• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल में कैसे कराएं अपने बच्चे का एडमिशन

साल 2022- 2023 के सत्र से लड़कियां भी राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल में एडमिशन ले सकती हैं। ऐसे में जानें क्या है मिलिट्री स्कूलों का दाखिले का पूरा प्रोसेस।
author-profile
Published -02 Aug 2022, 19:54 ISTUpdated -02 Aug 2022, 20:09 IST
Next
Article
national military school

सालों से मिलिट्री स्कूल्स अपने अनुशासन और बेहतर एजुकेशन के लिए जाने जाते हैं। ऐसे में वो छात्र- छात्राएं जो सेना में अफसर बनना चाहते हैं, उनके लिए मिलिट्री स्कूल सबसे बेहतर होते हैं। हालांकि जानकारी के अभाव के चलते, आम लोगों को इन स्कूलों में एडमिशन लेने के प्रोसेस के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती है। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आखिर कैसे और कितनी फीस में आप भारत के राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूलों में अपने बच्चे का दाखिला करा सकते हैं। 

भारत में कुल कितने मिलिट्री स्कूल हैं?

how to get admission in national military school in india

भारत में कुल 5 मिलिट्री स्कूल हैं। इन स्कूलों की शुरुआत आजादी के पहले किंग जॉर्ज रॉयल इंडियन मिलिट्री स्कूलों के से शुरू की गई थी। लेकिन साल 1966 में इन स्कूलों का नाम बदलकर ‘मिलिट्री स्कूल’ कर दिया गया।  इन स्कूलों में सेना अधिकारियों और सिविलियन्स के बच्च पढ़ सकते हैं। 

भारत के 5 मिलिट्री स्कूल-

  • राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, बेंगलुरु (कर्नाटक)
  • राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, अजमेर (राजस्थान) 
  • राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, बेलगांव (महाराष्ट्र)
  • राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, चैल (हिमाचल प्रदेश)
  • राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, धौलपुर (राजस्थान)

मिलिट्री स्कूल में कैसे लें एडमिशन?

Who Can Join Military School In India

मिलिट्री स्कूलों में एडमिशन लेना इतना भी आसान नहीं है। बता दें कि इन स्कूलों में 70 % बच्चे ऐसे चयनित किए जाते हैं, जिनके माता-पिता पहले ही सेना से जुड़े हुए हों। ऐसे में केवल 30 % बच्चों के पास ही यह अवसर होता है कि वो मिलिट्री स्कूल की परीक्षा क्वालीफाई कर इन स्कूलों में एडमिशन लें। 

इन स्कूलों में बच्चों को सेना के लिए तैयार किया जाता है, ताकि बच्चों को सेना में जाने के लिए प्रेरित किया जाए। 

मिलिट्री स्कूल में एडमिशन के लिए देना होगा एंट्रेंस एग्जाम

Military School Admission Process

मिलिट्री स्कूलों में एडमिशन लेने के लिए हर साल प्रवेश परीक्षा ली जाती है, जिसके जरिए छात्रों का चयन किया जाता है। इन स्कूलों में कक्षा 6 और कक्षा 9 में एडमिशन के लिए परीक्षाएं होती हैं। 

राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल Age Limit

मिलिट्री स्कूल में दाखिला लेने के लिए age limit  तय की गई है। कक्षा 6 में प्रवेश के लिए बच्चे की उम्र 10 से 12 साल होनी चाहिए, वहीं कक्षा 9 में एडमिशन के लिए बच्चे की उम्र 13 से 15 साल के बीच होनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें- जानें भारत के टॉप 10 महिला कॉलेज के बारे में

राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल की फीस

admission process in national military school in india

राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल की फीस सैनिक स्कूल की तुलना में कम होती है, लेकिन सिविलयन के लिए यहां की फीस ज्यादा है। 

  • OR  के बच्चे- 12,000 रुपये 
  • JCOS  के बच्चे- 18,000 रुपये
  • अफसर के बच्चे - 32,000 रुपये
  • सिविलियन के बच्चे- 51,000  रुपये

तो ये थी राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल में एडमिशन से जुड़ी सभी जानकारियां, आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी के साथ।

Image Credit- jaran and wikipedia

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।