फलों का राजा आम सभी को बहुत पसंद होता है। गर्मियों के मौसम में रसीले आम को देखते ही खाने का मन ललचाने लगता है। निसंदेह विटामिन और आयरन से भरपूर आम खाना हमारी बॉडी के लिए फायदेमंद होता हैं। लेकिन मुझे इस बात को सुनकर तब बड़ा झटका लगा कि कुछ बीमारी के दौरान आम से दूरी बनाकर रखना बेहद जरूरी होता है, नहीं तो यह आपकी हेल्‍थ को नुकसान पहुंचा सकता है। और ऐसा ही कुछ मैंने महसूस भी किया। क्‍योंकि आम खाने से मेरी अर्थराइटिस की समस्‍या बहुत ज्‍यादा बढ़ गई थी।

शायद आपको भी सुनकर थोड़ी हैरानी हो रही होगी लेकिन यह सच है। मुझे रुमे‍टाइड अर्थराइटिस की प्रॉब्‍लम है, जिससे मैं सर्दियों के दिनों में बहुत ज्‍यादा परेशान रहती हूं। लेकिन इस बार मुझे गर्मियों में भी बोन्‍स में बहुत पेन और सूजन महसूस हुई। मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि ऐसा क्‍यों हो रहा है। तब मुझे मेरी पड़ोस में रहने वाली एक बुजुर्ग महिला ने बताया कि यह प्रॉब्‍लम आम खाने से हो रही हैं। पहले तो मुझे समझ नहीं आया कि ऐसा कैसे हो सकता है तब उन्‍होंने मुझे बताया कि आम का खट्टापन बोन्‍स में पेन का कारण बनता है और बहुत ज्‍यादा आम खाने से गैस की समस्‍या होती है जो बोन्‍स में दर्द और सूजन पैदा करती हैं। और मेरी भी यह गलती थी कि मैं रात के समय खाना ना खाकर अक्‍सर 2-3 बड़े-बड़े आम खाकर सो जाती थी। कहते हैं न अति किसी भी चीज की बुरी हो सकती हैं। ऐसा ही कुछ मेरे साथ भी हुआ। तब से मैंने आम खाना बिल्‍कुल बंद कर दिया और सच में मुझे काफी राहत महसूस हुई। लेकिन आम का लालच अभी भी मेरे मन से नहीं जाता है। इसलिए बहुत कभी-कभी थोड़ा सा खा लेती हूं। सिर्फ अर्थराइटिस में ही नहीं बल्कि कुछ ऐसी ही और भी बीमारियों है जिसमें आम खाने से बीमारी और भी ज्‍यादा बढ़ जाती है और आपकी हेल्‍थ खराब हो सकती है। आइए ऐसी 4 बीमारियों के बारे में जानें।

इसे जरूर पढ़ें: गर्मियों में वरदान है ताड़गोले का फल, देता है आपकी हेल्‍थ को ये 7 फायदे

अर्थराइटिस

arthritis mango side effects

इसके बारे में तो हम आपको बता ही चुके हैं कि अर्थराइटिस में आम खाने से प्रॉब्‍लम बढ़ जाती है। जी हां अर्थराइटिस के मरीजों को अपनी डाइट का विशेष ध्‍यान देना चाहिए, क्‍योंकि कुछ फूड्स ऐसे भी हैं जिनके सेवन से जोड़ों का दर्द बढ़ता है। उसमें से एक आम है, खासतौर पर खट्टा आम खाने से जोड़ों में दर्द की समस्‍या होने लगती है।

डायबिटीज

daibetes mango side effects

डायबिटीज की बीमारी में तो आम खाने के लिए मना करते ही है क्‍योंकि इस बीमारी आम में शुगर की मात्रा बहुत ज्‍यादा होने के कारण आम में शुगर लेवल बढ़ने लगता है, जिसके चलते आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। डायबिटीज में तो डॉक्‍टर भी बहुत ज्‍यादा मीठे फलों को खाने से मना करते हैं, खासतौर पर आम खाने के लिए तो बिल्‍कुल ही मना किया जाता है। 

स्किन को नुकसान

pimples problem mango

क्‍या आप भी गर्मियों में चेहरे पर फोड़े-फुंसियों और मुंहासों से परेशान रहती हैं तो बहुत ज्‍यादा आम खाने से बचें। जी हां आम की तासीर गर्म होने के कारण ज्‍यादा आम खाने से चेहरे पिपल्‍स की समस्‍या होती है। अगर आप चाहती है कि आपकी स्किन गर्मियों में बिलकुल साफ रहे तो आप आम कंट्रोल मात्रा में ही खाएं।

बढ़ाता है मोटापा

weight gain mango

जो महिलाएं मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं, उनको आम का सेवन बहुत ही सोच-समझकर करना चाहिए, क्योंकि आम खाने से आपका मोटापा बढ़ने लगता है। जी हां हालांकि आम एनर्जी देने वाला फूड है जो बॉडी को भरपूर मात्रा में शुगर उपलब्ध कराता है। लेकिन एक मीडियम साइज के आम में लगभग 150 कैलोरीज पाई जाती हैं और जरूरत से ज्‍यादा कैलोरी लेने से वजन बढ़ने लगता है।

पेट होता है खराब

अगर आपका पेट खराब रहता है तो आपको आम खाने से बचना चाहिए। ऐसे में आम खाने से आपका पेट और ज्यादा खराब हो सकता है। जी हां अगर आपको डाइजेशन प्रॉब्लम है तो आम का सेवन कम से कम करें। इसके ज्यादा सेवन से बचना चाहिए, क्योंकि ज्यादा आम खाने से लूज मोशन, पेट में आंव पड़ना जैसी बीमारी हो सकती है।

अब तो आपको समझ में आ गया होगा कि कुछ बीमारियों में आम खाना आपके लिए बिल्‍कुल भी अच्‍छा नहीं। अगर आपको भी इनमें से कोई बीमारी हैं तो आम खाने से परहेज करें।