एक नए सर्वे में यह बात कही गई है कि हम रोजाना कम से कम तीन घंटे थका हुआ महसूस करते हैं। हेल्थस्पेन के एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि ज्यादातर लोग दिनभर में लगभग तीन घंटे एनर्जी महसूस नहीं करते। जिन लोगों पर यह सर्वे किया गया उन्होंने कहा कि उन्हें हर वक्त बहुत लो महसूस होता है। नींद पूरी न हो पाना आमतौर पर थके होने की वजह हो सकता है, लेकिन कई और भी चीजें हैं जो आपके एनर्जी लेवल पर असर डालती हैं या फिर आपकी नींद पर असर डालती हैं। तो आइए जानें ऐसी ही कुछ वजहों को, जिन्हें पहचानकर आप जल्द से जल्द उन पर काम कर सकें और रहें एनर्जी से भरपूर-

1. कैफीन ज्यादा तो नहीं ले रहीं?

Small dose में कैफीन लेने से इंस्टेंट एनर्जी मिलती है लेकिन अगर आपका कैफीन इनटेक जरूरत से ज्यादा हो तो आपको असहज महसूस हो सकता है, नींद न आने की समस्या हो सकती है, सिरदर्द, चिंता और थकान जैसे symptoms भी हो सकते हैं। एक्सपर्ट्स का सुझाव है कि 400 मिलिग्राम तक कैफीन लेने पर इसका वयस्कों पर बुरा असर नहीं होता, हालांकि प्रेगनेंट महिलाओं को एक दिन में 200 मिलिग्राम से ज्यादा कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए। कैफीन इनटेक एकदम कम करने से भी आप थकावट महसूस कर सकती हैं इसलिए धीरे-धीरे कैफीन की मात्रा में कमी लाएं। कोशिश करें कि दिनभर में दो या तीन कैफीनेटेड ड्रिंक्स से ज्यादा का सेवन न करें।

2. क्या आप रोजाना एक गिलास बियर या वाइन लेती हैं?

अगर आप रोजाना दो यूनिट से ज्यादा एल्कोहॉल ले रही हैं तो इससे थकान हो सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि एल्कोहॉल आपकी नेचुरल स्लीप साइकिल के साथ interfere करता है। यह बात सही है कि एल्कोहॉल आपको जल्दी सोने और गहरी नींद में जाने में मदद करता है लेकिन यह भी सच है कि एल्कोहॉल के प्रभाव से आप गहरी नींद में कम देर के लिए रहती हैं और सामान्य तौर पर आराम की मुद्रा के रैपिड आई मूवमेंट के comparatively कम देर के लिए आराम कर पाती हैं। कुछ समय के लिए ड्रिंक ना करें और देखें कि क्या इससे आपको थोड़ा बेहतर महसूस हो रहा है? ज्यादातर लोग महसूस करते हैं कि उन्हें अच्छी नींद आ रही है। अगर ड्रिंक कम करने में आपको दिक्कत आए तो आप इसके लिए डॉक्टरी सलाह ले सकती हैं।

2. कहीं आपको एनीमिया तो नहीं?

tired resaon in

अगर आपको थकान होने के साथ-साथ पीलापन है, बेहोशी जैसी महसूस हो रही है, सांस लेने में परेशानी महसूस हो रही है, धड़कन बढ़ी हुई मालूम हो रही है तो आपको एनीमिया हो सकता है। यह आपको डाइट में पर्याप्त मात्रा में न्यूट्रीएंट्स जैसे कि विटामिन बी12 या फॉलिक एसिड न मिलने, पीरियड्स में बहुत ज्यादा ब्लीडिंग हो जाने या शरीर में रेड ब्लड सेल्स की कमी के कारण हो सकता है। अगर ऐसे symptoms हैं तो डॉक्टर से सलाह लें। खून की कमी के लिए हीमोग्लोबिन टेस्ट कराने की जरूरत भी हो सकती है। 

3. लो फील करने की वजह कुछ और तो नहीं

बहुत से लोग महसूस नहीं करते लेकिन उन्हें रोने, खराब मूड होने, सेक्स की इच्छा में कमी होने, डिप्रेशन होने या सामान्य तौर पर आसपास हो रही चीजों में रुचि कम होने की वजह से भी थकान होती है। अगर आप भी ऐसा ही महसूस कर रही हैं तो इस बारे में डॉक्टर से सलाह लेंकर एंटी डिप्रेसेंट मेडिसिन ले सकती हैं या आराम पहुंचाने वाली थेरेपी भी ले सकती हैं।

4. क्या आप कुछ दवाएं ले रही हैं?

tired resaon in

कई बार दवाओं विशेष रूप से स्टेटिन्स (कॉलेस्ट्रॉल घटाने के उद्देश्य से लिए जाने वाले ड्रग्स) के असर से भी थकान महसूस होती है । अगर आप हाई ब्लडप्रेशर की दवाएं ले रही हैं तो इसका साइड इफेक्ट भी हो सकता है। ऐसा होने पर आप डॉक्टर से ऐसी दवाएं लेने की सलाह ले सकती हैं जो आपको सूट करें।

5. क्या आपको बहुत ज्यादा गर्मी या ठंड लगती है?

