वजन बढ़ने पर बहुत सी महिलाएं अपने लुक्स को लेकर इतनी कॉन्शस हो जाती हैं कि वे बिना सोचे-समझे डाइटिंग करने लगती है। वजन बढ़ने पर इतना परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आप जिस तरह से वेट गेन कर लेती हैं, उसी तरह लूज भी कर सकती हैं। लेकिन इसके लिए लगातार कोशिश करने की जरूरत होती है। लेकिन इसके लिए आपको प्लान तरीके से वेट लॉज रजीम को फॉलो करने की जरूरत पड़ेगी।

इस तरह की फास्टिंग से तेजी से घटाएं वजन

आजकल स्लिम फिगर पाने के लिए कई तरह की डाइट प्रचलित हैं, जैसे कि जीएम डाइट, कीटो डाइट, वेगन डाइट आदि। लेकिन क्या आप जानती हैं कि दो पहर के मील के बीच अगर आप कुछ घंटों का गैप बनाकर डाइट लेती हैं, तो आप बहुत तेजी से अपना बढ़ा हुआ वजन घटा सकती हैं। इस नई रिसर्च में कहा गया है कि अगर शरीर के नेचुरल फ्लो के अनुसार महिलाएं डाइट और मील का टाइमिंग रखें तो शरीर का एक्सेस फैट तेजी से बर्न होता है और फास्ट फूड की क्रेविंग भी नहीं होती।  

weight loss tips intermittent fasting

इसे जरूर पढ़ें: रोज 3 खजूर खाने से शरीर में दिखेंगे जबरदस्त बदलाव

सुबह 8 से दोपहर 2 बजे के बीच सिर्फ 6 घंटे के लिए खाना था

ओबिसिटी जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी में रिसर्चर्स ने 20 से 45 साल के बीच की 11 ओवरवेट महिलाओं और पुरुषों को 2 अलग-अलग अंतराल पर डाइट दी और उनके शरीर में आने वाले बदलावों को ट्रैक किया। एक प्लान में शामिल सदस्यों को सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे के बीच सिर्फ खाना लेना था यानी सिर्फ 6 घंटे के लिए और उसके बाद के टाइम में फास्टिंग करनी थी। इस समय को इसलिए चुना गया क्योंकि इसमें सुबह और दोपहर दोनों वक्त का खाना शरीर को मिल जाता है और यह शरीर की बॉडी क्लॉक से भी मैच करता है। 

इसे जरूर पढ़ें: वेट लॉस के साथ अपने सपनों को हासिल कर इन महिलाओं ने साबित दिया कि नामुमकिन कुछ भी नहीं

दूसरे मील प्लान में तीन पहर का खाना रखा गया

दूसरे ग्रुप के सदस्यों को खाने की पारंपरिक टाइमिंग के हिसाब से सुबह 8 बजे, दिन में 1 बजे और रात में 8 बजे खाना सर्व किया गया। इस ग्रुप के सभी सदस्यों को 1 महीने तक यह मील प्लान अपनाने को कहा गया। लेकिन खास बात ये है कि दोनों ही ग्रुप के सदस्यों को दिए जाने वाले फूड की मात्रा को बराबर रखा गया। इसके बाद इन सदस्यों का ब्लड टेस्ट, यूरीन टेस्ट आदि किया गया और देखा गया कि इनके मेटाबॉलिज्म (खाने को एनर्जी में बदलने की प्रक्रिया) में क्या बदलाव आया। 

फास्टिंग की वजह से भूख और हॉर्मोन लेवल में आयी कमी 

रिसर्चर्स ने अपने टेस्ट में पाया कि फास्टिंग करते हुए सदस्यों की भूख में कमी आई और उनके शरीर में भूख लगने वाले हॉर्मोन भी कम हो गए। इसके साथ खाना खाने के तय वक्त को देखते हुए 24 घंटे में तेजी से वेट लॉस देखा गया। इस स्टडी की को-ऑथर और यूनिवर्सिटी ऑफ अलबामा की प्रोफेसर पीटरसन के अनुसार, 'कैलोरी बर्न होना रिसर्चर्स के लिए हैरानी वाली बात थी क्योंकि रिसर्च टीम इस बात की पड़ताल कर रही थी कि जो लोग Intermittent Fasting यानी नियमित अंतराल की फास्टिंग का तरीका अपनाते हैं, उनका वजन कैसे कम होता है। 

भूख घटती है लेकिन मसल मास कम नहीं होता

रिसर्चर पीटरसन का कहना था, 'Intermittent Fasting से शरीर का वजन घटता है लेकिन मसल मास कम नहीं होता है। इस बारे में अभी और ज्यादा रिसर्च करने की जरूरत है यह जानने के लिए कि फास्टिंग मसल मास को किस तरह से प्रभावित करता है।' हालांकि इस तरह की फास्टिंग से क्रेविंग को प्रभावी तरीके से रोका जा सकता है। जो महिलाएं नियमित रूप से फास्ट रखती हैं और जिन्हें हेल्थ इशुज नहीं हैं, वे इस तरह की फास्टिंग के जरिए वेट लॉस में फायदा पा सकती हैं। 

हर महिला के लिए अच्छी नहीं ऐसी फास्टिंग

सभी लोगों का शरीर एक जैसा नहीं होता। किसी महिला के लिए नियमित अंतराल की फास्टिंग सूटेबल होती है, तो किसी को इससे समस्याएं हो सकती हैं। अगर आपको इस तरह की फास्टिंग से प्रॉब्लम हो तो इसे फॉलो ना करें। ईटिंग डिसऑर्डर्स, हार्ट या फिर डायबीटीज जैसी हेल्थ प्रॉब्लम्स से पीड़ित महिलाओं को 14 से 18 घंटे तक फास्टिंग से पूरी तरह से परहेज रखना चाहिए अन्यथा यह उनकी हेल्थ को नुकसान पहुंचा सकता है। 

अगर आप हेल्दी तरीके से वेट लॉस करना चाहती हैं तो हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाने के साथ वर्कआउट पर भी ध्यान दें। फिजिकल एक्टिविटी में इन्वॉल्व हों, रोजमर्रा के घर के कामों जैसे की सफाई, कपड़े धोना, पोछा लगाना आदि में भी अच्छी खासी एक्सरसाइज हो जाती है। इसके साथ ही सुबह-शाम वॉक करने और रस्सी कूदने से भी आप हेल्दी तरीके से वजन कम कर सकती हैं। अगर आप वेट लॉस के बारे में पढ़ना पसंद करती हैं तो रेगुलर अपडेट्स पाने के लिए विजिट करती रहें HerZindagi