सर्दियों से पूरा उत्तर भारत ठिठुर रहा है और ये वो समय है जिसमें गर्म पानी से लेकर गर्म दूध तक सब कुछ अच्छा लगता है। सर्दियों के समय एक बात की समस्या सभी के साथ होती है और वो ये कि इस दौरान रसोई गैस जल्दी खत्म हो जाती है। इस दौरान सब्जी पकने में भी काफी समय लगता है और साथ ही साथ पानी गर्म करना, रोटियां बनाना और धीमीं आंच पर कुछ पकाना तो और भी ज्यादा गैस की खपत करवाता है। इन दिनों में रसोई गैस पर खाना बनाते हुए उसके सामने खड़े होना भी बहुत अच्छा लगता है और गर्माहट का अहसास देता है।

सर्दियों के समय में रसोई गैस जल्दी खत्म हो जाती है और दिन प्रति दिन महंगी होती रसोई गैस के कारण परेशानी ज्यादा बढ़ ही जाती है। ऐसे में क्यों ना हम कुछ ऐसे टिप्स के बारे में जानें जिनकी मदद से आप सर्दियों में रसोई गैस को थोड़ा बचा सकते हैं। तो चलिए आज आपको इसी बारे में बताते हैं।

1. बहुत मोटे तले के बर्तन का इस्तेमाल ना करें-

सबसे पहली टिप जिसका ध्यान आपको सर्दियों में रखना है वो ये कि अगर आप मोटे तले के बर्तनों का इस्तेमाल करते हैं तो सर्दियों में उसे गर्म होने में ज्यादा समय लगता है। हां, कुछ डिशेज पतले तले के बर्तनों में नहीं बन पाती हैं, लेकिन अगर आप रोजमर्रा का खाना बना रहे हैं तो पतले तले वाले बर्तन इस्तेमाल करें जिन्हें हीट होने में ज्यादा समय ना लगे। ये टिप सुनने में बहुत छोटी सी लगती है, लेकिन इससे काफी बचत हो सकती है।

saving gas in winter

इसे जरूर पढ़ें- आखिर क्यों होते हैं गैस सिलेंडर के नीचे की ओर छेद? जानिए सिलेंडर के बारे में कुछ अनोखे फैक्ट्स

2. प्रेशर कुकर का इस्तेमाल ज्यादा करें-

सर्दियों के समय प्रेशर कुकर का ज्यादा इस्तेमाल करना फायदेमंद साबित हो सकता है। दरअसल, प्रेशर कुकर स्मार्ट तरीके से खाना पकाते हैं। कम गैस में भी ये जल्दी गर्म हो जाते हैं और ऐसे में एलपीजी की बचत होती है। अगर आप कढ़ाई में सब्जी पकाती हैं तो उसे प्रेशर कुकर में पकाएं। ऐसा करने से कुकिंग गैस की बचत होगी। साथ ही प्रेशर कुकर में खाना बनाना आसान भी होता है।

3. खुले बर्तन में खाना ना पकाएं-

आप खुले बर्तन में खाना बिल्कुल भी ना पकाएं। स्टीम की वजह से कुकिंग ज्यादा जल्दी होती है और ये कुकिंग टाइम को कम करता है। अगर आप बिना लिड के खाना पकाएंगी तो स्टीम का इस्तेमाल नहीं हो पाएगा और खाना पकाने का समय भी काफी ज्यादा लगेगा। खाने को ढक कर पकाने से डिश का मॉइस्चर भी बना रहता है और इसलिए ये ज्यादा हेल्दी माना जाता है। पानी गर्म कर रही हों या फिर दूध को उबालना हो आप शुरुआत ऐसे ही करें।

lpg in winter

4. गैस बर्नर की सफाई जरूर करें-

आपके लिए ये बात जाननी बहुत जरूरी है कि अगर आप गैस बर्नर की सफाई ठीक से नहीं करेंगे तो गैस ज्यादा लगेगी। एलपीजी गैस का फ्लेम ब्लू यानी नीला होता है और अगर उसमें लाल, पीला या नारंगी फ्लेम दिख रहा है इसका मतलब है कि आपके बर्नर को सफाई की जरूरत है। आप इसे बर्नर क्लीनिंग किट या फिर बेकिंग सोडा और गर्म पानी से साफ कर सकते हैं। सफाई के बाद आप पाएंगे कि फ्लेम वापस से नीला हो गया है। 

5. गीले बर्तन गैस पर ना रखें- 

तुरंत धुला हुआ बर्तन अगर आप गैस पर रखेंगे तो पहले बर्तन हीट होगा फिर पानी सुखाएगा और फिर उसमें इतनी हीट बनेगी कि आप कुछ पका सकें। इसलिए ये जरूरी है कि आप बर्तनों को ठीक से पोंछकर ही गैस पर रखें। ये तरीका बर्तन को जल्दी हीट करेगा और आपका काम भी जल्दी हो पाएगा। 

save lpg in winter

6. लीक चेक करें- 

गैस पाइप, रेगुलेटर, बर्नर आदि को हमेशा चेक करते रहना अच्छा होता है। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो गैस पाइप की लीक आपको ज्यादा परेशान कर सकती है। इन्हें रेगुलर ठीक करवाने की जरूरत होती है और इसलिए आप समय-समय पर इनकी जांच करते रहें। ये किसी बड़े हादसे से भी आपको बचा सकती है और साथ ही साथ गैस की बचत भी कर सकती है। 

इसे जरूर पढ़ें- कुकिंग करते वक्त होने वाली इन गलतियों से खाने का टेस्ट हो सकता है खराब 

Recommended Video

7. खाने को पहले भिगोएं- 

सब्जी, चावल, दाल आदि अधिकतर लोग यूं ही गैस पर चढ़ा देते हैं, लेकिन राजमा और छोले की तरह अगर आप पहले इसे भी भिगो कर चढ़ाएंगे तो ये जल्दी पकेंगी। उदाहरण के तौर पर चावल और दाल पकाते समय उन्हें पहले आधे घंटे के लिए पानी में डालकर रख दें। ऐसे में इनका कुकिंग टाइम काफी कम हो जाएगा। 

ये सारे टिप्स सर्द मौसम में आपको एलपीजी गैस को बचाने में मदद करेंगे। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।