अगर आप चौराहों या हैवी ट्रैफिक वाली जगहों के आसपास काम करती हैं या फिर ट्रैफिक वाली जगहों पर किन्हीं वजहों से आपका ज्यादा वक्त बीतता है तो आपको सतर्क होने की जरूरत है क्योंकि एक नई स्टडी में यातायात से होने वाले एयर पॉल्यूशन से ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा जताया गया है।

शोधकर्ताओं ने इस बात से सचेत किया है कि ट्रैफिक की वजह से होने वाले एयर पॉल्यूशन से महिलाओं को ब्रेस्ट कैंसर का खतरा पैदा हो सकता है। स्कॉटलैंड स्थित स्टर्लिंग विश्वविद्यालय के रिसर्चर्स की टीम एक कैंसर पेशेंट महिला के बारे में किए गए अध्ययन-विश्लेषण के बाद इस नतीजे पर पहुंची कि यातायात से पॉल्यूटेड हवा ब्रेस्ट कैंसर का कारण बन सकती है।

ब्रेस्ट कैंसर से करें बचाव

air pollution causes breast cancer inside  freepik

Image Courtesy : Freepik

हमारे देश में कई जानी-मानी सेलेब्स ब्रेस्ट कैंसर की शिकार हो चुकी हैं और इनमें मनीषा कोईराला, लीजा रे और मुमताज शामिल हैं। इन सेलेब्स ने अपनी हिम्मत और हौसले से ब्रेस्ट कैंसर के खिलाफ लड़ाई लड़ी और जीत हासिल की। इनके बाद सोनाली बेंद्रे और आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा कश्यप को भी ब्रेस्ट कैंसर होने की बात सामने आई। ताहिरा को शुरुआती स्टेज के कैंसर और सोनाली बेंद्रे को एडवांस स्टेड के कैंसर होने की खबर आई। आप इस तरह की मुश्किलों से दूर रहें इसके लिए बहुत जरूरी है कि आप एयर पॉल्यूशन से होने वाले खतरों से आगाह रहें। बिजी सड़कों के नजदीक काम करने वाली महिलाओं में स्तन कैंसर का खतरा ज्यादा होता है। आइए जानते हैं कि हालिया स्टडी में किस तरह से सड़क पर काम करने वाली एक महिला इस हेल्थ प्रॉब्लम की शिकार हुई।

Read more : सोनाली का ये इमोशनल मैसेज पढ़ कैंसर जैसी बीमारी से आप भी नहीं मानेंगी हार

बॉर्डर पर काम करने वाली महिला हुई ब्रेस्ट कैंसर की शिकार

air pollution causes breast cancer inside

यह महिला उत्तरी अमेरिका में सबसे बिजी कमर्शियल सीमा पारगमन पर बतौर बॉर्डर गार्ड के रूप में कार्य करती थी। वह 20 साल तक वहां सीमा गार्ड रहीं। इसी दौरान वह ब्रेस्ट कैंसर की शिकार हो गई थीं। यह महिला उन पांच अन्य बॉर्डर गार्ड्स में एक है, जिन्हें 30 महीने के भीतर ब्रेस्ट कैंसर हुआ। ये महिलाएं पारगमन के समीप कार्य करती थीं। इस तरह के सात और मामले दर्ज किए गए थे। माइकल गिल्बर्टसन के मुताबिक निष्कर्षों में ब्रेस्ट कैंसर और ब्रेस्ट कैंसर का शिकार बनाने वाले यातायात संबंधी एयर पॉल्यूशन के अत्यधिक संपर्क में आने के बीच एक अनौपचारिक संबंध देखने को मिला है।

शोधकर्ताओं ने रात के समय काम करने और कैंसर के बीच एक संबंध की भी पहचान की है। गिल्बर्टसन ने कहा, "यह नया शोध जनसंख्या में ब्रेस्ट कैंसर के बढ़ते मामलों में यातायात संबंधी एयर पॉल्यूशन के योगदान की भूमिका के बारे में संकेत देता है। न्यू सॉल्यूशन पत्रिका में प्रकाशित इस स्टडी में कहा गया है कि 10,000 मौकों में से एक मामले में यह एक कोइंसिडेंट था क्योंकि यह सभी बहुत हद तक समान थे और आपस में एक दूसरे के करीब थे।

  • Saudamini Pandey
  • Her Zindagi Editorial