नीम को गुणों की खान माना जाता है। नीम में एंटी बैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं और इसी वजह से यह कई हेल्थ प्रॉब्लम्स के लिए अचूक दवा मानी जाती है। सर्दियों के मौसम में होने वाले फंगल इन्फेक्शन को रोकने में इससे काफी लाभ होता है। नीम सेहत के लिए रामबाण मानी जाती है और इसका तेल भी महिलाओं को स्वस्थ रखने में बहुत उपयोगी है। इन 5 हेल्थ प्रॉब्लम्स में नीम का तेल आपको विशेष लाभ देगा-

अस्थमा और फेफड़े के इन्फेक्शन में प्रभावी

अस्थमा की प्रॉब्लम है तो नीम के तेल की भाप से काफी आराम मिल सकता है। इस तेल में जो तत्व होते हैं, वो नेचर में एंटी-हिस्टेमिनिक हैं। साथ ही प्रभावकारी एंटीमाइक्रोबियल गुणों के कारण यह ज्यादा बेहतर काम करता है। भाप लेने के लिए एक भगोने में पानी गरम करें, इसमें नीम तेल की कुछ बूंदे डाल लें। इसके बाद अपने सिर और चेहरे को एक तौलिया से ढंककर भाप लें। इससे अस्थमा के मरीजों को काफी राहत महसूस होती है। 

इसे जरूर पढ़ें: नीम के ये beauty benefits जानकर आप भी इसे जरूर आजमाना चाहेंगी

एक्जिमा में मिलती है राहत

एक्जिमा शरीर के इम्यून सिस्टम से उपजी त्वचा की बीमारी है। इससे ड्राइनेस की समस्या होती है और त्वचा पर काफी खुजली मचती है। एक्जिमा वाले स्पॉट्स पर नीम का तेल इस्तेमाल करने से काफी राहत महसूस होती है क्योंकि तेल से ड्राइनेस कम हो जाती है और इन्फेक्शन शरीर के दूसरे हिस्से में होने का खतरा भी कम होता है। अगर आप आकर्षक दामों पर नीम का तेल घर बैठे पाना चाहती हैं तो यहां से पा सकती हैं। Khadi Herbal Pure Neem Oil - 210ml, जिसकी M.R.P.:₹150.00 है, आप डील के तहत सिर्फ सिर्फ ₹129.00 में पा सकती हैं। इसके लिए आपको ₹45.00 डिलिवरी चार्जेस के तौर पर देने पड़ेंगे। 

neem oil inside

सोरायसिस में असरदार

सोरायसिस भी आपके शरीर में ऑटोइम्यून गड़बड़ी के कारण होता है, जिससे स्किन की ड्राइनेस बढ़ जाती है। और नीम का तेल इस तरह से प्रभावी होता है क्योंकि यह एक्जिमा का इलाज करता है। आकर्षक दामों में नीम तेल यहां से पाएं

इसे जरूर पढ़ें: Vaginal Lips की सर्जरी के खतरों को जानना आपके लिए है जरूरी

एंटी फंगल खूबियां

एथलीट फूट, नाखून कवक जैसी स्किन डिजीज फंगल इन्फेक्शन के कारण होती है। नीम में पाए जाने वाले दो तत्व ‘गेदुनिन' और ‘निबिडोल' त्वचा के फंगल इन्फेक्शन को खत्म करते हैं।

Recommended Video

neem oil inside

दांत और मसूड़े होते हैं मजबूत

दांतों और मसूड़ों की प्रॉब्लम से जूझ रही हैं तो नीम के तेल की कुछ बूंदें अपने टूथपेस्ट में मिला कर उससे पेस्ट करें। नीम के तेल के एंटी बेक्टीरियल तत्व दांतों की प्रॉब्लम्स जैसे कि दांतों के दर्द, दांत के कैंसर, दांतों में सड़न आदि में काफी राहत देते हैं। प्लाक और गंदगी साफ करने से दांत शाइन करते हुए नजर आते हैं। 

आप भी नीम का तेल इस्तेमाल करें और खुद को स्वस्थ रखें। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे जरूर शेयर करें। हेल्थ से जुड़ी अन्य अपडेट्स पाने के लिए विजिट करती रहें हरजिंदगी।