Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    50+ हाउसवाइफ्स घर पर करें ये 3 आसान एक्‍सरसाइज

    अगर आप भी उम्र 50 के पार है तो जवां और फिट दिखने के लिए इस आर्टिकल में बताई एक्‍सरसाइज रोजाना जरूर करें। 
    author-profile
    Updated at - 2022-10-13,09:37 IST
    Next
    Article
    simple exercises for  plus housewives

    हेल्‍दी रहना और जवां दिखना, इन दिनों हर किसी के दिमाग में है और आम राय के विपरीत, आज की तेज भागती दुनिया में, हाउसवाइफ्स भी ख़तरनाक स्‍पीड से जीवन जीती हैं। एक हाउसवाइफ की जीवन शैली में हेल्‍थ और फिटनेस को जोड़ना मुश्किल है क्योंकि उनकी भूमिका उससे कहीं ज्‍यादा मुश्किल है जितना कि उसे माना जाता है। 

    यह जरूरी है कि हाउसवाइफ्स को अपनी हेल्‍थ का ध्यान रखना चाहिए क्योंकि उनके शरीर में भी बढ़ती उम्र के साथ कई फिजिकल बदलाव होते हैं। धीमी गति के मेटाबॉलिज्‍म के साथ, वजन धीरे-धीरे और निश्चित रूप से सूक्ष्म तरीकों से खुद को ज्ञात करना शुरू कर देता है। तनाव और जीवनशैली से संबंधित बीमारियां भी एक्‍सरसाइज की उपेक्षा करने वाली महिलाओं के समग्र स्वास्थ्य पर चिंता जताने लगती हैं।

    लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि घर पर किए गए आसान वर्कआउट न केवल वजन कम करने में मदद कर सकते हैं, बल्कि हाउसवाइफ्स के लिए स्ट्रेस बस्टर का भी काम कर सकते हैं।

    हाल के अध्ययनों से पता चलता है कि एक्‍सरसाइज करने से हमारे शरीर से 70% विषाक्त पदार्थ निकल सकते हैं। इस प्रकार बार-बार एक्‍सरसाइज करने से डिटॉक्सिफिकेशन में मदद करते हैं जो ब्रेस्‍ट कैंसर और ऑस्टियोपोरोसिस को रोकते हैं। घर पर एक साधारण वर्कआउट करके हाउसवाइफ्स बेहतर कार्डियोवैस्कुलर और श्वसन प्रणाली में लाभ उठा सकती है।

    आज हम 50+ हाउसवाइफ्स के लिए 3 ऐसी आसान एक्‍सरसाइज लेकर आए हैं जिसे वह आसानी से घर पर करके खुद को फिट रख सकती हैं। अगर आपकी उम्र भी 50 के पार है तो फिट और जवां दिखने के लिए इन एक्‍सरसाइज को अपने रुटीन में जरूर शामिल करें। 

    ब्रिज एक्‍सरसाइज

    bridge pose for housewife

    ब्रिज के साथ अपनी कोर और पोस्टीरियर चेन (आपके शरीर के पिछले हिस्से) को एक्टिव करें। वार्मअप के रूप में उपयोग करने के लिए यह एक बेहतरीन एक्‍सरसाइज है। इसे करने से वजन के साथ-साथ पेट की चर्बी तेजी से कम होती है। इसके अलावा, थाइज, पेल्विक और टांगों की मसल्‍स मजबूत होती हैं।

    विधि 

    • इसे करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं।
    • आपके घुटने मुड़े हुए और पैर फर्श पर सपाट और आपकी बाजुएं फैली हुई होनी चाहिए।
    • पैरों के माध्यम से धक्का और कोर को बांधना, अपने हिप्‍स को पूरी तरह से विस्तारित होने तक, अपने ग्लूट्स को शीर्ष पर निचोड़ते हुए, अपने निचले हिस्से को जमीन से ऊपर उठाएं।
    • धीरे-धीरे प्रारंभिक स्थिति में लौट आएं और दोहराएं।

