योग का महत्व हम सभी जानते हैं और अगर ये सही तरह से किया जाए तो ये बहुत लाभदायक सिद्ध हो सकता है। कई बार हमें ये नहीं पता होता कि हमारे लिए बेहतर योगा पोज़ कौन सा हो सकता है। अगर महिलाओं की बात की जाए तो घर के काम, ऑफिस की भागदौड़ और बिजी लाइफस्टाइल के कारण कई बार हमारा स्वास्थ्य गड़बड़ा जाता है और शरीर के कई फंक्शन बिगड़े हुए से नजर आते हैं। ऐसे में क्यों न खास तौर पर हमारी सेहत का ध्यान रखने वाले योगा पोज़ फॉलो किए जाएं। 21 जून को पूरे विश्व में योग दिवस के रूप में मनाया जाता है और इस दौरान हम आपको तीन खास योगा पोजेस के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी हमेशा मदद कर सकते हैं। 

शिल्पा शेट्टी से लेकर मलाइका अरोड़ा तक कई सेलेब्स योगा के फायदे बताते हैं। ऐसे में क्यों न हम भी कुछ ऐसा ट्राई करें जिससे हमारा शरीर भी फिट रहे और अन्य कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं में ये फायदेमंद हों। चलिए जानते हैं ऐसे 3 योगा पोज़ जो महिलाओं की फिटनेस का ध्यान रखेंगे।

सेतुबंधासन

सेतुबंधासन उन महिलाओं के लिए बहुत लाभकारी साबित हो सकता है जिन्हें बैक पेन की समस्या रहती है। बैक पेन के कई कारण हो सकते हैं। कई बार ऑफिस की चेयर में एक साथ कई घंटों तक बैठना, सोते समय गलत पोजीशन में रहना। काम करते समय गलत तरह से उठ या बैठ जाना, इनमें से कुछ भी बैक पेन ट्रिगर कर सकता है। ऐसे में सेतुबंधासन हमारे लिए बहुत लाभकारी साबित हो सकता है।

sadhomukti asan for women

कैसे करते हैं सेतुबंधासन-

- अपनी पीठ के बल लेटें। घुटनों को मोड़ें। ध्यान रखें कि दोनों पैर एक दूसरे के बराबर रखे हों। एक पैर आगे या पीछे न हो। आपकी ऐड़ियों की पोजीशन ऐसी होनी चाहिए कि वो घुटनो के ठीक नीचे रहें।
- अपने हाथ सीधे रखें ।
- अब सांस छोड़ें और अपनी कमर को उठाएं। सिर या पैरों के पंजे नहीं उठेंगे। आपको शुरुआत लोअर बैक से करनी है फिर मिड बैक को उठाना है।
- इस पोज़ को एक मिनट तक होल्ड करें और फिर धीरे-धीरे अपने हिप्स को नीचे लाएं।

इसे जरूर पढ़ें- महिलाएं घर बैठे आसानी से कर सकती हैं ये 3 स्‍पेशल एक्‍सरसाइज, आज से ही करें

हलासन

ये एक और आसन है जो हमारी रीढ़ की हड्डी, गर्दन और पैरों सभी के लिए बहुत अच्छा है। हालांकि, इसे एकदम से करने की कोशिश न करें। जैसा कि आप तस्वीर में देख सकते हैं ये पोज करना इतना आसान भी नहीं है। इसका नाम हलआसन इसलिए है क्योंकि ये किसानों के हल की तरह दिखता है। पर इसे स्ट्रेचिंग का अच्छा तरीका माना जा सकता है और इसे करने के बाद आपका शरीर बहुत सारी स्पाइन से जुड़ी समस्याओं से निजात पा सकता है। इसे करने के बाद कम से कम 20-25 सेकंड होल्ड करें।

halasana pose for women

कैसे करते हैं हलासन-

- इसे करने से पहले ये ध्यान रखें कि आपका पेट खाली हो।
- अब अपने पैरों को एकदम सीधा कर पीठ के बल लेट जाएं। जितना पैरों को स्ट्रेच कर सकती हैं करें।
- इसके साथ ही अपने पैरों को उठाएं उन्हें एकदम सीधे 90 डिग्री के एंगल पर ले जाएं। इसी के साथ, पैरों को सिर के पीछे की ओर ले जाने की शुरुआत करें।
- ध्यान रखें ये एकदम से नहीं होगा, धीरे-धीरे करना है।
- हो सकता है पहली बार में आप इसे न कर पाएं, लेकिन धीरे-धीरे प्रैक्टिस कर आप इसे होल्ड करने लगेंगे।

इसे जरूर पढ़ें- उन स्पेशल पलों में इंटिमेसी बढ़ाने के लिए करें ये 5 सिंपल योगासन

Recommended Video

3. अधोमुख श्वानासन

आपके मसल्स को ठीक करने के साथ-साथ ये आसन डाइजेशन के लिए भी अच्छा है। अगर आपको बहुत लंबे समय से कब्ज बना हुआ है या पैरों और हाथों में अकड़न रहती है तो ये आसन मदद कर सकता है। इसका सबसे बड़ा लाभ ये है कि इस आसन को करना बहुत आसान है और ये आपके पूरे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है। इस आसन में शरीर का पूरा वजन हाथों और पैरों के पंजों पर ही केंद्रित होता है। बाकी पूरा शरीर हवा में होता है।

adhomukhsavasan for women

कैसे करते हैं अधोमुख श्वानासन-

- सबसे पहले अपने शरीर को हाथों और पैरों के पंजो के बल कर लीजिए। शुरुआत में घुटनों के बल।
- इसके बाद अपने घुटनों को भी हवा में उठा लीजिए। आपके पैरों और हाथों पर ही शरीर का पूरा वजन होना चाहिए।
- अब अपने हिप्स को उठा लीजिए। ये ऐसे होने चाहिए जैसे आपने उल्टा v बना रखा हो। इसके बाद अपने शरीर को स्ट्रेच कीजिए। ध्यान रहे घुटने या हाथ मुड़ने नहीं हैं।



ये तीनों आसन बहुत फायदेमंद हैं और अगर आपको हमेशा थकान बनी रहती हैं, मांसपेशियों में परेशानी है, बैक पेन है, डाइजेशन में समस्या है, गैस होती है, माइग्रेन है तो इन सभी मामलों में ये मददगार साबित हो सकते हैं। इन्हें ट्राई करें और अपना एक्सपीरियंस हमें कमेंट बॉक्स में बताएं। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

All Image Credit: Freepik/ yogajournal/ idyaz