शादियों का सीजन है और ये वो समय है जिसमें घर का हर सदस्य किसी ना किसी काम में व्यस्त रहता है। शादी के समय घर पर ही बहुत सारी चीज़ें होती हैं जैसे खाने-पीने और सोने-जागने का शेड्यूल बदलना, तला-भुना खाना, जरूरत से ज्यादा स्ट्रेस लेना आदि। ऐसे समय में आपके शेड्यूल की गड़बड़ी के कारण यकीनन एसिडिटी होना स्वाभाविक है। एसिडिटी की समस्या दूल्हे-दुल्हन से लेकर परिवार वालों तक कई लोगों को हो सकती है। 

शादी के घरों में तो लगातार काम करने की वजह से भी परेशानी हो जाती है और ये भी एक कारण हो सकता है कि आपको इन दिनों में ज्यादा एसिडिटी और पेट दर्द महसूस हो। इस तरह अगर आपको परेशानी हो रही है तो इसके लिए क्या किया जाए? 

मिस इंडिया कंटेस्टेंट्स को ट्रेनिंग देने वाली एक्सपर्ट डायटीशियन अंजली मुखर्जी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस समस्या से निजात पाने के कुछ तरीके शेयर किए हैं। अंजली लगभग 20 सालों से इसी फील्ड में काम कर रही हैं और वो डाइट टिप्स एक्सपर्ट भी हैं। 

acidity and wedding

इसे जरूर पढ़ें- क्या वाकई हर 2 घंटे में थोड़ा-थोड़ा खाने से होता है फायदा? जानिए स्मॉल मील्स के बारे में

वेजिटेबल जूस करेगा एसिडिटी में मदद-

अंजली जी के मुताबिक आपके लिए शादी से पहले एसिडिटी से बचने का सबसे अच्छा तरीका ये होगा कि आप अपने शरीर को अल्कलाइन कर लें। इसके लिए आप 6 महीने, 1 महीने, 1 हफ्ते पहले से भी अपनी डाइट को सुधार सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले वेजिटेबल जूस को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। ध्यान रहे कि आप वेजिटेबल जूस पिएं ना कि फ्रूट जूस। वैसे तो फ्रूट जूस भी फायदेमंद होते हैं, लेकिन वेजिटेबल जूस ज्यादा असरदार होते हैं। 

किस तरह के वेजिटेबल जूस करें डाइट में शामिल?

कोशिश करें कि आप जिस भी वेजिटेबल जूस को पी रहे हैं उसमें सभी रंगों का मिश्रण हो। आप विटामिन-सी के लिए आंवला जूस भी ट्राई कर सकते हैं। अलग-अलग रंग के जूस पीने से शरीर में अलग-अलग तरह के न्यूट्रिएंट्स की भरपाई होती है। उदाहरण के तौर पर आंवला जूस हरे रंग का होगा, बीटरूट का जूस गहरे लाल रंग का होगा, टमाटर और गाजर का जूस अलग रंग का होगा। ये प्राकृतिक रंग नेचुरल न्यूट्रिएंट्स के बारे में बताते हैं। 

ये सारे रंग आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकते हैं। आप अपनी डाइट में जूस को लेते समय इन बातों का ध्यान रखें। 

  • दिन में 100-200 ml जूस काफी होगा। एक बार में नहीं पी सकते हैं तो दो बार ताज़ा जूस निकालें। 
  • जितनी जल्दी इसे अपनी डाइट में शामिल करना शुरू करेंगी उतना अच्छा होगा। 
  • सर्दियों में ठंडी तासीर वाली सब्जियां ना डालें। 
  • अगर आपको किसी तरह की सब्जी से एलर्जी है तो उससे दूर रहें।
  • जूस में शक्कर मिलाने से बचें। नेचुरल फ्लेवर ही आपके लिए सबसे अच्छा होगा।  
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Anjali Mukerjee (@anjalimukerjee)

 

इसे जरूर पढ़ें- अगर ज्यादा होती है एंग्जाइटी तो ये फूड्स कर सकते हैं आपकी मदद 

Recommended Video

स्ट्रेस से रहें दूर- 

शादी से पहले अगर बार-बार एसिडिटी हो रही है तो उसका बहुत बड़ा कारण ये भी हो सकता है कि आपको स्ट्रेस हो रहा हो। ऐसे समय में काफी भाग-दौड़ होती है और चिंता वाजिब होती है, लेकिन फिर भी कोशिश करें कि स्ट्रेस से दूर रहें और अपने खाने-पीने के रूटीन को पूरी तरह से बना कर रखें। खाने-पीने के रूटीन में बदलाव और स्ट्रेस ज्यादा परेशान कर सकता है।  

अगर आपको हेल्थ से जुड़ी कोई समस्या है जिसके कारण आप जूस नहीं पी सकते हैं तो ये बेहतर होगा कि आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें और एसिडिटी की समस्या के बारे में जानें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।