पुसरला वेंकट सिंधु या पीवी सिंधु, बैडमिंटन में ओलंपिक रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला हैं, उन्होंने बैडमिंटन के प्रति जुनून के चलते नौकरी छोड़ दी थीं। सिंधु ने ओलंपिक पदक जीतने वाली दो भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों में से एक बनकर देश को गौरवान्वित किया है, दूसरी सायना नेहवाल हैं।

5 जुलाई, 1995 को जन्मीं ने मात्र 8 वर्ष की उम्र से ही बैडमिंटन खेलना शुरु कर दिया था। सिंधु के व्‍यक्तित्‍व की सबसे खास बात यह हैं कि वह कभी भी हार नहीं मानती है और कोशिश करती रहती हैं। अपनी छोटी सी उम्र में ही सिंधु ने बड़ी सफलता हासिल की है। हम हमेशा यह जानने के उत्‍सुक रहे हैं कि स्‍पोर्ट्स स्‍टार को फिट और एक्टिव रखने के लिए क्‍या-क्‍या करती है। अगर आप भी ओलंपिक रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला की फिटनेस का राज जानना चाहती हैं तो आज उनके 24 वें बर्थडे के मौके पर हम आपके लिए उनका फिटनेस सीक्रेट लेकर आए हैं।

इसे जरूर पढ़ें: कॉमनवेल्थ गेम्स में शटलर पी.वी. सिंधु ने प्राप्त की टॉप रैंकिंग

p v sindhu fitness inside

पीवी सिंधु का फिटनेस सिक्रेट

एक खिलाड़ी होने के नाते, सिंधु खुद को एक्टिव रखने के लिए तरह-तरह की ट्रेनिंग लेती हैं। 24 घंटों में से कम से कम 8 घंटे वह कठोर ट्रेनिंग लेती है। इतना ही नहीं, वह फिट और एनर्जी से भरपूर बने रहने के लिए हेल्‍दी डाइट को भी अपनाती हैं।



सिंधु अपने दिन की शुरुआत जल्‍दी करती है और अपने कोच गोपीचंद के मार्गदर्शन में सुबह 4:30 बजे से वर्कआउट शुरू करती है। जब हम में से अधिकांश लोग गहरी नींद में सो रहे होते हैं, तब यह युवा स्पोर्ट्स आइकन सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने और देश को गर्व करने के लिए ट्रेनिंग ले रही होती है। सुबह का ट्रेनिंग सेशन सुबह 7 बजे तक जारी रहता है इसके बाद वह अपना ब्रेकफास्‍ट लेती हैं। उसके बाद उनकी ट्रेनिंग लगभग 8 बजे से फिर कई घंटों के लिए शुरू हो जाती है। उसके बाद थोड़ा सा ब्रेक लेकर उनकी ट्रेनिंग फिर से लगभग दो घंटे के लिए सुबह 11 बजे से शुरू हो जाती है।

हफ्ते में 6 दिन ट्रेनिंग लेती है सिंधु

अपनी ट्रेनिंग शुरू करने से पहले, सिंधु स्ट्रेचिंग करती है और रनिंग के साथ अपनी ट्रेनिंग को खत्‍म करती है। सिंधु हफ्ते में 6 दिन ट्रेनिंग लेती है और इसके अलावा वह एक सख्त वर्कआउट रिजीम से भी गुजरती है जो उसे फ्लैक्‍सीबल बनाता है। वह कार्डियो करती है, योग करती है, जॉगिंग के साथ-साथ बीच-बीच में स्‍वीमिंग भी करती है। इतना ही नहीं, फिटनेस फ्रीक सिंधु हर रोज कम से कम 200 सिट अप और 100 पुश अप करती हैं।
 

 
 
 
View this post on Instagram

YOGA A way of connecting your body to the soul. Happy international yoga day 🧘‍♀️ #worldyogaday#mindbodysoul#🧘‍♀️

A post shared by sindhu pv (@pvsindhu1) onJun 21, 2019 at 2:19am PDT

उनका वर्कआउट सेशन रोजाना अलग होता है वह कभी कंधे, कभी पीठ और कभी घुटनों के वर्कआउट पर फोकस करती है।  सिंधु अपने ट्रेनिंग और वर्कआउट सेशन के दौरान खुद को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखती है।

इसे जरूर पढ़ें: पीवी सिंधु को सिल्वर मिलने की खुशी में जानिए उनकी मां ने क्या कहा

p v sindhu fitness inside

पीवी सिंधु की डाइट

बैडमिंटन खिलाड़ी कार्ब्स और प्रोटीन के बीच एक सही संतुलन बनाकर चलती है। इसके लिए सिंधु निर्धारित डाइट का सख्ती से पालन करती है। उसके दिन की शुरुआत अंडे, ताजे फल और एक गिलास दूध से होती है। दोपहर के भोजन और रात के खाने के लिए, सिंधु चावल और सब्जियों के साथ मीट खाती है।

वह वर्कआउट के दौरान लिए जाने वाला स्नैक भी साथ लेकर जाती है जिसमें आमतौर पर एक कटोरी फल, कुछ सूखे मेवे और एक बोतल एनर्जी ड्रिंक शामिल होता है।

पीवी सिंधु का डाइट प्लान:

नाश्ता- दूध, अंडे और ताजे फलों का एक बाउल। 
लंच- चावल, मीट और सब्जियां।
स्नैक्स- फलों का छोटा बाउल, सूखे मेवे, एनर्जी ड्रिंक की बोतल।
डिनर- चावल, मीट और सब्जियां

हम सभी की तरह, सिंधु का भी चीट डे है और इसमें वह बिरयानी, मीठी दही और आइसक्रीम का मजा लेना पसंद करती है।