हड्डियों को मजबूत रखने के लिए कई लोग कैल्शियम की दवाई खाते हैं, लेकिन जरूरी नहीं कि सभी को इसका सेवन करना पड़े। आप आयुर्वेद के मुताबिक भी अपनी डाइट में ऐसे फूड्स शामिल कर सकते हैं, जो कैल्शियम युक्त होते हैं। डॉक्टर दीक्षा भवसार ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर करते हुए बताया कि आप आयुर्वेदिक फूड्स से कैल्शियम का भी सेवन कर सकते हैं। शरीर को कैल्शियम मिलने से न सिर्फ हड्डियां मजबूत रहती हैं, बल्कि ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल रहता है। हमारी मसल्स को स्वस्थ रखने के लिए कैल्शियम और विटामिन डी की जरूरत होती है, तो चलिए जानते हैं कौन-से हैं वे फूड्स।

काले या सफेद तिल(Sesame Seeds)

 calcium food inside

काले और सफेद तिल में कैल्शियम की मात्रा काफी होती है, जो हड्डियों को मजबूत करने के साथ-साथ कॉलेस्ट्रोल लेवल भी सही करता है। तिल में फाइबर, प्रोटीन और विटामिन डी भरपूर मात्रा में होता है आपको इसका सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। काले या सफेद तिल को जैगरी और घी में मिलाकर आप इसके लड्डू बना सकते हैं, जो आपके शरीर में कैल्शियम को बढ़ाएगा। इतना ही नहीं तिल दांतों और मसूड़ों को भी स्वस्थ रखता है। आप एनर्जी बॉल्स के तौर पर तिल के लड्डू का सेवन कर सकते हैं। 

आमला

आमला में विटामिन सी, आयरन और कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है, जो बाल झड़ने, थायरॉइड, हड्डियों की समस्या से निजात दिलाने में कारगर होता है। डॉ दीक्षा ने बताया कि हार्मोन बेहतर रखने के लिए आपको आमला जरूर खाना चाहिए, इससे पीरियड्स डिले नहीं होते हैं और विटामिन डी की कमी नहीं होती है। आप आमला कच्चा जूस, पाउडर या शरबत जैसी चीजों का सेवन कर सकते हैं। डॉ दीक्षा ने बताया कि जिन लोगों को जोड़ों का दर्द है, उन्हें आमला नहीं खाना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: सुबह-सुबह कॉफी की जगह पिएं ये दालचीनी ड्रिंक, स्वास्थ रहेगा बेहतर

डेयरी प्रोडक्ट्स

 calcium food inside

कैल्शियम और प्रोटीन के लिए आप दूध, दही और घी का सेवन कर सकते हैं। दूध और घी के सेवन से डाइजेस्टिव सिस्टम अच्छा होता है, हड्डियां मजबूत होती हैं और मसल्स अच्छी बनती हैं। डेयरी प्रोडक्ट्स में पोटेशियम, विटामिन डी, प्रोटीन भरपूर होते हैं। आप दूध, मिल्क शेक, दही, घी और अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन नियमित रूप से करेंगे तो कैल्शियम की कमी कभी नहीं होगी।

हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी सब्जियों में विटामिन ए, बी और डी पाया जाता है, जिससे शरीर न सिर्फ चुस्त रहता है बल्कि हड्डियां भी मजबूत रहती हैं। अक्सर लोगों को बाल टूटने, झड़ने और शरीर में दर्द रहने की समस्या होती है, ऐसे में हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन जरूर करना चाहिए। डॉ दीक्षा ने बताया कि आप ब्रोकोली, मटर, बीन्स, पालक और सरसों की सब्जी का सेवन नियमित रूप से कर सकते हैं। अगर आपको गेहूं के अलावा अपनी डाइट में कैल्शियम शामिल करना है, तो रागी, जवार, बजार आदि की रोटी बनाकर खा सकते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: रात में सोने से पहले पियेंगी ये 3 तरह की चाय तो आएगी बहुत अच्छी नींद

Recommended Video

नट्स और ड्राई फ्रूट्स

 calcium food inside

नट्स और ड्राई फ्रूट्स डाइट में शामिल करने से आप शरीर को कैल्शियम दे सकते हैं। डॉ दीक्षा ने बताया कि आप बादाम, काजू और पिस्ता अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। रात को भिगोकर नट्स रखें और सुबह-सुबह खाली पेट इनका सेवन करें। अगर आपकी स्किन यूवी किरणों की वजह से बेजान और डार्क हो गई है, तो अपनी डाइट में नट्स और ड्राई फ्रूट्स को जरूर शामिल करें।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik