शादी की तैयारियों में महिलाएं इतनी व्यस्त हो जाती हैं कि खुद का ख्याल रखना तक भूल जाती हैं। खाने-पीने से लेकर आराम करने तक का वक्त उनके पास नहीं होता। इस दौरान वह कभी ब्रेकफास्ट स्किप कर जाती हैं तो कभी डिनर। बाहर का खाना और समय पर खाना नहीं खाने की वजह से ब्लोटिंग की समस्या शुरू हो जाती है। जी हां, कई बार यह समस्या नींद पूरी नहीं होने की वजह से भी होने लगती है।

ब्लोटिंग यानी पेट फूलने की समस्या। अक्सर यह देखा गया है कि हम जब कुछ खाते हैं तो पेट हमेशा फूला-फूला लगता है। यही नहीं खाने के बाद हमेशा एसिडिटी, कब्ज आदि की समस्याएं भी बनी रहती हैं। इसकी वजह से आपका वजन रातभर में भी बढ़ जाता है और खुद को कंफर्टेबल नहीं पाते। अगर आप भी इस तरह की समस्याओं से परेशान हैं तो आपको अपनी लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करने की आवश्यकता है। वहीं कुछ चीजों को अपनी डाइट में शामिल करने से पेट फूलने की समस्या से राहत पा सकती हैं।

सौंफ की चाय

fennel tea

सौंफ आंत में अम्लता को कम करने में अद्भुत काम करती है। सौंफ की चाय बनाने के लिए पानी में 1 चम्मच सौंफ डाल दें और उसे दो से तीन मिनट तक उबलने दें। अब इसमें पुदीने के पत्तों को मिक्स करें और उबाल आने दें। सौंफ की चाय बनकर तैयार है, दिन में 2 से 3 बार रोजाना इसे पिएं। अगर आपके पास पुदीना के पत्ते नहीं हैं तो इसमें 1 चम्मच जीरा और 1 चम्मच साबुत धनिया मिक्स कर सकते हैं। सौंफ गैस और ब्लोटिंग को कम करने में मदद करती है और तुरंत राहत देती है।

कैस्टर ऑयल पैक

swati bathwal

ऐंठन से राहत पाने के लिए कैस्टर ऑयल का यह देसी तरीका आजमाया जा सकता है। खासकर तब जब आपको पेट फूलने की समस्या हो। नाभि के एरिये में कैस्टर ऑयल लगा लें और एक सूती कपड़े से पेट को बेल्ट की तरह बांध लें। जिस कपड़े को पेट बांधने के लिए आप उपयोग करने वाले हैं उसे पहले 10 से 15 डिग्री के तापमान पर ठंडा कर लें। अब आधे घंटे के लिए पेट को बांधकर छोड़ दें। वहीं इस प्रक्रिया को खाने के तुरंत बाद नहीं बल्कि 2 घंटे बाद करें। इसके साथ ही कपड़े को अधिक टाइट ना बांधे, कपड़े को बांधने के बाद आप नॉर्मल काम या फिर टहल सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: बेहतर स्किन के लिए ब्यूटी सप्लीमेंट लेने का बना रही हैं मन, तो जान लीजिए यह बातें

प्रोबायोटिक ड्रिंक

probiotic drink

समय पर खाना नहीं खाने या फिर बाहर का खाना खाने से आंतों के बैक्टीरिया में कोलोनिस कम होते हैं। जिसकी वजह से पेट फूलने की समस्या शुरू हो जाती है। ऐसे में बेहतर है कि आप अपनी डाइट में राइस वॉटर, छाछ, दही जैसे प्रोबायोटिक सप्लीमेंट को शामिल करें। वहीं रॉ किमची, फर्मेंटेड सलाद जैसी चीजों को खाने से स्थिति और खराब हो सकती है, इसलिए इन चीजों की जगह आप प्रोबायोटिक ड्रिंक शामिल करें। इससे पेट दर्द या फिर पेट फूलने जैसी समस्या से राहत मिलेगी।

रोजाना मेडिटेशन करें

meditaion daily

रिसर्च के अनुसार स्ट्रेस ब्लोटिंग की समस्या को बढ़ाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि हमारे शरीर का हर एक हिस्सा एक दूसरे से जुड़ा हुआ है। जितना तनाव का स्तर बढ़ेगा उतना ब्लोटिंग की समस्या बढ़ने के चांस हैं। वहीं डाइट में अनहेल्दी चीजों को शामिल करने से आंत में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया कम हो जाते है जिसकी वजह से भी पेट फूलने की समस्या होती है। इसलिए बेहतर है कि खुद के लिए समय निकालें और खुले वातावरण में कुछ देर के लिए मेडिटेशन करें। मन को शांत रखने के लिए खाना या फिर डांस भी किया जा सकता है।

Recommended Video

पानी का सेवन

drink more water

जब हमारी बॉडी डिहाइड्रेट रहती है तो चटपटी चीजों की तरफ अधिक ध्यान जाता है। बार-बार जंक फूड खाने का मन करता है। वहीं डिहाइड्रेशन से डाइजेशन से जुड़ी दिक्कतें शुरू हो जाती हैं, जिससे कब्ज की समस्या पैदा हो सकती है। इस तरह की समस्यओं से निपटने के लिए जरूरी है कि आप अधिक से अधिक पानी का सेवन करें। हर एक घंटे में दो ग्लास पानी जरूर पिएं। चाय या कॉफी की जगह पेय पदार्थों का सेवन करें जैसे हर्बल टी, ग्रीन टी या फिर फ्रूट जूस आदि।

इसे भी पढ़ें: आर्गन ऑयल हेल्थ के लिए है बेहतरीन, जानें इसके फायदे

शराब का सेवन

शराब पीने से आपकी आंतों में सूजन की समस्या हो सकती है। शराब पीने से आप अपनी आंत को संवेदनशील बना देते हैं, जिससे सूजन हो सकती है। अधिकांश शराब में शुगर ड्रिंक या फिर आर्टिफिशियल स्वीटनर मिलाया जाता है, जिसमें सोर्बिटोल या मैनिटोल होता है, जो सूजन का कारण बन सकता है। यही नहीं शराब पीने से डिहाइड्रेशन होती है, जिसकी वजह से भी पेट फूलने की समस्या हो सकती है।

यह लेख आपको अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।