    प्‍लैंक एक्‍सरसाइज

    plank exercise

    यह एक्‍सरसाइज न केवल आपकी मुख्य मसल्‍स यानि पेट और पीठ के निचले हिस्से को मजबूत और टोन करने में मदद कर सकती है। यह आपके संतुलन में भी सुधार कर सकती हैं। प्लैंक आपकी मुद्रा को सीधा करने में भी मदद कर सकती हैं, जोकि ऐसी महिलाओं के लिए फायदेमंद हो सकती है जो दिन के अधिकांश समय के लिए डेस्क की कुर्सी पर बैठती हैं।

    विधि

    • हालांकि प्लैंक करने के कुछ तरीके हैं। 
    • आप बाजुओं और पैरों को सीधा रखते हुए, इस तरह की स्थिति में आ जाएं जैसे कि आप पुश-अप कर रही हों।
    • एक अन्य विकल्प है जिसे करना आसान हो सकता है यदि आप एक बिगनर्स हैं। 
    • इसके लिए अपने हाथों पर खुद को सहारा देने के बजाय, अपनी बाजुओं को कोहनी से मोड़ें और अपने वजन को अपने अग्रभाग पर सहारा दें।
    • कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन सी एक्‍सरसाइज को चुनती हैं, अपनी पीठ को पूरी तरह से सीधा रखें और अपना सिर ऊपर रखें। 
    • आपके पूरे शरीर को जमीन के समानांतर एक सीधी रेखा बनानी चाहिए।

    स्‍कावट्स विद चेयर

    chair squats for women

    स्क्वाट्स एकसरसाइज न केवल आपके निचले शरीर को टोन करने में मदद करती हैं, बल्कि बैलेंस को बेहतर बनाने में भी मदद कर सकती हैं। जब आप शुरू करती हैं, तब आपको अपने हाथों और बाजुओं को अपने सामने फैलाकर एक्‍सरसाइज करना सबसे आसान लग सकता है।

    अपने पैरों और कोर को मजबूत करने के लिए स्क्वाट करें, जिससे रोजमर्रा की गतिविधियां आसान हो जाएंगी। आपके नीचे एक कुर्सी से शुरू करने से आपको उचित फॉर्म में महारत हासिल करने में मदद मिलेगी।

    विधि

    • अपने पैरों को कंधे-चौड़ाई के खोलकर कुर्सी के सामने खड़ी हो जाएं।
    • पैरों की उंगलियों को थोड़ा बाहर की ओर इशारा करते हुए रखें।
    • अपने घुटनों को मोड़ें, पीठ के निचले हिस्से को तब तक नीचे करें जब तक कि आपके हिप्‍स कुर्सी को न छू ले।  
    • आपकी बाजुएं आपके सामने फैली हुई होनी चाहिए। 
    • अपनी एड़ी के माध्यम से पुश करें और पहली पोजीशन में लौट आएं। 

    Recommended Video

    मेनोपॉज के दौरान एक महिला के शरीर में होने वाले परिवर्तन, जैसे हार्मोन उत्पादन में गिरावट, वजन बढ़ने और पेट की अतिरिक्त चर्बी के विकास का कारण बन सकते हैं। मेनोपॉज से गुजरते समय एक्टिव रहना आपको वजन बढ़ने से बचने में मदद कर सकता है। 

    इसे जरूर पढ़ें:सुबह बिस्तर पर बैठे-बैठे करें ये एक्सरसाइज, पेट और वेट दोनों होगा कम

    बदले में, अपने वजन को बनाए रखने से आपको मोटापे या अधिक वजन से जुड़ी कुछ स्थितियों से बचने में मदद मिल सकती है, जैसे टाइप 2 डायबिटीज, कुछ प्रकार के कैंसर और हार्ट रोग।

    इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही कमेंट भी करें। फिटनेस से जुड़े ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।

    Image Credit: Freepik & Shutterstock 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।