रेस्पिरेटरी थेरेपी (आरटी) दवा की खासियत यह है कि इसमें चिकित्सकों को पल्मोनरी मेडिसिन में ट्रेनिंग दी जाती है और वह श्वसन रोग वाले व्यक्तियों के साथ चिकित्सीय रूप से काम करते हैं।

इसमें सांस लेने में समस्या का सामना कर रहे रोगी की जांच करने का अभ्यास किया जाता है। आप भोजन और पानी के बिना एक दिन रह सकते हैं लेकिन हवा के बिना कुछ मिनट से ज्यादा नहीं। पल्मोनरी डिजीज, पल्मोनरी फिजियोलॉजी और पल्मोनरी क्रिटिकल केयर रेस्पिरेटरी थेरेपी के अंग हैं। रेस्पिरेटरी थेरेपी मूल्यांकन, निदान, उपचार, प्रबंधन, रोगी शिक्षा और रोकथाम पर केंद्रित होती है।

इसमें ऑक्सीजन थेरेपी, ब्रोन्कोडायलेटर्स, दवा हाथ में रखने, नेबुलाइज़र डिवाइस, मैकेनिकल वेंटिलेटर, वायुमार्ग प्रबंधन, हाइपरइन्फ्लेशन डिवाइस, चेस्ट फिजियोथेरेपी, ब्रोन्कियल हाइजीन और प्रोनेल भी शामिल हैं।

गहरी सांस लेना एक ऐसी चीज है जिसे हममें से ज्यादातर लोग हल्के में लेते हैं। श्वसन संक्रमण, जो हल्के श्वसन संक्रमण से लेकर सीओपीडी जैसी अधिक गंभीर श्वसन बीमारियों तक हो सकता है, श्वसन क्रिया को ख़राब कर सकता है और किसी व्यक्ति के जीवन की गुणवत्ता को कम कर सकता है। रेस्पिरेटरी केयर एक प्रकार का ट्रीटमेंट है जिसका उद्देश्य लक्षणों को दूर करना और सामान्य श्वास क्रिया को बहाल करना है।

आप जानना चाहते हैं कि यह थे‍रेपीज रोगी के लिए कितनी सार्थक हैं तो हम आपको बता दें कि रेस्पिरेटरी थेरेपी सांस लेने की क्रिया को बहाल करने और पुरानी और तीव्र दोनों तरह की सांस की बीमारियों वाले लोगों के लिए जीवन की गुणवत्ता हासिल करने के लिए सबसे प्रभावी चिकित्सीय विकल्पों में से एक है। इसके फायदों के बारे में हमें पॊरवॊ ट्रांजिशन केयर, क्रिटिकल केयर कंसल्टेंट, तैमीना कचॊत जी बता रहे हैं। फायदे जो साबित करते हैं कि रेस्पिरेटरी थेरेपी कितनी मूल्यवान है-

respiratory therapy benefits

तेजी से होती है हीलिंग

श्वसन संक्रमण, एलर्जी से संबंधित सांस लेने में कठिनाई और इन्फ्लूएंजा जैसी तीव्र बीमारियां में रेस्पिरेटरी थेरेपी से फायदा मिल सकता है। रेस्पिरेटरी थेरेपी अन्य उपचारों के साथ कॉम्बिनेशन करके रोगियों को उनकी डेली एक्टिविटी में तेजी से वापस लाने में मदद कर सकती है।

इसे जरूर पढ़ें:अगर सांस लेने में होती है समस्या तो इन घरेलू नुस्खे से करें इसे ठीक

इम्‍यून फंग्‍शन होता है बेहतर

उपचार के समय को कम करने के अलावा, श्वसन चिकित्सा कई लाभ प्रदान करती है, जिसमें वृद्धि हुई प्रतिरक्षात्मक कार्य शामिल है। जब आपकी श्वसन क्रिया बाधित होती है, तो आप संक्रमण के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। इसके अलावा, श्वसन संबंधी रोग जल्दी खराब हो सकते हैं, और सामान्य इम्‍यून सिस्‍टम के कार्य को बढ़ाने से आपको ठीक होने की राह पर रखने में मदद मिल सकती है।

Recommended Video

फार्मास्युटिकल विकल्प

जैसे स्टेरॉयड और एंटी-इंफ्लेमेटरी रेस्पिरेटरी थेरेपी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। दूसरी ओर, दवाएं हमेशा सबसे प्रभावी उपचार नहीं होती हैं। जब दवाओं के साथ कॉम्बिनेशन में  श्वास उपचार और सप्‍लीमेंट ऑक्सीजन का इस्‍तेमाल किया जाता है तो यह राहत दे सकता है।

respiratory therapy benefits in hindi

व्यक्तिगत देखभाल

सिर्फ इसलिए कि आपको वही सांस की बीमारी है जो किसी और को है इसका मतलब यह नहीं है कि आपको उसी ट्रीटमेंट को फॉलो करना चाहिए। ट्रीटमेंट जो एक व्यक्तिगत देखभाल योजना को जोड़ता है, जो रेस्पिरेटरी केयर का प्राथमिक फोकस है और सबसे प्रभावी है।

इसे जरूर पढ़ें:आ गया अस्‍थमा का सबसे अच्‍छा और मुफ्त इलाज, आप भी करें ट्राई

अगर आप सांस से जुड़ी समस्‍याओं से परेशान रहती हैं तो इस थेरेपी का डॉक्‍टर की सलाह से इस्‍तेमाल कर सकती हैं। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock.com