Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    प्रेग्नेंसी में अगर नहीं की दांतों की सही देखभाल तो जल्द टूट सकते हैं आपके दांत

    प्रेग्नेंसी के दौरान कैल्शियम की कमी तथा हार्मोन्स में बदलाव के कारण दांतों की समस्याएं बढ़ जाती है। और दांतों की सही देखभाल न करने से दांत जल्दी टूट ...
    author-profile
    Published -20 Aug 2018, 13:06 ISTUpdated -22 Aug 2018, 10:39 IST
    Next
    Article
    pregnancy dental care new main

    प्रेग्नेंसी के दौरान हार्मोन्स बदलाव के कारण बॉडी में कई तरह के बदलाव आते हैं। इसलिए आपको कई बातों का ख्याल रखना पड़ता हैं, लेकिन इस दौरान दांतों की हेल्थ को बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। प्रेग्नेंसी के दौरान हार्मोंन बदलाव के कारण मसूड़ों की बीमारी का खतरा काफी बढ़ जाता है। साथ ही प्रेग्नेंसी के दौरान दांत मलिनकिरण यानी दांतों में पीलापन हो जाता है, जो कि प्रेग्नेंसी के बाद भी परमानेंट रह सकता है। इसके अलावा कई बार दांत पीले भूरे रंग के भी हो जाते हैं।
     
    साथ ही गर्भाशय में जब बच्चे का शरीर बनना शुरू होता है तो सबसे पहले बच्चा मां के शरीर से कैल्शियम लेता है। जिसके कारण मां के शरीर में अचानक कैल्शियम की कमी होने लगती है। इसका असर आमतौर पर दांतों पर भी देखने को मिलता है। इस कारण दांतों के साथ-साथ मां के मसूड़ों को भी हानि होने लगती है। दांतों की सही देखभाल न करने पर दांत जल्दी टूट सकते है या दांतों में दर्द की शिकायत हो सकती हैं। इसलिए प्रेग्नेंसी के दौरान दांतों की देखभाल की जरूरत बढ़ जाती है। आइए जानें कि प्रेग्नेंसी में दांतों की देखभाल के लिए क्या-क्या करना चाहिए।

    Read more: 25, 30 या 35 क्‍या है प्रेग्‍नेंट होने की सही उम्र?

    pregnancy dental care inside

    कैल्शियम का सेवन

    प्रेग्नेंसी के दौरान ज्या‍दा मात्रा में कैल्शियम लेने से आपके दांत हेल्दी रहते है। जी हां प्रेग्नेंसी के दौरान ज्यादा कैल्शियम की जरूरत होती है, इसलिए इसके सेवन पर विशेष ध्यान दें।

    दो बार ब्रश करें

    प्रेग्नेंसी के दौरान ओरल हेल्थ को बनाये रखने के लिए दिन में दो बार हल्के ब्रश से धीरे-धीरे रोजाना ब्रश करना चाहिए। हर बार खाने के बाद मुंह की अच्छे से सफाई करें। अगर आपको मार्निंग सिकनेस की समस्या है तो ब्रश करने में समस्या होने पर तो हल्के टेस्ट वाले टूथपेस्ट की हेल्‍प लें।

    ज्यादा मीठा खाने से बचें

    प्रेग्नेंसी के दौरान मीठा खाने की बहुत इच्छा होती है। लेकिन मुंह के बैक्टीटरिया शुगर को एसिड में बदल दांतों को नुकसान पहुंचते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान मसूड़ों के फूलने और दांतों में दर्द होने से दांत मलिनकिरण की समस्या भी हो जाती है और इस समस्या का कारण आमतौर पर स्वीट फूड्स लेने से होती है। इसलिए दांतों की अच्छी देखभाल के लिए मीठे से परहेज करें।

    Read more: अगर आप गर्भधारण करने वाली हैं तो अपना वजन एक बार जरूर चेक करें

    फ्लोराइड को सीमित करें

    कई टूथपेस्ट और माउथवॉश में फ्लोराइड एक महत्वपूर्ण तत्व होता है। यह दांतों की जड़ों को मजबूत करता है और इसे सडऩे से बचाता है। लेकिन जरूरत से ज्यादा फ्लोराइड के सेवन से दांतों पर सफेद निशान पडऩे लगते हैं। इसलिए फ्लोराइड कंट्रोल मात्रा मे ही इस्तेमाल करें।

    pregnancy dental care inside

    रेगुलर फ्लास करें

    अच्छे से फ्लॉसिंग करके ही आप दांतों की ठीक से केयर कर सकती हैं। आप दांतों के बीच के हिस्से को अच्छे से साफ करें। फ्लॉस को मसूड़े की जड़ से ऊपर की ओर खींचें और अच्छे से सफाई करें।

    डेंटिस्ट से लें परामर्श

    डेंटिस्ट से चेकअप कराना भी ओरल हेल्‍थ के लिए बहुत जरूरी होता है।
    इन सब उपायों को अपनाकर आप प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाली दांतों की समस्याओं को आसानी से दूर कर सकती हैं।

    Recommended Video

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।