एक अच्छी तरह से संतुलित आहार शरीर और दिमाग को मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए महत्वपूर्ण विटामिन, खनिज और पोषक तत्व प्रदान करता है। अच्छी तरह से खाने से कई बीमारियों और स्वास्थ्य जटिलताओं को दूर करने में मदद मिल सकती है, साथ ही स्वस्थ शरीर के वजन को बनाए रखने, ऊर्जा प्रदान करने, बेहतर नींद लेने और मस्तिष्क के कार्य में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

आयुर्वेद एक्सपर्ट डॉ. जैना विशाल पटवा बताती हैं, 'संतुलित आहार शरीर को कार्बोहाइड्रेट, वसा, प्रोटीन, विटामिन, खनिज और तरल पदार्थों का उचित अनुपात प्रदान करता है। वसा या कार्बोहाइड्रेट जैसे किसी भी आवश्यक मैक्रोन्यूट्रिएंट को खत्म नहीं करना महत्वपूर्ण है, लेकिन पोर्शन कंट्रोल करने के प्रति सचेत रहें।' 

शरीर के वजन को करे नियंत्रित

control body weight

जब आप पोषक तत्वों से भरपूर डाइट को अपने प्लान में शामिल करते हैं तो आप कैलोरी-डेंस फूड को बहुत कम खाते हैं। साबुत अनाज, जई, सब्जियां, फल, फलियां, और क्विनोआ जैसे कार्बोहाइड्रेट खाने से जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, शरीर को अधिक समय तक फुल रखते हैं। ये कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट्स टूटते हैं और ब्लड स्ट्रीम में लंबे समय तक पहुंचते रहते हैं, जिससे आपके मस्तिष्क को शुगरी स्नैक्स खाने की क्रेविंग नहीं होती।

इम्यूनिटी को बूस्ट करता है

boost immunity

संतुलित आहार लेते समय, आवश्यक पोषक तत्व प्रतिरक्षा प्रणाली में प्रमुख रोगाणु-विरोधी कोशिकाओं को बनाए रखने और वैस्कुलर फंक्शन इंप्रूव करने में मदद करते हैं। इम्यून सिस्टम ब्लड फ्लो पर बहुत अधिक निर्भर करता है, इसलिए बेहतर वैस्कुलर फंक्शन आवश्यक एरिया पर रोग से लड़ने वाली कोशिकाओं को जल्दी से उपलब्ध कराने में मदद करेगा। कुछ पोषक तत्वों की कमी प्रतिरक्षा प्रणाली के कार्य को ख़राब कर सकती है, जैसे कि विटामिन ए, बी-विटामिन, विटामिन सी, विटामिन ई, जिंक और आयरन। फलों और सब्जियों से भरा आहार संक्रमण से लड़ने वाली श्वेत रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है और आपको स्वस्थ रहने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें :ये 9 फूड आइटम्स कर सकते हैं आपकी हेल्थ को प्रभावित

एनर्जी बरकरार रखता है

more energy

हम जो भोजन करते हैं, उसका असर हमारी ऊर्जा पर पड़ता है। पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ पचेंगे और लंबे समय तक सिस्टम में रहते हैं। दूसरी ओर, आसानी से पचने योग्य भोजन (शर्करा/साधारण कार्बोहाइड्रेट) बहुत जल्दी पच जाता है, जिससे शरीर को बहुत कम समय में फिर से भूख लगने लगती है और आपकी ब्लड स्ट्रीम में एनर्जी का स्पाइक हाई और लो होता रहता है। हमें ऐसा भोजन करना चाहिए जिससे एनर्जी भी बरकरार रहे। प्रोटीन रिच फूड हमें अच्छे से तृप्त और संतुष्ट रखते हैं। अगर आप बार-बार स्नैकिंग से बचना चाहते हैं तो 3-4 घंटे में प्रोटीन को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में आहार में लेना चाहिए। वहीं आयरन रिच फूड हमारे मस्तिष्क को पूरे दिन काम करने के लिए भरपूर एनर्जी प्रदान करते हैं।

बेहतर नींद में मिलती है मदद

better sleep

अच्छी नींद हमारी मांसपेशियों को दिन की गतिविधियों से ठीक होने और रिप्लेनिश होने में मदद करती है। यह ब्रेन के साथ-साथ हमारे मूड को रिफ्रेश करती है। इसके बिना हम सुस्त महसूस करते हैं, ऊर्जा का स्तर कम रहता है, ध्यान और एकाग्रता का स्तर प्रभावित होता है, और अनहेल्दी फूड की क्रेविंग शुरू हो जाती है। अनहेल्दी खाने से बढ़ी हुई एसिडिटी हमारे डाइजेस्टिव हेल्थ को प्रभावित करती है, जिससे हमें रात को बेहतर नींद लेने में दिक्कत होती है। साथ ही हमें पेट भर नहीं खाना चाहिए। हममें से अधिकतर लोग ऐसा इसलिए करते हैं, क्योंकि वे दिनभर भूखे रहते हैं, जिससे वह रात को एक हैवी डाइट लेते हैं। शरीर को बड़ी संख्या में कैलोरी को पचाने में रातभर मेहनत करनी होती है, जो वो नहीं कर पाता और आपकी नींद प्रभावित होती है। 

इसे भी पढ़ें :Expert Advice : जानें कौन से सुपरफूड्स हैं आपकी रिप्रोडक्टिव हेल्थ के लिए बेहद खास

Recommended Video

मस्तिष्क होता है मजबूत

strong brain

हमारे मस्तिष्क से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ भी नहीं है, इसलिए हमें ऐसी बैलेंस डाइट लेनी चाहिए, जो हमारे मस्तिष्क को बेहतर तरीके से काम करने में मदद कर सके। हमें ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर आहार को लेना चाहिए। ओमेगा 3 फैटी एसिड कई महत्वपूर्ण लाभ प्रदान करते हैं, जैसे कि बेहतर याददाश्त और सीखने की क्षमता। सैल्मन, अखरोट, एवोकाडो और कीवी जैसे खाद्य पदार्थों में ये महत्वपूर्ण फैटी एसिड होते हैं। इसलिए अपने आहार में इस तरह के खाद्य पदार्थों को जरूर शामिल करना चाहिए।

अगर आप चाहते हैं कि आपको भी ये सभी फायदे मिलें तो अपने आहार को बैलेंस रखिए। एक बैलेंस्ड डाइट ही आपको स्वस्थ जीवनशैली प्रदान कर सकती है। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। हेल्थ से जुड़े ऐसे अन्य आर्टिकल के लिए पढ़ते रहें हरजिंदगी से।

Image Credit: freepik