छोटे बच्चों के साथ ट्रैवल करना इतना भी आसान नहीं होता। ट्रैवलिंग के दौरान उन्हें संभालना कई बार बेहद मुश्किल होता है, तो कई बार उनके बीमार होने का भी खतरा बना रहता है। कुछ बच्चे नई जगहों पर जाकर व ट्रैवलिंग से भी परेशान हो जाते हैं, जिससे वह काफी चिड़चिड़े हो जाते हैं और रोने लगते हैं। उनके इस व्यवहार से पूरे ट्रिप का ही मजा किरकिरा हो जाता है। इसलिए अगर आप छोटे बच्चे के साथ ट्रैवलिंग कर रही हैं तो आपको हर छोटी से छोटी बात का ध्यान रखना होगा, ताकि नई जगह जाकर आपको बच्चों के साथ किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। तो चलिए आज हम आपको बता रहे हैं कि बच्चों के साथ ट्रैवल करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें-

इसे भी पढ़ें: फैमिली के साथ जरूर करें ये 4 रोड ट्रिप, रिश्तों में आएगी नई मिठास

पैक स्मार्टली

know about travelling with a baby inside

बच्चों के साथ ट्रैवल करते समय आपको पैकिंग पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए। छोटे बच्चों के साथ महज कपड़े पैक करना ही काफी नहीं है। आप डेली रूटीन में इस्तेमाल होने वाले बेबी केयर को भी बैग में रखें। इसके साथ-साथ शिशु की मेडिकल फाइल भी अपने साथ कैरी करें, ताकि किसी अप्रिय स्थिति में इसकी आपको जरूरत पड़ सकती है। अगर ट्रैवलिंग के दौरान बच्चे का वैक्सीनेशन करवाना होगा तो भी आपको इसकी जरूरत पड़ेगी। आप उसकी कुछ दवाईयां भी अपने साथ रखें। इसके अतिरिक्त आप अपने साथ बेबी फूड व बच्चे के कुछ खिलौने आदि जरूर पैक करें। कभी भी नई जगह से बेबी फूड न खरीदें। हो सकता है कि वहां पर आपको वह ब्रांड न मिले, जिसकी आपको जरूरत हो या फिर नई जगह पर मिलने वाले फूड से बच्चे को परेशानी हो जाए। इसलिए बच्चे के फूड को अपने साथ जरूर कैरी करें।

जरूरत का सामान

know about travelling with a baby inside

अगर आप बच्चे के साथ ट्रैवल कर रही हैं तो आपको यह भी देखना होगा कि आप कुछ ऐसा सामान जरूर कैरी करें, जिससे ट्रिप के दौरान आपको काफी आसानी हो। चूंकि बच्चा छोटा है और इसलिए वह ट्रिप में चल नहीं सकता और हरदम उसे गोद में लेना आपके लिए संभव नहीं होगा। इसलिए आप अपने साथ pram, baby stroller या बेबी कैरियर जरूर रखें। वहीं अगर आप रोड ट्रिप पर हैं तो आप बच्चों की कार सीट को जरूर अपने साथ कैरी करें। इससे बच्चे के साथ ट्रैवल करना आपके लिए काफी आसान हो जाएगा।

जब करें ट्रैवल 

know about travelling with a baby inside

अक्सर छोटे बच्चे लंबे सफर में काफी परेशान हो जाते हैं, इसलिए आप इस बात का ध्यान रखें कि सफर उनके लिए आरामदायक हो। इसके लिए आप एक छोटा बैग अपने साथ रखें। जिसमें आप डायपर, वाइप्स, उनके खाने का सामान व कुछ खिलौने अलग से रखें। अगर सफर लंबा है तो आप समय-समय पर उनके डायपर बदलें। गीले डायपर में बच्चा खुद को काफी अनकंफर्टेबल महसूस करता है और रोने लगता है। इसी तरह, सफर में उसका मन लगा रहे, इसके लिए आप उसके पंसदीदा खिलौने उसे खेलने के लिए दें। ट्रैवलिंग के दौरान भी आप बच्चे को अधिक से अधिक ब्रेस्टफीड ही कराने का प्रयास करें। यह बच्चे के लिए बेहद जरूरी है।

इसे भी पढ़ें: ट्रैवलिंग के दौरान पैसे बचाने में आपके काम आएंगे यह टिप्स

बेबी सिटर की मदद

know about travelling with a baby inside

अगर आप लंबे समय के लिए ट्रैवल कर रही हैं तो बेहतर होगा कि आप नई जगह पर लोकल बेबी सिटर की मदद लें। दरअसल, आजकल हर जगह बेबी सिटर्स आसानी से मिल जाते हैं। इसके लिए यकीनन आपको कुछ पैसे अतिरिक्त खर्च करने पड़ सकते हैं, लेकिन इस तरह आपका पूरा ट्रिप टेंशन फ्री होगा। ट्रैवलिंग के दौरान बच्चा आपके साथ भी होगा और आपको उसे बहुत अधिक संभालने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। इस तरह आप खुद भी ट्रिप को आसानी से एन्जॉय कर पाएंगी।