खाने से जुड़ी बहुत सी अफवाहें हैं जिन पर हम सभी विश्वास करती हैं, लेकिन वास्‍तव में यह सही नहीं हैं। यहां ऐसे ही खाने से जुड़े कुछ मिथ के बारे में बताया गया है! जी हां कुछ चीजें ऐसी हैं जिन्हें आपको खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए, इस बारे में आपने अपनी लाइफ में कभी ना कभी जरूर सुना होगा। उनमें से ज्यादातर निश्चित रूप से सच होगी, लेकिन उनमें से कुछ मिथ भी है। आइए ऐसे ही फूड से जुड़े मिथ के बारे में जानते हैं जिन पर आपको पूरा भरोसा है।    

मिथ: गाजर में न्यूट्रीशन
carrot food myht in

सच: माना जाता है कि गाजर को कच्‍चा खाना पकी हुई गाजर की तुलना में ज्‍यादा पोषण देता है। लेकिन सच यह है कि गाजर को पकाने से उसके न्यूट्रीशन मूल्य कम नहीं बल्कि बढ़ जाते हैं। इस प्रोसेस में सेलुलर वॉल को तोड़ा जाता है जो मेन न्यूट्रिएंट को भुनाने के लिए है।

Read more: गर्मियों में रहना है कूल तो जरूर खाएं ये 7 सुपर फूड

मिथ: जितना कम कार्ब लेगी उतनी हेल्दी रहेगी।

सच: हकीकत यह है कि अपनी डाइट से कार्बोहाइड्रेट को पूरी तरह खत्म करने की बजाय, अपनी डाइट को विभाजित करें और हेल्दी कार्बोहाइड्रेट विशेष रूप से साबुत अनाज को अपनी डाइट में शामिल करें।

मिथ: कार्बोनेटेड ड्रिंक अच्छे नहीं होते

सच: सोडियम फ्री सेल्टज़र आपकी बॉडी पर बुरा असर किए बिना आपकी लालसा को शांत करता है। दूसरी ओर सोडा, अनहेल्दी है और इसे लेने से बचना चाहिए।

मिथ: फ्रोजन और कैन फ्रूट्स में फ्रेश वेजिटेबल की तरह पोषक तत्‍व नहीं होते है।

सच: 'ताजे फल और सब्जियां' लंबी यात्रा तय करने के बाद बाजार तक पहुंचते हैं, इसलिए वह उतनी फ्रेश नहीं होती है जितना तोड़ते समय होती है। इसके विपरीत, पैक की गई सामग्री बेहतर या अच्छी है क्योंकि यह कम से कम अपने पोषक तत्वों को सुरक्षित रखती है।

मिथ: डार्क चॉकलेट आपके लिए अच्छी है।
dark chocolate food in

सच: केवल डार्क चॉकलेट 70 प्रतिशत कोको या इससे ज्‍यादा होता है जो आपके लिए अच्‍छा होता है। बाकी सिर्फ कैंडी होती है।

मिथ: अगर आपको डायबिटीज है तो मीठे से पूरी तरह से दूर रहना चाहिए।

सच: हकीकत यह है कि डायबिटीज से ग्रस्त लोगों को अपने भोजन और स्नैक्स को इस तरह बैलेंस करना चाहिए कि यह आपको उचित मात्रा में कार्बोस, प्रोटीन, विटामिन और मिनरल मिल सकें।

मिथ: फैट फ्री और लो-फैट वाले फूड, फूल फैट से बेहतर होते है।

सच: कंपनियां अक्सर अपने हेल्दी प्रोडक्ट में फैट कम करने के लिए इसे दूसरे अनहेल्दी घटक जैसे स्वाद के लिए चीनी से बदल देती हैं, जिससे शायद ही कोई फर्क पड़ता हो।

मिथ: रेड वाइन ही एकमात्र शराब है जो आपके लिए अच्छी है।

सच: रेड वाइन को हेल्थ के लिए अच्छा माना जाता है लेकिन कई रिसर्च में यह पाया गया है कि इसमें इथेनॉल होता है जो हार्ट अटैक और स्ट्रोक में योगदान देने वाले क्लॉट को कम करने में हेल्प करता है, इसलिए इसे किसी सभी अन्य अल्कोहल की तरह बुरा ही माना जाता है।

मिथ: आर्गेनिक फूड खुद ही हेल्दी होते है।
healthy food myth in

सच: आर्गेनिक चॉकलेट, चॉकलेट ही होती है। आर्गेनिक कुकीज, क्रैकर्स, चिप्स और कैंडीज में नॉन-आर्गेनिक संस्करण की तरह शुगर, फैट और खाली कैलोरी की समान मात्रा होती है।

मिथ: खाने को माइक्रोवेव करने से उसके पोषण मूल्य कम हो जाते हैं।

सच: अगर आप थोड़ा से पानी का उपयोग और सब्जियों को कवर करती हैं, यह विटामिन और मिनरल को बरकरार रखने और सब्जियों को स्‍टीम करने का सबसे अच्‍छा तरीका है।

मिथ: वेजिटेरियन डाइट से वजन तेजी से कम होता है।

सच: क्‍योंकि आप मीट नहीं खा रही हैं सिर्फ इसलिए आपको वजन कम करने में हेल्‍प नहीं मिलती है। बल्कि वेजिटेरियन फूड आइटम्‍स में कुछ अनहेल्‍दी चीजें होती है जिसे आपको खाने से बचना चाहिए।

मिथ: आपको हर दिन 8 गिलास पानी से कम नहीं पीना चाहिए।

सच: यह एक बहुत ही आम मिथ है हालांकि आपको जब भी प्‍यास लगती है तभी पानी पीना चाहिए। साथ ही अपनी जगह, बॉडी, जलवायु और अन्य चीजों के आधार पर भी पानी पीना चाहिए।

मिथ: अंडे का पीला हिस्‍सा आपके कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता हैं।
egg food myth in

सच: एग यलों में आहार कोलेस्ट्रॉल होते हैं जिसमें सीरम कोलेस्ट्रॉल के साथ कुछ नहीं करना पड़ता है, जो आपके लिए वास्तव में हानिकारक है।
आपने इनमें से कौन से मिथ पर विश्वास किया था।

Read more: वर्किंग वुमेन के लिए रसोई के काम को आसान बनाने वाले जरुरी टिप्स