हर दिन कुछ सीखने के लिए एक नया दिन होता है और नवीनतम अपडेट, घटनाओं, जोखिमों, सामान्य मिथकों को जानने के लिए इंटरनेट सबसे तेज़ तरीका है। ज्‍यादातर महिलाए खुद को फिट रखने के लिए फिटनेस टिप्‍स इंटरनेट की मदद से लेती हैं। लेकिन कभी-कभी गलत चीजों का पता लगाना मुश्किल होता है। यह वास्तव में आपकी फिटनेस और हेल्‍थ बुरा असर कर सकता है। डेविड लॉयड क्लब तलवलकर्स फिटनेस मैनेजर अजिंक्य चव्हाण ने हर जिन्दगी को कुछ ऐसे ही आम फिटनेस मिथ के बारे में बताया है जो अक्‍सर हममें से ज्‍यादातर लोग अपनाते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: Weight Loss Tips: ये 3 टिप्स आजमाएं शादी से पहले अपना वजन घटाएं

fitness myths and facts inside

मिथ: खाली पेट एक्‍सरसाइज करने से फैट तेजी से बर्न होगा।

फैक्‍ट: खाली पेट रहना फैट बर्न करने का सबसे अच्छा तरीका नहीं है। आपकी बॉडी आपकी मसल्‍स को ईंधन में बदल देती है, बदले में, आप कम एनर्जी देंगे तो आप डिहाइड्रेशन और हल्‍का-हल्‍का सिर में दर्द का कारण बनता है।

मिथ: वेट लॉस के लिए बॉडी को डिटॉक्स करना बेहद जरूरी है।
detox fitness myths health

फैक्‍ट: यह बात सही है लेकिन इसे सही तरीके और ए‍क विशिष्‍ट पीरियड्स के लिए ही किया जाना चाहिए। लंबे समय तक बॉडी को डिटॉक्‍स करने से मसल्‍स को नुकसान हो सकता है और जब आप डिटॉक्‍स शुरु करेंगे तो आपकी बॉडी तुलना में क‍म फिट होगी।

इसे जरूर पढ़ें: महिलाएं ये '1 एक्‍सरसाइज' करेंगी तो वजन होगा कम और हड्डियां बनेंगी मजबूत

मिथ: प्रोटीन पाउडर स्टेरॉयड है।

फैक्‍ट: यह फिटनेस फ्रीक लोगों के बीच सबसे आम मिथ है। जबकि सच्‍चाई यह है कि वे प्रोटीन पनीर के बाइ-प्रोडक्‍ट के रूप में बनाए गया प्रोटीन का मिश्रण है। इस प्रकार प्रोटीन पाउडर नेचुरल पाउडर है जो मसल्‍स को फायदा पहुंचाने में हेल्‍प करता है और साथ ही आपको वेट लॉस में भी हेल्‍प करता है।

मिथ: नो रेस्ट डे
rest day fitness health

फैक्‍ट: आपकी बॉडी एक मशीन की तरह है, जिस तरह किसी भी मशीन को अगर आप रेगुलर इस्‍तेमाल करती है, तो उसकी दक्षता कम होने लगेगी। बॉडी का काम भी बिल्कुल इसी तरह है। एनर्जी से लेकर थकान को रिस्‍टोर करने के लिए बॉडी और उसकी मसल्‍स को उचित आराम की जरूरत होती है। इसलिए, जब हम बॉडी को सही आराम देते हैं तो यह उचित एनर्जी रिस्‍टोर होती है और आपको फिर से वर्कआउट करने में हेल्‍प मिलती है।

मिथ: वेट लॉस के लिए कार्डियो है सबसे ज्‍यादा फायदेमंद

फैक्‍ट: कई महिलाओं के मन में यह मिथ होता है कि सिर्फ कार्डियो ही वेट लॉस करने में हेल्‍प करता है। हालांकि यह बात सही है कि कार्डियो वेट लॉस हेल्‍प करता है लेकिन इससे हमारे मसल्‍स भी लूज होने लगते हैं, जो वेट लॉस का सही तरीका नहीं है। इसके अलावा, वेट लॉस और मसल्‍स पाने के लिए वेट ट्रेनिंग भी उतना ही महत्‍वपूर्ण और जिम्‍मेदार है। आप फैट को कम करना चाहते हैं ना कि मसल्‍स का, तो यह आपको मजबूत रखता है। 
अब तो आपको समझ में आ गया होगा कि फिटनेस से जुड़े इन मिथ से आपकी हेल्‍थ और फिटनेस को कितना नुकसान हो सकता है। इसलिए ऐसे किसी भी मिथ आंख मूंदकर भरोसा ना करें।