खट्टी गोभी (Sauerkraut) एक तरह की गोभी है, जिसे लैक्टिक एसिड के जरिए उगाया जाता है। सामान्य गोभी की तुलना में इसमें न्यूट्रिशन काफी ज्यादा होते हैं। यह कई गंभीर बीमारियों के खतरे को न सिर्फ कम करने में मदद करती है बल्कि सेहत और बालों के लिए भी फायदेमंद मानी जाती है। यह खास रूप से पौष्टिक है क्योंकि यह फर्मेंटेशन से होकर गुजरती है, यह एक प्रक्रिया है जिसमें गोभी पर सूक्ष्मजीव अपने नैचुरल शुगर को पचाते हैं और उन्हें कॉर्बन डाइऑक्साइड और ऑर्गेनिक एसिड में परिवर्तित करते हैं।

खट्टी गोभी फाइबर, विटामिन, और मिनरल्स से समृद्ध होती है। इसके जूज सलाद, नूडल्स, और स्नैक्स जैसी चीजों में अधिक उपयोग किया जाता है। इसमें मौजूद प्रोबायोटिक्स आपके शरीर में इन पोषक तत्वों को अधिक आसानी से अवशोषित करने में मदद करते हैं, जो कि कच्ची गोभी या कोलेसलाव की तुलना में खट्टी गोभी को अधिक पौष्टिक बनाता है। आइए जानते हैं खट्टी गोभी के हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में...

  • मधुमेह से बचाव

sauerkraut fermentation

फर्मेंटेशन फूड में फैटी एसिड, अल्कोहल, और लैक्टिक एसिड होने से स्वास्थ्य को बढ़ावा देने की क्षमता होती है। यह डायबिटीज और मेटाबॉलिक डिसऑर्डर की रोकथाम में मदद कर सकता है। खट्टी गोभी में पाए जाने वाली एंटीडायबिटिक प्रॉपर्टी मुख्य रूप से इन की एंटीऑक्सिडेंट एक्टिविटियों के कारण होती है। ऐसा माना जाता है कि यह डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारियों के खतरे को कम करने में सहायक है। 

  • हाई ब्लड प्रेशर की समस्या

sauerkraut benefits

खट्टी गोभी में मौजूद लो सोडियम सामग्री हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कम करता है। इसमें बायोएक्टिव कम्पाउंड में शक्तिशाली एंटीऑक्सडेंट और एथेरोस्क्लोरोटिक प्रभाव होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और हाई ब्लड प्रेशर को मैनेज करने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा इस खाद्य पदार्थ में मौजूद विटामिन और मिनरल्स दिल को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं।

  • पाचन तंत्र को करें दुरुस्त

sauerkraut at home

अगर आपको कब्ज या फिर दस्त जैसी समस्याएं रहती हैं तो खट्टी गोभी का सेवन कर सकती हैं। इसमें मौजूद प्रोबायोटिक्स और प्रीबायोटिक फाइबर की अधिकता से पाचन स्वास्थ्य में सुधार और पेट दर्द या फिर पाचन से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में मदद मिल सकती है। यह एक स्वस्थ और संतुलित आंत माइक्रोबायोम बनाने में भी मदद कर सकती है जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्वास्थ्य का समर्थन करने में मदद कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: क्रैनबेरी! सेहत के लिए है बेहद फायदेमंद, डाइट में जरूर करें शामिल

  • मेंटल हेल्थ

sauerkraut advantages

खट्टी गोभी फर्मेंटेशन कैमिकल जैसे कि बायोएक्टिव पेप्टाइड्स, लैक्टोफेरिन, और फ्लेवोनोइड जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध होती है जो आँतों के माइक्रोबायोटा में सुधार करने के लिए जाने जाते हैं। वहीं हेल्दी गट्स सीधे सकारात्मक मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित है, इस फाइटोकेमिकल युक्त भोजन का सेवन मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। इससे तनाव और डिप्रेशन की समस्या को दूर करने में मदद मिल सकती है।

 
  • वेट लॉस में मददगार

sauerkraut for weight loss

खट्टी गोभी में लो कैलोरी होती है इसके साथ ही न्यूट्रिशियन और फाइबर की मात्रा अधिक होती है। खट्टी गोभी में फाइबर के होने की वजह से पेट लंबे समय तक भरा रहता है और वजन बढ़ाने में सहायक मानी जाने वाली कैलोरी की मात्रा भी कम होती है। इसलिए वेट लॉस में यह काफी मददगार साबित हो सकती है। पोषक तत्वों से भरपूर खट्टी गोभी वजन घटाने के दौरान स्वास्थ्य को हेल्दी बनाए रखने में भी मदद करती है।

इसे भी पढ़ें: सेहत के लिए बेहद ही लाभकारी है कंटोला का सेवन करना

  • बढ़ा सकती है सुंदरता

sauerkraut a vegetable

खट्टी गोभी शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करती है, जिससे त्वचा समस्याएं भी दूर हो जाती हैं। इसमें मौजूद पोषक तत्व त्वचा ही नहीं बल्कि बालों की समस्याओं को दूर करने के लिए भी सहायक माने जाते हैं। इसके सेवन से त्वचा की रंगत न सिर्फ साफ हो जाएगी बल्कि मुंहासों की भी समस्या दूर की जा सकती है। हेल्दी बाल और त्वचा के लिए खट्टी गोभी का सेवन किया जा सकता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।