Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    स्मोकिंग से होती है हड्डियों के इलाज में मुश्किल

    अगर आप एक्टिव या पैसिव स्मोकिंग कर रही हैं तो आपको जागरूक होने की जरूरत है क्योंकि इसके कारण आपको हड्डियों के इलाज में आ सकती है मुश्किल।  
    author-profile
    Updated at - 2018-07-05,15:19 IST
    Next
    Article
    smoking bad for bones main

    बदलते परिवेश में बहुत सी महिलाएं सिगरेट पीने लगी हैं। कुछ महिलाएं इसे मॉडर्न और बिंदास होने का पर्याय भी मानती हैं। अगर आप भी कुछ ऐसा ही सोचती हैं तो आपको जागरूक होने की जरूरत है। यह तो सभी को पता है कि स्मोकिंग से फेफड़ों की समस्या हो जाती है और कैंसर का खतरा भी होता है। एक नई स्टडी में कहा गया है कि सिगरेट पीने वालों को हड्डी के इलाज में मुश्किल आती है। जो लोग सिगरेट पीते हैं, उनकी हड्डियां ठीक होने में लंबा वक्त लग सकता है। यह समस्या बुजुर्गो और महिलाओं में ज्यादा पाई जाती है। स्टडी में पाया गया कि तंबाकू का लंबे वक्त तक सेवन करने की वजह से हर हफ्ते 13,000 से अधिक भारतीय पुरुष और 4,000 महिलाओं की मौत हो जाती है। आज के समय में, जब पॉल्यूशन की समस्या की वजह से लोग कई तरह की ब्रीदिंग प्रॉब्लम्स से जूझ रहे हैं, स्मोकिंग एक बड़ी समस्या के रूप में हमारे सामने है। ऐसे में महिलाओं को खासतौर पर ध्यान देने की जरूरत है, क्योंकि बहुत सी महिलाएं पैसिव स्मोकिंग की भी शिकार होती हैं।

    स्मोकिंग छोड़ने के हैं कई फायदे

    world no tobacco day inside

    फिजीशियन डॉ पुलिन गुप्ता का कहना है, 'स्मोकिंग छोड़ने से दिल की बीमारी और फेफड़ों के कैंसर की आशंका कम हो जाती है। साथ ही इससे ऑस्टियोपोरोसिस होने की आशंका भी कम हो जाती है। एक और अच्छी बात ये है कि इससे चेहरे की खोई रौनक लौट आती है।' जाहिर है इतने फायदों के साथ स्मोकिंग करने वाली महिलाएं जल्द से जल्द इस बुरी आदत को छोड़ने के लिए इंस्पायर होंगी। 

    डॉ पुलिन का कहना था कि काउंसलिंग से इस लत को छोड़ने में मदद मिलती है। काउंसिलिंग से यह समझ आ जाता है कि स्मोकिंग छोड़ने के बाद किन मुश्किलों का सामना करना पड़ता है और इसके आफ्टर इफेक्ट्स के आसानी से निपटा जा सकता है। 

    इन तरीकों से छुड़ाएं लत

    • निकोटीन की लत च्यूइंग गम, नेजल स्प्रे या इनहेलर्स का सहारा लेकर छुड़ाई जा सकती है। इनसे सिगरेट की तलब कम करने में मदद मिलती है।
    • जो स्थितियां स्मोकिंग के लिए उकसाती हैं, उनसे बचने के लिए अपनी तरफ से तैयारी रखिए। स्ट्रेस को काबू में रखने से भी स्मोकिंग कंट्रोल करने में मदद मिलेगी।
    • शुगरफ्री गम, हार्ड कैंडी चबाइए या कच्ची गाजर खाने से भी इसे कंट्रोल करने में मदद मिलती है। 
    • खुद को फिजिकली एक्टिव रखिए। एक्सरसाइज करने और खुद को दिनभर शारीरिक रूप से सक्रिय रखने से भी इस आदत को छुड़ाया जा सकता है।

    Recommended Video

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।