!!