अगर आपके आसपास के लोग सामान्य महसूस कर रहे हों और आपको गर्मी महसूस हो रही हो तो मुमकिन है कि आपका थायरॉयड ग्लैंड over active हो, विशेष रूप से अगर आपका वजन बहुत तेजी से कम हो रहा हो। इसी तरह अगर आप थकी हुई महसूस करती हैं और आपको हर वक्त ठंड लगती रहती है, साथ ही आपका वजन भी तेजी से बढ़ रहा हो तो हो सकता है कि आपका थायरॉयड ग्लैंड अंडर एक्टिव हो सकता है। अगर आपकी फैमिली में थायरॉयड की हिस्ट्री रही है तो इसका चेकअप एक बार जरूर करा लें।

6. क्या आप फिट नहीं हैं?

कई बार एक्सरसाइज नहीं करने और बहुत ज्यादा वजन होने के कारण भी थकान रहती है, जिससे आपका मेटाबॉलिज्म और लीवर का फंक्शन प्रभावित होता है। हल्की-फुल्की एक्सरसाइज की शुरुआत करें और धीरे-धीरे एक्सरसाइट का टाइम बढ़ाएं। हर दिन कम से कम आधे घंटे एक्सरसाइज करें या टहलें।  एक फिटनेस ट्रेकर के जरिए आप अपनी एक्टिविटीज पर बेहतर तरीके से नजर रख सकती हैं। 

7. क्या आप लेती हैं पर्याप्त नींद?

tired resaon in

थकान होने की सबसे बड़ी वजह नींद नहीं पूरी होना है और यह बात सर्वे में भी स्पष्ट होती है। सुबह जल्दी दिनचर्या शुरू होने पर ज्यादातर महिलाओं की नींद नहीं पूरी हो पाती। खासतौर पर जिनके बच्चे हैं, उन्हें भी पर्याप्त नींद मिलना मुश्किल होती है। ऐसे में अपनी नींद पूरी करने को priority दें तो काफी हद तक आपकी प्रॉब्लम solve हो सकती है। अगर नींद आने में परेशानी होती है तो इसके लिए डॉक्टरी सलाह पर स्लीपिंग पिल्स ले सकती हैं लेकिन उसे अपनी आदत में शामिल न करें।

8. क्या आपने डायबिटीज का चेकअप कराया है?

डायबिटीज टाइप 1 और टाइप 2 दोनों में ही थकान रहती है। अगर आपके घर में डायबिटीज की हिस्ट्री रही है, आप ओवरवेट हैं और आपका वजन तेजी से घट रहा है, आंखों की कमजोरी महसूस हो रही है तो डायबिटीज के लिए स्क्रीनिंग कराएं। डायबिटीज के दूसरे लक्षण हैं बहुत ज्यादा प्यास लगना, बहुत ज्यादा टॉयलेट आना या सिस्टाइटिस होना।

9. क्या आपको फ्लू हुआ था?

वायरल संक्रमण होने जैसे कि फ्लू या बुखार से भी कई बार थकान हो जाती है। हालांकि ऐसा हर किसी के साथ नहीं होता लेकिन अगर थकान की दूसरी वजहें न मिल रही हों तो इस बारे में डॉक्टर से सलाह ले सकती हैं और उनकी सलाह पर उचित दवाएं ले सकती हैं।

10.क्या आप धूप में पर्याप्त रूप से नहीं जाती?

कई बार धूप में पर्याप्त रूप से नहीं निकलने की वजह से भी हमें थकान होती है। विटामिन डी पर्याप्त रूप से नहीं मिलने की वजह से मांसपेशियों पर बुरा असर होता है, हड्डियां कमजोर होती हैं, इम्यून सिस्टम भी कमजोर होता है, इस कारण दिनभर नींद आती है और थकान महसूस होती है। इसके लिए कम से कम 10 मिनट बाहर की ताजा आबोहवा में जरूर निकलें.

 

Read More: Chlamydia की नियमित जांच से बचें Ovarian Cancer के खतरे से